Posts

Showing posts from April, 2020

गवर्नर के दफ्तर में बंदूकें लेकर पहुंचे प्रदर्शनकारी, रोकने के लिए पुलिस को मशक्कत करनी पड़ी; लॉकडाउन खत्म करने की मांग कर रहे थे

Image
अमेरिका में लॉकडाउन के खिलाफ लोगों का विरोध तेज हो रहा है। मिशिगन की राजधानी लांसिंग में लोगों ने लॉकडाउन के खिलाफ गुरुवार को प्रदर्शन किया। यहां गर्वनर के दफ्तारकैपिटल बिल्डिंग परसैकड़ों लोग जुटे और नारेबाजी की। प्रदर्शनकारियों में से कुछ के पास से हथियार भी थे। ये गवर्नर ग्रेचेन व्हिटमर के लॉकडाउन के आदेश का विरोध कर रहे थे। गवर्नर ग्रेचेन ने यह आदेश 23 मार्च को कोरोना संक्रमण रोकने के लिए जारी किया था। इसमें लोगों के जरूरी कामों से इतर घरों से निकलने, सार्वजनिक समारोहों के आयोजन और स्थानीय अस्पतालों, मॉल या रेस्तरां जाने पर पाबंदी लगाई गई थी। बाद में आदेश को अप्रैल तक बढ़ा दिया गया था।इस बीच, सोशल मीडिया पर प्रदर्शन के कुछ वीडियो भी पोस्ट किए गए हैं, जिनमें प्रदर्शनकारियों के पास हथियार नजर आ रहे हैं। ट्विटर पर पोस्ट की गई तस्वीरों और वीडियो में पुलिसकर्मी प्रदर्शनकारियों को बिल्डिंग में प्रवेश करने से रोकने की कोशिश करते दिखाई दे रहे हैं।क्या है लोगों की नाराजगी की वजह?
गवर्नर ग्रेचेन ने संक्रमण के बढ़ते स्तर को देखते हुए इसे अप्रैल के अंत तक बढ़ा दिया गया। लोग इसी बात से नाराज हैं। …

अब तक 33 लाख 8 हजार मौतें, अमेरिका के मिशिगन में लॉकडाउन के विरोध में हथियारों के साथ प्रदर्शन

Image
दुनिया में अब तक कोरोना से 33 लाख लाख 8 हजार 231 संक्रमित मिले हैं। 2 लाख 34 हजार 105 मौतें हुई हैं और 10 लाख 39 हजार 195 लोग ठीक हुए हैं। अमेरिका इससे सबसे अधिक प्रभावित है। यहां पर 1 लाख 95 हजार 210 संक्रमित मिले हैं, 63 हजार 861 मौतें हुई हैं और 1 लाख 52 हजार 324 लोग स्वस्थ्य हुए हैं। अमेरिका में लॉकडाउन के खिलाफ लोगों का विरोध तेज हो रहा है। मिशिगन कीराजधानी लांसिंग में लोगों ने लॉकडाउन के खिलाफ गुरुवार को प्रदर्शन किया। यहां स्थित कैपिटल बिल्डिंग पर जुटे सैकड़ों प्रदर्शनकारियों में से कुछ के पास से हथियार भी थे। प्रदर्शनकारी गवर्नर ग्रेचेन व्हिटमर के लॉकडाउन के आदेश काविरोध कर रहे थे। यह आदेश 23 मार्च को जारी हुआ था। इस बीच, सोशल मीडिया पर प्रदर्शन के कुछ वीडियो भी पोस्ट किए गए हैं, जिनमें प्रदर्शनकारियों के पास हथियार नजर आ रहे हैं।
खाड़ी देशों में कोरोना भी संक्रमण बढ़ रहा है। इन देशों में सऊदी अरब और कतर संक्रमण से सबसे ज्यादा प्रभावित हैं। इन दोनों देशों में गुरुवार को जारी किये गये आंकड़ों के अनुसार सऊदी अरब में अब तक 22 हजार 753 मामले सामने आए हैं और 162 लोगों की जान गई थी। …

ट्रम्प ने कहा- कोरोना वायरस चीन की लैब से निकला, इसके सबूत हैं, लेकिन अभी ज्यादा नहीं बता सकता

