ट्रम्प बोले- 2 हफ्ते में संक्रमण से मौतों का आंकड़ा चरम पर पहुंच सकता है; व्हाइट हाउस ने 2 लाख के संक्रमित होने का अनुमान जताया

वॉशिंगटन. अमेरिका में कोरोनावायरस की स्थिति भयावह होतीजा रही है। बीते 24 घंटे में 518 लोगों की मौत हो गई।राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रम्प ने रविवार को व्हाइट हाउस में ब्रीफिंगके दौरान कहा कि अगले दो हफ्ते में मौतों का आंकड़ा अपनेचरम पर पहुंच जाएगा। वहीं, सोशल डिस्टेंसिंग की तारीख भी30 अप्रैल तक बढ़ा दी गई है। ट्रम्प ने मंगलवार को कोरोनाको लेकर सरकार की योजनाएं-रणनीति बता सकते हैं और कुछ अहम घोषणाएं भी कर सकते हैं। व्हाइट हाउस ने देश में 2 लाख लोगों के संक्रमित होने का अनुमान जताया है।

ट्रम्प के मुताबिक, ‘‘12 अप्रैल को ईस्टर है। ईसाइयों का यहबड़ा फेस्टिवल है। तब तक अमेरिका में मरने वालों की संख्यापीक पर पहुंच चुकी होगी। जब तक हम बीमारी से जीत नहींजाते, तब तक इससे खराब स्थिति नहीं होगी। मुझे उम्मीद हैकि इसमें जल्दी ही गिरावट आएगी।’’

शिकागो: कोरोना के चलते बिगड़े हालात पर जल्द काबू पाया जा सके, इसलिए लोग वॉलंटियर्स को खुलकर दान कर रहे हैं।

‘लोग गाइडलाइंस का पालन करें’
ट्रम्प ने कहा कि सबसे जरूरी यही है कि हर व्यक्तिगाइडलाइंस का पालन करे। उम्मीद है कि हम जून तकरिकवरी कर लेंगे। ट्रम्प ने पहले ईस्टर तक हालात सामान्यहोने की बात कही थी। राष्ट्रपति ने यह भी कहा कि संक्रमण को फैलने से रोकना जरूरी है, इसलिए सोशल डिस्टेंसिंग की समयसीमा 30 अप्रैल तक बढ़ाई जाएगी। आप बेहतर कर सकते हैं, इससे हम कोरोना की भयावहता से तेजी से निपट सकेंगे। अमेरिका में कोरोना के 1 लाख 42 हजार से ज्यादा मामले आ चुके हैं, 2400 से ज्यादा मौतें हो चुकी हैं।

अमेरिका के ग्रामीण इलाकों में ज्यादा खतरा
ग्रामीण इलाकों में कोरोनो महामारी शहरों के मुकाबले ज्यादा कहर बरपा सकती है। यहांपर्याप्त संख्या में डॉक्टर और अस्पतालनहीं हैं।महामारी का केंद्र न्यूयॉर्क शहर है। यहीं सबसे ज्यादा संक्रमित हैं। इसे अलावा अरकंसास, मिसिसिपी, जॉर्जिया और साउथ कैरोलिना जैसे मिडवेस्ट और साउथ के ग्रामीण अंचलों में भी कोरोना संक्रमण फैलने के संकेत मिले हैं।कोडिक इलाके के नेटिव एसोसिएशन के डायरेक्टर एलिस प्लेटनिकॉफ ने कहा, ‘‘कुछ क्षेत्रों में हमारी क्षमता सीमित होगी, न केवल उपकरणों के मामले में बल्कि कर्मचारियों में भी। जब कोरोनावायरस से संक्रमण के मामले बढ़ते हैं, तब हमारी चिंताबढ़ना लाजमी है।’’

अलास्का में 59,000 लोगों को मेडिकल फैसिलिटी की जरूरत
शुक्रवार को अलास्का में 85 मामले सामने आए और यहां कोरोना से पहली मौत भी हुई।विशेषज्ञों के मुताबिक, राज्य की 7.37 लाख जनसंख्या का 40 से 70% हिस्सा कोरोनावायरस की चपेट में आ सकता है। प्राथमिक रिपोर्ट के आधार पर 20% आबादी यानी 59 हजार लोगों के लिए चिकित्सा सुविधा की जरूरत होगी। अलास्का में 1500 बेड वाला जनरल हॉस्पिटल है। कुछ स्थानों पर नया मेडिकल सैटअप तैयार करने में दूसरी जगहों के मुकाबले वक्त ज्यादा लग सकता है।



Download Dainik Bhaskar App to read Latest Hindi News Today
न्यूयॉर्क की 7th एवेन्यू सड़क पर आमतौर पर खासी भीड़भाड़ होती है, लेकिन कोरोना के चलते यहां सन्नाटा है।


from Dainik Bhaskar https://ift.tt/2QWaCkJ

Comments

Popular posts from this blog

ट्रम्प की लोकप्रियता बढ़ रही; बिडेन 43% लोगों की पसंद तो ट्रम्प को 40% लोगों का साथ, जुलाई में यह अंतर 7% से ज्यादा था

ट्रम्प मेक अमेरिका ग्रेट अगेन के नारे के साथ इस साल चुनाव जीतना चाहते हैं, जिनपिंग चीन की इमेज सुधारने की कोशिश में हैं

फ्रांस में फिर एक दिन में 14 हजार से ज्यादा मामले सामने आए, ब्रिटेन में प्रतिबंधों का विरोध; दुनिया में 3.30 करोड़ केस