चीन के बाजारों में फिर कुत्ते, बिल्ली, चमगादड़ और खरगोश का मांस बिकना शुरू; संक्रमण के लिए इटली को दोषी ठहराया

बीजिंग.कोरोनावायरस चीन के वुहान से शुरू हुआ। फिर दुनिया को चपेट में ले लिया। 34 हजार से ज्यादा लोग मारे गए। चीन का दावा है कि उसने हालात पर काबू पा लिया है। शायद यही वजह है कि यहां फिर जीव-जानवरों के बाजार खुल गए हैं। कुत्ते, बिल्ली, चमगादड़ और बिच्छू खुले आम बिक रहे हैं। खून और गंदगीसे पटे पत्थरों पर मरे हुए खरगोश और बतख दिखती हैं। इनकी खाल उतार दी गई है। इन बाजारों को देखकर लगता है कि चीन ने कोरोनावायरस महामारी से कोई सबक नहीं सीखा है। अब भी स्वच्छता के लिए कोई मानक तय नहीं किए गए हैं।

चीन के डोंग्गूआन नगर में आम बीमारियों के इलाज के लिए छिपकली, बिच्छू और चमगादड़ बेचे जा रहे हैं।

फोटो लेने पर रोक
रविवार से गुइलिन प्रांत का बाजार खुल गया। भीड़ भी पहले जैसी ही है। लोगों को यकीन है कि कोरोना संक्रमण खत्म हो गया है और अब चिंता की कोई बात नहीं है। स्थानीय लोग इसे विदेशियों की समस्या मानते हैं। गुइलिन के डोंग्गूआन में मीट मार्केट पहले जैसा ही हो गया है। सिर्फ एक चीज बदली है। यहां गार्ड तैनात हैं जो तस्वीरें नहीं लेने देते।

दक्षिण-पश्चिम चीन के गुइलिन प्रांत में पिंजड़े में बंद कुत्ते। इनका मांस खुले बाजारों में बेचा जा रहा है।
इसी बाजार में बिल्लियां भी बेची जाती हैं।

लोगों को बताया- कोरोना तो इटली से आया
कोरोनावायरस का पहला मामला वुहान के एक बाजार से सामने आया था।कई हफ्तों तक अधिकारियों ने इसे दबाकर रखा। जब 33 साल के डॉ. लि वेनलियांग ने वायरस के बारे में दुनिया को जानकारी दी तो उन्हें गिरफ्तार कर लिया गया। पिछले हफ्ते संक्रमण से उनकी मौत भी हो गई। अब चीन सरकार यह साबित करने में जुटी है कि संक्रमण चीन से नहीं फैला। चीन के सोशल मीडिया प्लेटफार्म वीबो पर दावा किया जा रहा है किकोरोनावायरस पहली बार नवंबर में इटली में सामने आया था। इसके पहले, चीन के एक आर्मी अफसर ने अमेरिकी सेना पर आरोप लगाया था कि वो इस वायरस को चीन लेकर आई। चीन में अब सिर्फ वुहान ही ऐसा शहर है जहां, लॉकडाउन पूरी तरह से नहीं हटाया गया है। हालांकि, दावा ये है कि 8 अप्रैल को वुहान भी तमाम प्रतिबंधों और लॉकडाउन से बाहर आ जाएगा।



Download Dainik Bhaskar App to read Latest Hindi News Today
Meat markets open again in China, bats, dogs and cats are being sold on dirt-soaked ground


from Dainik Bhaskar https://ift.tt/3bCecZa

Comments

Popular posts from this blog

ट्रम्प की लोकप्रियता बढ़ रही; बिडेन 43% लोगों की पसंद तो ट्रम्प को 40% लोगों का साथ, जुलाई में यह अंतर 7% से ज्यादा था

ट्रम्प मेक अमेरिका ग्रेट अगेन के नारे के साथ इस साल चुनाव जीतना चाहते हैं, जिनपिंग चीन की इमेज सुधारने की कोशिश में हैं

इटली में लाॅकडाउन पालन कराने के लिए 8000 मेयर ने मोर्चा संभाला; सड़काें पर उतरे, फेसबुक से समझाया फिर भी नहीं माने ताे ड्राेन से अपमान