Image
अमेरिका के राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रम्प ने गुरुवार को चीन पर फिर दुनियाभर में कोरोना वायरस फैलाने का आरोप लगाया। उन्होंने कहा, 'वायरस का वुहान इंस्टीटयूट ऑफ बायोलॉजी से कनेक्शन है। इसके हमारे पास सबूत हैं। कोरोना इसी लैब में तैयार किया गया।' हालांकि, उन्होंने इस बारे में ज्यादा बताने से इनकार कर दिया। कोरोना से दुनिया में 2.30 लोगों की मौत हो चुकी हैं।व्हाइट हाउस में प्रेस कॉन्फ्रेंस के दौरान ट्रम्प से वायरस के वुहान लिंक को लेकर सवाल किया गया तो उन्होंने कहा कि हां मेरे पास इसके सबूत हैं, लेकिन मैं इसके बारे में आपको बता नहीं सकता। दरअसल, मुझे इसकी इजाजत नहीं है।' ट्रम्प ने इस दौरान चीन पर नए टैरिफ लगाने की भी बात कही।वायरस पर अमेरिका और चीन आमने-सामनेदुनिया में कोरोना से अमेरिका सबसे ज्यादा प्रभावित है। यहां 10 लाख से ज्यादा लोग संक्रमित हो चुके हैं हौर 62 हजार से ज्यादा मौतें हो चुकी हैं। यही वजह है कि अमेरिका पर भारी दबाव है। अमेरिका ने पहले चीन की उस दावे को नकारा था, जिसमें कहा गया था कि कोरोना चीन के वाइल्डलाइफ मार्केट से निकला है।बाद में चीन का आरोप था कि यूएस मिलिट्र…

दुनिया में 32 लाख से ज्यादा संक्रमित और 2.23 लाख से ज्यादा मौतों के बावजूद 32 देश ऐसे, जहां कोरोनावायरस नहीं पहुंचा

Image
दुनिया में 32 लाख से ज्यादा लोगों को संक्रमण और 2.23 लाख से ज्यादा मौतों के बावजूद 32 देश ऐसे हैं, जहां कोरोनावायरस नहीं पहुंच पाया है। वहां कोरोना का एक भी मामला नहीं मिला है। हालांकि, उत्तर कोरिया पर संशय हो सकता है। 29 अप्रैल तक की स्थिति में 247 देशों में से 215 में कोरोना फैल चुका है। ताजा नाम तजाकिस्तान का है, जहां गुरुवार को पहला मामला सामने आया।9 देशों की आबादी एक लाख से ज्यादाजिन 32 देशों में कोरोना अभी तक नहीं पहुंच पाया है, उनमें से 9 देशों की आबादी एक लाख से ज्यादा है। सबसे ज्यादा 2.57 करोड़ आबादी उत्तर कोरिया की है। हालांकि, वह चीन के करीब है और वहां की ज्यादा जानकारी बाहर नहीं आ पाती। ऐसे में वहां के आंकड़ों की जानकारी को लेकर संशय की स्थिति है। सबसे कम आबादी कोकोस आइलैंड की है।ज्यादा आबादी वाले देशउत्तर कोरिया- जनसंख्या 2.6 करोड़तुर्कमेनिस्तान-जनसंख्या 60 लाखलीसोथो-जनसंख्या 21.4 लाखकोमोरोस-जनसंख्या 8.7 लाखमाइक्रोनेशिया-जनसंख्या 5.5 लाखकम आबादी वाले देशकोकोस आइलैंड- जनसंख्या 596तोकलाऊ- जनसंख्या 1357क्रिसमस आइलैंड- जनसंख्या 1402नियू आइलैंड- जनसंख्या 1626सेंट हेलेना- जनसंख…

अध्यक्ष बदलने के बाद बदले लेबर पार्टी के सुर, कहा- कश्मीर भारत और पाकिस्तान का मामला; ब्रिटेन की कोई भूमिका नहीं

Image
लेबर पार्टी के अध्यक्ष बदलने के बाद उसके सुर भी बदल गए हैं। हाल ही में अध्यक्ष बने केर स्टार्मर ने कश्मीर पर अपनी पार्टी के स्टैंड को बदल दिया है। स्टार्मर ने कहा है कि कश्मीर भारत और पाकिस्तान के बीच का मुद्दा है। इसमें ब्रिटेन की कोई भूमिका नहीं है। इससे पहले लेबर पार्टी के अध्यक्ष जेरेमी कार्बिन लगातार भारत पर कश्मीर में मानवाधिकार हनन का आरोप लगाते रहे हैं। हाल में हुए चुनावों में बोरिस जॉनसन से हारने के बाद पार्टी ने अध्यक्ष और कश्मीर पर स्टैंड दोनों बदल दिया है।लेबर पार्टी के मुखपत्र में दी जानकारी
स्टार्मर ने लेबर फ्रेंड्स ऑफ इंडिया (एलएफआईएन) की एग्जिक्यूटिव टीम से मीटिंग के बाद घोषणा की कि कश्मीर, भारत और पाकिस्तान के बीच का मामला है। ब्रिटेन का इसमें कोई रोल नहीं है और यही लेबर पार्टी का स्टैंड है। लेबर पार्टी के मुखपत्र लेबरलिस्ट में स्टार्मर ने लिखा, "हमें उप-महाद्वीप के मुद्दों की वजह से यहां के समुदायों को विभाजित करने की अनुमति नहीं देनी चाहिए।" भारत में कोई भी संवैधानिक मुद्दा भारतीय संसद का मामला है। कश्मीर भारत और पाकिस्तान के बीच का मुद्दा है और इसे शांति …

