इटली के लोम्बार्डी ने चीन के वुहान को पीछे छोड़ा, यहां हर तीसरे दिन मौत का आंकड़ा दोगुना बढ़ रहा है, अब तक 3500 मौतें

मैड्रिड/लंदन/मिलान/ न्यूयॉर्क. इटली में पिछले 24 घंटे में 743 लोगों की जान गई है। इसके साथ ही कोरोना से होने वाली मौतों की संख्या 6,820 हो गई है। यहां लोम्बार्डी शहर कोरोनावायरस का नया एपिकसेंटर बन गया है। कोरोना से हुई मौत के मामले में लोम्बार्डी ने चीन के वुहान को पीछे छोड़ दिया है। चीन के हुबई प्रांत में सोमवार तक कोरोना से 3160 लोगों की जान गई थी। इनमें से करीब 2500 से मौतें अकेले वुहान शहर में हुई हैं। वहीं, लोम्बार्डी में अब तक करीब 3500 लोगों की जान जा चुकी है। अब दुनिया के किसी भी शहर में सबसे ज्यादा मौतें यहीं हो रही हैं। यहां हर तीसरे दिन मौत की संख्या दोगुना तेजी से बढ़ रही है।

लोम्बार्डी स्थित एक अस्पताल का आईसीयू सेंटर।

उम्मीद जगी: इटली में पहली बार कोरोना के नए मामले सिर्फ 8% बढ़े
इस संकट में इटली के प्रशासन ने एक अच्छी खबर दी है, वहां लॉकडाउन के प्रतिबंध कड़े करने के बाद से कोरोना के नए मामलों में थोड़ी सी कमी आई है। मंगलवार को कोरोना केस में सिर्फ 8% का इजाफा हुआ। सोमवार को भी सिर्फ 8% ही इजाफा हुआ था। यह इटली में 21 फरवरी को कोरोना से हुई पहली मौत के बाद से सबसे कम है।

मैड्रिड में फील्ड अस्पताल बनाने में जुटे आर्मी के जवान।

चिंता बढ़ी: मैड्रिड और लंदन में लोम्बार्डी से भी तेज मौतों की रफ्तार
लोम्बार्डी के बाद स्पेन के मैड्रिड और ब्रिटेन के लंदन अब कोरोना के बड़े सेंटर हैं। यहां कोरोना से मौतों का आंकड़ा काफी तेजी से बढ़ रहा है। हर दूसरे दिन इन शहरों में मौतों की संख्या दोगुनी बढ़ रही है। फाइनेंशियल टाइम्स की रिपोर्ट के मुताबिक लंदन में मौत का आंकड़ा दोगुना तेजी से बढ़ रहा है। यह ब्रिटेन के अन्य हिस्सों की तुलना में एक दिन आगे है। ब्रिटेन में मंगलवार को कोरोना से 87 लोगों की मौत हुई। इनमें से 21 मौते लंदन में हुई हैं। ब्रिटेन में एक हफ्ते में मौतें छह गुना बढ़ गई हैं।

ब्रिटेन में लॉकडाउन के अगले लंदन मेट्रो में इस तरह लोगों ने यात्रा की।
तस्वीर लंदन स्थित कंस्ट्रक्शन कंपनी की है। यहां लॉकडाउन के बावजूद लोग काम करने पहुंचे थे।

खराब होते हालात: स्पेन में कुल मौतों में से 57% मैड्रिड में हुई हैं
स्पेन में कोरोना से अब 2700 ज्यादा लोगों की जान जा चुकी है। 40 हजार से ज्यादा केस आ चुके हैं। स्पेन की आर्म्ड फोर्स ने नाटो से मानवीय मदद में सहायता मांगी है। अकेले मैड्रिड में कोरोना के अब तक 12352 केस आ चुके हैं। यहां 1535 लोगों की जान जा चुकी है। यह स्पेन की कुल मौतों का तकरीबन 57% है।

तस्वीर मैड्रिड की है। यहां रोजाना रात 8 बजे लोग खिड़कियों से बाहर आकर हेल्थ वर्कर्स के लिए ताली बजाते हैं।

सबसे तेज रफ्तार: अमेरिका में कोरोनावायरस के अब तक 53,852 केस आए, 728 मौतें हुईं
दुनिया में कोरोनावायरस के 30% केस अब अकेले अमेरिका में आ रहे हैं। कोरोना से सबसे ज्यादा मृत्युदर न्यूयॉर्क में है। ऐसे में आने वाले समय में न्यूयॉर्क दुनिया के बाकी शहरों को पीछे छोड़ सकता है। अमेरिका में कोरोनावायरस के अब तक 53,852 केस आए हैं, जबकि 728 मौतें हुई हैं। वहीं, दुनिया में कोरोनावायरस से 18,437 मौतें हुई हैं। 410,600 मामले आए हैं।

तस्वीर न्यूयॉर्क के सेंट्रल पार्क की है। यहां प्रशासन ने लोगों से घरों में रहने को कहा है। लेकिन लोग पार्क में अच्छे मौसम का मजा ले रहे हैं।


Download Dainik Bhaskar App to read Latest Hindi News Today
Coronavirus China Italy | China Italy Coronavirus Latest Updates: China Italy Lombardi COVID-19 Deaths Toll Vs China Wuhan Corona Cases Count Numbers Amid Virus Outbreak


from Dainik Bhaskar https://ift.tt/39d10sc

Comments

Popular posts from this blog

ट्रम्प की लोकप्रियता बढ़ रही; बिडेन 43% लोगों की पसंद तो ट्रम्प को 40% लोगों का साथ, जुलाई में यह अंतर 7% से ज्यादा था

ट्रम्प मेक अमेरिका ग्रेट अगेन के नारे के साथ इस साल चुनाव जीतना चाहते हैं, जिनपिंग चीन की इमेज सुधारने की कोशिश में हैं

फ्रांस में फिर एक दिन में 14 हजार से ज्यादा मामले सामने आए, ब्रिटेन में प्रतिबंधों का विरोध; दुनिया में 3.30 करोड़ केस