165 देशों में 7,965 मौतें: अमेरिका में 20% हो सकती है बेरोजगारी दर, लास एंजिल्स में खून की कमी; इजराइल में सैन्य भर्ती प्रक्रिया जारी

वॉशिंगटन. बुधवार सुबह दुनिया में कोरोना से संक्रमित लोगों का आंकड़ा 1,98,241 हो गया। 165 देश प्रभावित हैं। मरने वालों की संख्या 7,965 हो गई। 81,743 संक्रमित स्वस्थ भी हुए हैं। अमेरिका के वित्त मंत्री स्टीवन म्युचिन के मुताबिक, कोरोनावायरस का असर अमेरिका में रोजगार के अवसरों पर पड़ सकता है। स्टीवन ने बताया है कि अमेरिका में बेरोजगारी दर 20 फीसदी तक पहुंच सकती है। लास एंजिल्स के अस्पतालों में खून की कमी हो गई है। इसकी वजह रक्तदान करने वालों की कमी है। इजराइल संक्रमण रोकने के लिए हरसंभव प्रयास कर रहा है। लेकिन, उसने सैन्य भर्ती प्रकिया को स्थगित नहीं किया।

अमेरिका : रोजगार पर असर
अमेरिका में मंगलवार रात कोरोनावायरस के अर्थव्यवस्था पर असर को लेकर मीटिंग हुई। वित्त मंत्री स्टीवन म्युचिन ने रिपब्लिकन सीनेटर्स को बताया कि संक्रमण का खतरा इसी तरह बढ़ता रहा तो अमेरिका अर्थव्यवस्था की हालत 2008 की आर्थिक मंदी से भी बदतर हो सकती है। म्युचिन ने चेतावनी दी कि कोरोना की वजह से बेरोजगारी दर 20 फीसदी तक पहुंच सकती है। इसके पहले अमेरिकी मीडिया ने चेतावनी दी थी कि कोरोना का असर हेल्थ सेक्टर के साथ अर्थव्यवस्था को भी तबाह कर सकता है।

मंगलवार को जिनेवा एयरपोर्ट का रिसेप्शन एरिया बिल्कुल खाली नजर आया।

यूएन : सुरक्षा परिषद की सभी बैठकें रद्द

संयुक्त राष्ट्र ने इस हफ्ते प्रस्तावित सुरक्षा परिषद की सभी बैठकों को रद्द कर दिया है। सुरक्षा परिषद की अध्यक्षता फिलहाल चीन के पास है। चीन ही कोरोना वायरस से सबसे ज्यादा प्रभावित है। संक्रमण का पहला मामला भी यहीं सामने आया था। हालांकि, यूएन ने एक बयान में ये भी कहा है कि राजनयिकों और मीडिया के लिए विश्व संस्था खुली रहेगी।

आमतौर पर पर्यटकों से गुलजार रहने वाला मियामी बीच इन दिनों खाली नजर आ रहा है।

यूएस नेवी : मेडिकल शिप इस्तेमाल होंगे
अमेरिका में ज्वॉइंट चीफ्स ऑफ स्टाफ के चेयरमैन मार्क मिले जल्द ही एक बड़ा फैसला ले सकते हैं। देश में कोरोना संक्रमण के बढ़ते मामलों के देखते हुए अमेरिकी नौसेना के दो नेवी शिप हॉस्पिटल आम लोगों को हेल्थ फेसेलिटी दे सकते हैं। इनमें से एक शिप सैन डिायागो और दूसर नॉरफ्लॉक में तैनात है। बता दें कि दुनिया में किसी अन्य देश के पास अमेरिकी नेवी जैसे मोबाइल शिप हॉस्पिटल नहीं हैं। इनमें किसी फाइव स्टार होटल जैसी सुविधाएं और हर तरह के मेडिकल इक्युपमेंट मौजूद हैं। डिफेंस सेक्रेटरी मार्क एस्पर ने कहा कि अमेरिकी सेना ने हेल्थ डिपार्टमेंट को पांच लाख मास्क मुहैया कराए हैं।

स्कॉललैंड के स्टेनहाउसमियर में एक मेडिकल शॉप। यहां सैनेटाइजर और मास्क की मांग कई गुना ज्यादा हो गई है।

लास एंजिल्स : खून की कमी

सीएनए के मुताबिक, लास एंजिल्स में कोरोनावायरस के डर की वजह से लोग ब्लड डोनेट नहीं कर रहे हैं। इसकी वजह से यहां के ब्लड डोनेशन सेंटर्स में खून की कमी हो गई है। शहर की हेल्थ डायरेक्टर क्रिस्टियाना घाली ने कहा, “हर रोज की तुलना में रक्तदान करने वालों की संख्या साढ़े पांच हजार कम हो गई है। मैं साफ कर देना चाहती हूं कि ब्लड डोनेशन पूरी तरह सुरक्षित है।”

इजराइल : हेल्थ सेक्टर को मदद देगी सेना
टाइम्स ऑफ इजराइल के मुताबिक, इजराइली जल्द ही देश में मेडिकल फेसेलिटीज को मदद करने जा रही है। इसके लिए तमाम तैयारियां पूरी कर ली गई हैं। इसके लिए सेना ने एक आदेश भी तैयार कर लिया है जिस पर सरकार विचार कर रही है। मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक, इजराइल में संक्रमण छिपाने के कुछ मामले सामने आने के बाद संदिग्धों के फोन टैप किए जा रहे हैं। अगर हालात बिगड़ते हैं तो यहां नेशनल लॉकडाउन किया जा सकता है। इसकी जिम्मेदारी सेना संभालेगी।

इजराइल की राजधानी तेल अवीव में मंगलवार को सैन्य भर्ती प्रक्रिया में हिस्सा लेने आईं लड़कियां।

पाकिस्तान : हालात भयावह

जियो न्यूज के मुताबिक, पाकिस्तान में बुधवार सुबह तक कोरोनो संक्रमण के कुल 237 मामले सामने आ चुके हैं। दो लोगों की मौत हो चुकी है। दिक्कत ये है कि संक्रमण के संदिग्धों को क्वैरेन्टाइन या आईसोलेट करने की कोई व्यवस्था नहीं है। सिंध के कुछ स्कूलों में संदिग्धों को ठहराया जा रहा है। यहां एक ही हॉल में 58 संदिग्ध संक्रमित मौजूद हैं। सैनिटाइजेशन की कोई व्यवस्था नहीं है।

मंगलवार को पाकिस्तान के कराची में एक महिला की जांच करता मेडिकल स्टाफर।


Download Dainik Bhaskar App to read Latest Hindi News Today
मंगलवार को इजराइल के तेल अवीव में सैन्य भर्ती प्रक्रिया में हिस्सा लेने आईं लड़कियां। सेना ने यह प्रक्रिया रद्द नहीं की है।


from Dainik Bhaskar https://ift.tt/3din6wO

Comments

Popular posts from this blog

ट्रम्प की लोकप्रियता बढ़ रही; बिडेन 43% लोगों की पसंद तो ट्रम्प को 40% लोगों का साथ, जुलाई में यह अंतर 7% से ज्यादा था

ट्रम्प मेक अमेरिका ग्रेट अगेन के नारे के साथ इस साल चुनाव जीतना चाहते हैं, जिनपिंग चीन की इमेज सुधारने की कोशिश में हैं

फ्रांस में फिर एक दिन में 14 हजार से ज्यादा मामले सामने आए, ब्रिटेन में प्रतिबंधों का विरोध; दुनिया में 3.30 करोड़ केस