आरोग्यसेतु ऐप से भारतीय जवानों को निशाना बनाने की ताक में पाकिस्तानी जासूस, सेना ने जारी किए निर्देश

Image
पाकिस्तान अपनी नापाक हरकतों से बाज नहीं आ रहा है। अब वह जवानों के मोबाइल हैक करके जानकारियां निकालना चाहता है। इसके लिए वह आरोग्यसेतु ऐप का इस्तेमाल कर रहा है। इसे लेकरभारतीय सेना की ओर से चेतावनी जारी की गई है। इसमें बताया गया है कि पाकिस्तान आरोग्यसेतु ऐप की डिजाइन के फेक मैलिसियस (वायरस युक्त) एप्लिकेशन बना रहा है, ताकि वह भारतीय जवानों के फोन हैक कर सके।
सेना ने कहा कि पाकिस्तान ने आरोग्यसेतु.एपीके नाम का फेक ऐप विकसित किया है। यह ऐप भारतीय जवानों के वॉट्सएप ग्रुप मेंपाकिस्तान के इंटेलीजेंस ऑपरेटर्स की ओर से भेजा गया है।आर्मी के वरिष्ठ सूत्रों ने न्यूज एजेंसी एएनआई को बताया कि पाकिस्तानी एजेंसियां भारतीय नामों के सोशल मीडिया अकाउंट बनाकर भारतीय सुरक्षाकर्मियों को निशाना बनाती है।‘अनुष्का चोपड़ा’ के नाम से बनाफर्जी अकाउंट
सूत्रों ने बताया कि पाकिस्तानी इंटेलीजेंस ने ‘अनुष्का चोपड़ा’ नाम से फर्जी अकाउंट बनाया है। इससे भी भारतीय सुरक्षा कर्मियों को मैलिसियस एप्लीकेशन भेजे जा रहे हैं। सेना ने अपनी चेतावनी में जवानों को ऐप डाउनलोड करते समय अधिक सतर्क रहने को कहा है। सेना ने कहा है कि आरो…

ग्रीस के तट से गायब हुआ कनाडा की सेना का हेलिकॉप्टर, छह जवान थे सवार

Image
कनाडा के प्रधानमंत्री जस्टिन ट्रूडो ने जानकारी दी है कि उनका एक मिलिट्री हेलिकॉप्टर, ग्रीस के तट से गायब हो गया है। इसमें छह जवान सवार थे।
बुधवार को ग्रीस के आउटलेट मिलिटायर. जीआर ने बताया था कि कनाडा का सिकोरस्की सीएच-124 एंटी-सबमरीन युद्धक हेलिकॉप्टरआइयोनियन सागर के सीफेलोनिया द्वीप के पश्चिम में गायब हो गया। इसमें छह लोग सवार थे। एक सदस्य की मौत की पुष्टि की गई है, जबकि पांच लोग लापता है। जस्टिन ट्रूडो ने बुधवार शाम को ट्वीट किया, ‘‘नाटो के ऑपरेशन में शामिल कनाडाई हेलिकॉप्टरग्रीस के तट से लापता हो गया है। उसकी खोज और बचाव के प्रयास चल रहे हैं। मैनें नेशनल डिफेंस मिनिस्टर हरजीत सज्जन से बात की है। जल्द से जल्द अपडेट जानकारी दी जाएगी।’’

Download Dainik Bhaskar App to read Latest Hindi News Todayकनाडा के प्रधानमंत्री जस्टिन ट्रूडो। (फाइल)

from Dainik Bhaskar https://ift.tt/2VQYuV4

भारतीय मूल की लड़की ने रखा मंगल ग्रह के पहले हेलिकॉप्टर का नाम, जुलाई में लॉन्च होना है मिशन

Image
भारतीय मूल की वनीजा रूपाणी (17)ने मंगल ग्रह के लिए बनाए गए पहले हेलिकॉप्टर को इंजीन्यूटी नाम दिया है। इसका हिंदी में मतलब है किसी व्यक्ति का आविष्कारी चरित्र। वनीजा अलबामा नार्थ पोर्ट में हाई स्कूल जूनियर हैं। उन्होंने नासा की प्रतियोगिता ‘नेम द रोवर’ में भाग लेकर इस विषय पर एक निबंध लिखा था। इसके बाद हेलिकॉप्टर का नाम रखने के लिए उनके द्वारा बताया गया नाम तय किया गया। यह जानकारी खुद नासा ने ट्विटर पर सभी के साथ साझा की।
नासा ने ट्वीट किया, ‘‘हमारे मंगल ग्रह के हेलिकॉप्टर का नया नाम मिल चुका है। मिलिए इंजीन्यूटी से। स्टूडेंट वनीजा रूपाणी ने ‘नेम द रोवर’ कॉन्टेस्ट में इस नाम का सुझाव दिया था। इंजीन्यूटी अब मंगल ग्रह पर यात्रा करेगा।’’नासा के प्रशासक जिम ब्रिडेंस्टाइन से भी वनीजा की फोटो ट्वीट की है। ## नासा के अनुसार, वनीजा के साथ अमेरिका के सभी राज्यों से 28,000 छात्रों ने निबंध लिखा था। वनीजा ने अपने निबंध में लिखा, ‘‘लोगों की बुद्धिमत्ता और आविष्कारी चरित्र (इंजीन्यूटी) हमें दूसरे ग्रहों में यात्रा करने और अंतरिक्ष के आश्चर्य को समझने में मदद करेगा।’’बचपन से ही स्पेस साइंस पसंद है
व…

उड़ान भर रहे प्लेन के सामने अचानक दूसरा प्लेन लेकर आ गए अमेरिकी एक्टर हैरिसन फोर्ड, जांच शुरू

Image
अमेरिकी एक्टर हैरिसन फोर्ड की वजह से एक बड़ा हादसा होते बचा है। लॉस एंजिल्स के एयरफोर्ट में एक प्लेन उड़ान (टेक ऑफ) भर रहा था, इसी दौरान में हैरिसन फोर्ड एक प्लेन लेकर रनवे क्रास कर गए। इससे हादसा होते बचा। अधिकारियों ने इस बात की जानकारी देते हुए बताया कि एक्टर के खिलाफ जांच शुरू कर दी गई है।
घटना पिछले शुक्रवार की है।‘इंडियाना जोन्स’ और ‘स्टार वार्स’ के स्टार 77 साल के हैरिसन ने हवाई यातायात निर्देश का उल्लंघन किया।फेडरल एविएशन एडमिनिस्ट्रेशन ने न्यूज एजेंसी एएफपी को बताया कि शुक्रवार को एक एयरक्राफ्ट उड़ान भरने की तैयारी कर रहा था तभी एक एविएट हस्की एयरक्राफ्ट ने रनवे क्रास कर दिया। हम इसकी जांच कर रहे हैं।इस घटना के वक्त दोनों प्लेन के बीच में 3600 फीट की दूरी थी। इस दौरान हैरिसन ने अपना प्लेन रोकने को कहा गया था, लेकिन इसके बावजूद भी वे रनवे क्रास कर गए। एक ऑडियो रिकॉर्डिंग में फोर्ड को सुना जा सकता है। उन्होंने कहा, ‘‘माफ कीजिए सर, मैंने इसके बिल्कुल उलट सोचा। मुझे बहुत ज्यादा अफसोस है।’’
पहले भी कर चुके हैं गलतियां
फोर्ड की गलती से 2017 में सदर्न कैलिफोर्निया एयरपोर्ट पर ऐसा ही हाद…

राष्ट्रपति ट्रम्प का दावा - चीन मुझे दोबारा राष्ट्रपति बनने से रोकना चाहता है, इसके लिए वो कुछ भी करेगा

Image
अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रम्प ने कहा कि चीन उन्हें दोबारा राष्ट्रपति बनने से रोकना चाहता है। उन्होंने बुधवार को न्यूज एजेंसी रायटर्स को दिए इंटरव्यू में दावा किया कि चीन नहीं चाहता कि वे नवंबर में फिर से अमेरिका के राष्ट्रपति चुने जाएं। वह मुझे रोकने के लिए कुछ भी करेगा। चीन का कोरोना से निपटने का तरीका इस बात का सबूत है। ट्रम्प ने कहा कि चीन चाहता है कि डेमोक्रेटिक उम्मीदवार जो बिडेन राष्ट्रपति चुनाव जीतें। इससे अमेरिका ने फिलहाल चीन पर व्यापार समेत अन्य बातों को लेकर जो दबाव बनाए हैं वे कम होंगे।
ट्रम्प हमेशा महामारी के लिए चीन पर आरोप लगाते रहते हैं। उनका मानना है कि चीन को इस महामारी के बारे में दुनिया को पहले बताना चाहिए था। अभी तक कोरोना से अमेरिका में 60 हजार लोगों की मौत हो चुकी है। इससे अमेरिका की अर्थव्यवस्था पर भी बुरा असर पड़ा है।चीन खुद को निर्दोष दिखाने की कोशिश कर रहा: ट्रम्पट्रम्प से पूछा गया कि क्या वह चीन के लिए कर्ज माफी और टैरिफ में छूट वापस लेने पर सोच रहे हैं। इस पर उन्होंने कहा कि बहुत सारी ऐसी चीजें हैं जो मैं कर सकता हूं। हम देख रहे हैं कि क्या हुआ है। चीन…

दक्षिण कोरिया के इंचिओन शहर में निर्माणाधीन गोदाम में आग लगी, कम से कम 38 लोगों की मौत

Image
दक्षिण कोरिया के इंचिओन शहर में निर्माणाधीन वेयरहाउस में लगी में कम से कम 38 लोगों की मौत हो गई। स्थानीय मीडिया के मुताबिक, बुधवार की रात यहां मजदूर बेसमेंट में इंसुलेशन के लिए ज्वलनशील सामान का इस्तेमाल कर रहे थे। इसमें विस्फोट होने के बाद वेयरहाउस आग की चपेट में आ गई। सभी मरने वाले मजदूर थे। अधिकारियों ने बताया कि मृतकों की संख्या बढ़ सकती है क्योंकि हादसे के वक्त बील्डिंग में 78 लोग मौजूद थे।
हादसे के बाद प्रधानमंत्री चुंग स्ये क्यून ने बचाव अभियान चलाने का निर्देश दिया। उन्होंने अधिकारियों, दमकल विभाग और पुलिस को इस आपातकालीन स्थिति से निपटने के लिए सभी संसाधनों और कर्मचारियों का इस्तेमाल करने के लिए कहा। तीन घंटे की कड़ी मशक्कत के बाद आग बुझा ली गई।आठ दमकलकर्मी घायल हुए
आग बुझाने के दौरान आठ दमकलकर्मी गंभीर रूप से घायल हो गए, जबकि दो को मामूली चोटें आईं।आग बुझाने के दौरान आठ दमकलकर्मी गंभीर रूप से घायल हो गए, जबकि दो को मामूली चोटें आईं। घायल कर्मचारियों को आठ कर्मियों का पास ही के एक अस्पताल में उपचार किया जा रहा है। दमकलकर्मियों के मुताबिक आग स्थानीय समयानुसार बुधवार दोपहर 1.32 म…

अमेरिका के विदेश मंत्री पोम्पियो ने कहा- साथ काम करने का भारत अच्छा उदाहरण, इसने कोरोना के इलाज में इस्तेमाल होनी दवा के निर्यात से प्रतिबंध हटाया

Image
अमेरिका के विदेश मंत्री माइक पोम्पियो नेकोरोना से लड़ाई में साथ देने के लिए भारत की तारीफ की। उन्होंने कहा कि कोरोना से निपटने के ट्रम्प प्रशासन भारत समेत दुनिया के कई देशों के साथ मिलकर काम कर रहा है। उन्होंने कहा कि हम भारत, ऑस्ट्रेलिया, जापान के अपने दोस्तों के साथ मिलकर काम कर रहे हैं। इन देशों के साथ इलाज की बेहतर प्रक्रियाएं और सूचनाएं साझा की जा रही हैं। इसका एक उदाहरण भारत के साथ काम करना है। इसने कोरोना पीड़ितों के इलाज में इस्तेमाल होने वाली दवा और मेडिकल सामान के निर्यात पर लगा प्रतिबंध हटाया।
भारत कोरोना के इलाज में इस्तेमाल की जा रही हाइड्रोक्सीक्लोरोक्वीन दवा का बड़ा उत्पादक है। इसने भूटान, बांग्लादेश, मालदीव, श्रीलंका और म्यांमार समे दुनिया के 55 देशों को इस दवा की आपूर्ति का वादा किया है। इस दवा की खेप अमेरिका, अफगानिस्तान, मॉरिशस, कजाकिस्तान, ब्राजील और सेशेल्स पहुंच भी चुकी है।मुझे कोरोना पर किए गए अमेरिका के कामों पर गर्व: पोम्पियो
पोम्पियो ने कहा कि मुझे भारत-प्रशांत क्षेत्र में कोरोना से लड़ने के लिए किए गए अमेरिका के कामों पर गर्व है। अमेरिका ने इस क्षेत्र के द्वीप र…

व्हाइट हाउस की सफाई- राष्ट्रपति जब किसी देश की यात्रा पर जाते हैं तो वहां के शीर्ष अधिकारियों को फॉलो किया जाता है

Image
व्हाइट हाउस ने बुधवार को बताया कि उसका ट्विटर हैंडल आमतौर पर राष्ट्रपति की यात्रा के दौरान थोड़े समय के लिए मेजबान देशों के अधिकारियों के ट्विटर को फॉलो करता है। ऐसा इसलिए किया जाता है ताकि यात्रा के समर्थन में अधिकारियों के संदेशों को रीट्वीट किया जा सके।व्हाइट हाउस ने बुधवार को बताया कि फरवरी में राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रम्प की भारत यात्रा के दौरान व्हाइट हाउस ने राष्ट्रपति राम नाथ कोविंद, प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी, प्रधानमंत्री कार्यालय के ट्विटर को फॉलो करना शुरू किया था। इसके साथ ही अमेरिका में भारतीय दूतावास, भारत में अमेरिकी दूतावास और भारत में अमेरिकी राजदूत केन जस्टर को भी फॉलो करना शुरू किया था। इस हफ्ते व्हाइट हाउस ने सभी 6 ट्विटर हैंडल को अनफॉलो कर दिया है।अमेरिका किसी दूसरे देश के ट्विटर हैंडल को फॉलो नहीं करता
अब केवल 13 अकाउंट ऐसे हैं, जिन्हें व्हाइट हाउस फॉलो करता है। इसमें डोनाल्ड ट्रम्प, मेलानिया ट्रम्प, माइक पेंस और ट्रम्प प्रशासन से संबंधित लोग शामिल हैं। अमेरिका अन्य किसी देशों या उसके राष्ट्राध्यक्षों के ट्विटर हैंडल को फॉलो नहीं करता है। एसा पहली बार था, जब व्हाइट …

50 में से 35 राज्यों ने पाबंदियों को हटाने की औपचारिक योजना जारी की, राष्ट्रपति ट्रम्प बोले-महामारी का सबसे बुरा दौर अब पीछे छूटने वाला

Image
राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रम्प पिछले दो हफ्ते से देश के कई राज्यों में कोरोना से जुड़ी पाबंदियां हटाने की बात कह रहे हैं। हालांकि कई राज्य उनके इस फैसले से सहमत नजर नहीं आ रहे थे। हालांकि, अब अमेरिका के 50 में से 35 राज्यों ने पाबंदियों को हटाने की औपचारिक योजना जारी कर दी है। ऐसे में यह साफ हो गया है कि ज्यादातर राज्य लॉकडाउन को हटाने के पक्ष में हैं। बुधवार को ट्रम्प ने देश के उद्योगपतियों के साथ अमेरिका को दोबारा खोलने की चर्चा की थी। इसमें उन्होंने कहा कि हम अदृश्य दुश्मन से हुई हर एक मौत पर शोक मना रहे हैं। हालांकि, हम खुश हैं कि महामारी का सबसे बुरा दौर अब देश में पीछे छूटने वाला है।
अमेरिका में सबसे ज्यादा 10 लाख 64 हजार 194 संक्रमित हैं, जिसमें एक लाख 47 हजार 411 ठीक हो चुके हैं। कोरोना की वजह से अमेरिका में 26 मिलियन (करीब 2.6 करोड़) लोग बेरोजगार हो चुके हैं। इससे देश की अर्थव्यवस्था को दोबारा बहाल करने का दबाव बढ़ने लगा है।अमेरिका में ज्यादातर उद्योग बंद हैंअमेरिका में फिलहाल ज्यादातर उद्योग और व्यापारिक गतिविधियां बंद हैं। यहां की अर्थव्यवस्था ठहर गई है। पहली तिमाही में इसमें 4.8%…

अब तक 32.19 लाख संक्रमित और 2.28 लाख मौतें: संक्रमण से 10 लाख मरीज ठीक हुए, अमेरिका में सबसे ज्यादा 1 लाख 47 हजार

Image
दुनिया में कोरोनावायरस से अब तक 32 लाख 19 हजार 424 लोग संक्रमित हैं। दो लाख 28 हजार 197 की मौत हो चुकी है, जबकि 10 लाख लाख 293 ठीक हो चुके हैं। अमेरिका में सबसे ज्यादा 10 लाख 64 हजार 194 संक्रमित हैं, जिसमें एक लाख 47 हजार 411 ठीक हो चुके हैं। वहीं नेशनल इंस्टीट्यूट ऑफ हेल्थ (एनआईएच) की शुरुआती जांच में रेमडेसिवियर ड्रग के ट्रायल का पॉजिटिव रिजल्ट आया है। इससे प्लासीबो दवाई दिए जाने वाल मरीजों की तुलना में 31% ज्यादा मरीज ठीक हुए हैं।
ट्रायल नेशनल इंस्टीट्यूट ऑफ एलर्जी एंड इंफेक्शियस डिजीज (एनआईएआईडी) ने किया है। यह एनआईएच के अंतगर्त ही आता है। रिसर्चर्स का कहना है कि जितने लोगों को रेमडेसिवियर दी गई उनमें 8% लोग नहीं बचाए जा सके। वहीं जिन्हें प्लेसीबो दी गई, उनमें 11% रीज नहीं बचे। डॉक्टर्स का कहना है कि अभी रेमडेसिवियर संक्रमण के इलाज में कितना कारगर है, इसकी अभी और पुष्टि की जानी है।कोरोनावायरस : सबसे ज्यादा प्रभावित 10 देशदेशकितने संक्रमितकितनी मौतेंकितने ठीक हुएअमेरिका10,64,19461,6561,47,411स्पेन2,36,89924,2751,32,929इटली2,03,59127,68271,252फ्रांस1,66,42024,08748,228ब्रिटेन165,22…

अमेरिका के सबसे बड़े मॉल ऑपरेटर ने कहा- कल से 10 राज्यों में खुलेंगे 49 मॉल

Image
(सपना माहेश्वरी और माइकल कोकरी)कोरोनावायरस महामारी ने अब तक सबसे ज्यादा तबाही अमेरिका में मचाई है। यहां संक्रमित लोगों की संख्या 10 लाख के पार हो गई है। मरने वालों का आंकड़ा भी 60 हजार के करीब है। लेकिन, अमेरिका महामारी से जंग के बीच अपनी अर्थव्यवस्था को भी खोलने की कोशिश में लगा है। देश के सबसे बड़े मॉल ऑपरेटर सिमन प्रॉपर्टी ग्रुप ने कहा है कि वह शुक्रवार से करीब 10 राज्यों में अपने मॉल खोलने की शुरुआत कर रहा है। यह ग्रुप इन राज्यों में कुल 10 मॉल खोलेगा।गाइडलाइन भी तैयार
सिमन प्रॉपर्टी ग्रुप ने मॉल खोलने को लेकर अपनीगाइडलाइन भी तैयार कर ली है। मॉल के सिक्युरिटी ऑफिसर्स और यहां काम करने वाले कर्मचारी ग्राहकों को सोशल डिस्टेंसिंग और हाइजीन के बारे में नियमित तौर पर बताते रहेंगे। मॉल के अंदर खेलने वाले एरिया और पीने के पानी के नल फिलहाल बंद रहेंगे। वॉशरूम में हर एक सिंक के बाद दूसरे सिंक पर टेप लगा होगा। यानी अगर कोई एक सिंक चालू है तो उसके ठीक पास वाला सिंक बंद रहेगा। यूरिनल के साथ भी ऐसा ही किया जाएगा। ग्रुप ने अपनी इस योजना का डॉक्यूमेंट 27 अप्रैल को एक मेमो के जरिए अथॉरिटीज तक पहुंचा…

अमेरिका में 14 साल पहले दो वैज्ञानिकों ने पहली बार बुश सरकार के सामने सोशल डिस्टेंसिंग नीति बनाने का प्रस्ताव रखा था, पर अधिकारियों ने खिल्ली उड़ा दी थी

Image
एरिक लिप्टन और जेनिफर स्टीनहाऊर. कोरोना महामारी से सबसे ज्यादा प्रभावित देश अमेरिका है। अब तक 60 हजार लोगों की मौत हो चुकी है। यदि 14 साल पहले कुछ वरिष्ठ अधिकारियों द्वारा सोशल डिस्टेंसिंग कानून (फेडरल पॉलिसी) के प्रस्ताव को खारिज न किया जाता तो...इस मौत की त्रासदी को रोका जा सकता था।
ऐसा (उपरोक्त बातें) अमेरिका के दो वरिष्ठ सरकारी चिकित्सक डॉ. रिर्चड हैशे और डॉ. कार्टर मेकर का कहना है। वर्तमान में डॉ. हैशे कैंसर विशेषज्ञ सलाहकार के तौर व्हाइट हाउस में, जबकि डॉ. मेकर वेटरन्स अफेर्यस विभाग में एक चिकित्सक के रूप में सेवाएं दे रहे हैं। दोनों ने न्यूयॉर्क टाइम्स अखबार से अमेरिका में सोशल डिस्टेंसिंग नीति के जन्म और उसके खारिज होने की कहानी को साझा किया।पढ़िए डॉ. हैशे और डॉ. मेकर की जुबानी...सामाजिक दूरी के जन्म की अनकही कहानी...अधिकारियों ने सोशल डिस्टेंसिंग नीति के प्रस्ताव की खिल्ली उड़ाई, कहा- घर में दुबकने से बेहतर है महामारी की दवा खोजी जाएडॉ. मेकर कहते हैं कि यह करीब 14 साल पहले की बात होगी। मैं और डॉ. हैशे वॉशिंगटन के उपनगरीय स्थित एक बर्गर शॉप में अपने कुछ सहयोगियों के साथ मुलाकात …

46% लोग भीड़ वाली जगहों पर नहीं जाएंगे, 51% को हेल्थकेयर सुधरने की उम्मीद: रिपोर्ट

Image
कोरोना संकट के चलते लॉकडाउन की वजह से दुनिया में करीब 400 करोड़ लोग अपने घरों में कैद हैं। 31 लाख से ज्यादा मरीज और दो लाख से ज्यादा मौतेंहोने के बावजूद अभी तक कोरोना का कोई वैक्सीन या इलाज नहीं खोजा जा सका है। ऐसे में लॉकडाउन कब और कैसे खुलेगा, इसे लेकर कई तरह की आशंकाएं हैं।इसी मामले परग्लोबल डेटा एजेंसी स्टेटिस्टा ने कोविड-19 बैरोमीटर जारी किया है। इसके जरिए यह जानने की कोशिश की गई है कि कोरोना संकट के बाद हमारी जिंदगी पर क्या असर पड़ेगा, रोजमर्रा की जिंदगी में क्या-क्या बदलाव आ सकते हैं। 49 फीसदी लोगों ने कहा है कि वे भीड़भाड़ वाली जगहों पर नहीं जाएंगे। 51 फीसदी ने स्वास्थ्य सेवाओं में सुधार की उम्मीद जताई है।बैरोमीटर अमेरिका को ध्यान में रखकर बनाया गयारिपोर्ट के मुताबिक, यह बैरोमीटर अमेरिका को ध्यान में रखकर बनाया गया है, लेकिन इसे वैश्विक स्तर यानी दुनिया परभी लागू किया जा सकता है। 10 में 4 लोगों को उम्मीद है कि कोरोना संकट के बाद वर्क फ्रॉम होम का चलन बढ़ेगा। 50% लोगों ने कहा कि वे जब भी बाहर जाएंगे, तो बिना मास्क के नहीं जाएंगे।

Download Dainik Bhaskar App to read Latest Hindi Ne…

डॉक्टर ने अपने समर्पण से कई कोरोना पीड़ितों को ठीक किया, दूसरों का दर्द देखा नहीं जाता था, आखिर में जान दे दी

Image
(अली वाटकिंस, माइकल रोथफेल्ड)अमेरिका में कई काेरोना वायरस मरीजों का इलाज कर चुकी एक डॉक्टर ने जान दे दी। मरीजों का इलाज करते-करते वो खुद इनफेक्टेड हो गईं थीं। डॉक्टर लोर्ना एम ब्रीन की मौत दरअसल,डाॅक्टरों पर कोराेना के मानसिक असर को सामने ले आई है। डॉक्टर ब्रीन न्यूयॉर्क के प्रेस्बिटेरियन एलन अस्पताल में इमरजेंसी डिपार्टमेंट की मेडिकल डायरेक्टर थीं। 200 बेड के इस अस्पताल में 170 कोरोना पीड़ित मरीजों का इलाज किया जा रहा है।डॉक्टर लोर्नाकाे कोई मानसिक बीमारी नहीं थीडॉ ब्रीन के पिता डॉ फिलिप ने बताया कि लोर्ना ने कोरोना मरीजों के डरावने मंजर देखे। वो अपना काम पूरी लगन से कर रही थीं। कोरोना संक्रमण से ठीक होकर वह घर तो आ गईं, लेकिन कुछ दिनों बाद वापस अस्पताल जाने लगीं। फिर हमने उन्हें रोका और उसे चार्लोट्सविले ले आए। 49 साल की लोर्ना काे कोई मानसिक बीमारी नहीं थी। उन्होंने मुझसे कहा था कि कुछ अजीब और अलग लग रहा है। वो निराश लग रहीं थीं। मुझे ऐसा लगा कि कुछ गलत हो रहा है। उन्होंनेमुझे बताया था कि मरीज अस्पताल के सामने एम्बुलेंस से उतारने से पहले ही दम तोड़ रहे हैं।अस्पताल ने कहा- डॉ लोर्नाअस…

अमेरिका में रेमडेसिविर दवा के रिजल्ट पॉजिटिव, एफडीए इसके इस्तेमाल की घोषणा की तैयारी में

Image
अमेरिका में कोरोनावायरस से इलाज के लिए एंटी वायरल दवा रेमडेसिविर के काफी पॉजिटिव रिजल्ट्ससामने आए हैं। राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रम्प औरइन्फेक्सियस डिसीज साइंटिस्ट एंथनी फौसी ने रेमडेसिविर के शुरुआती परीक्षण के परिणामों को बेहतर बताया है। फौसी ने उम्मीद जताई है कि यह दवा बढ़ती मौतों की दर को रोकसकती है। अमेरिका का फूड ड्रग एंड एममिनिस्ट्रेशन (फडीए) विभाग जल्द ही इसके इस्तेमाल की घोषणा कर सकता है।रेमडेसिविर से बढ़ा मरीजों का रिकवरी रेट
इससे पहले ट्रम्प ने हाइड्रॉक्सीक्लोरोक्वीन को कोरोना में कारगर दवा बताया गया था। हालांकि, तब डॉक्टरफौसी ने इसे खारिज कर दिया था। अब फौसी के उम्मीद जताने के बाद माना जा रहा है कि यह दवा वाकई में कारगर हो सकती है। फौसी ने कहा, “इस दवा के इस्तेमाल से मरीजों के रिकवरी रेट को बढ़ाने में मदद मिलेगी। हालांकि, नेशनल इंस्टीट्यूट ऑफ एलर्जी एंड इन्फेक्शियस डिजीज दवा के परीक्षण के परिणामों की और गहन समीक्षा कर रही है। परीक्षण से यह संकेत मिलता है कि रेमडेसिविररिकवरी टाइम को एक तिहाई तक घटा सकतीहै। मतलब 15 दिन में ठीक होने वाला मरीज पांच दिन में ही ठीक हो जाएगा। अभी इस अध्यय…

व्हाइट हाउस ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी का ट्विटर अकाउंट अनफॉलो किया, 19 दिन पहले फॉलो करना शुरू किया था

Image
व्हाइट हाउस ने प्रधानमंत्री नरेंद्रमोदी काट्विटर अकाउंट अनफॉलो कर दिया है।19 दिन पहले जब भारत ने अमेरिका कोहाइड्रॉक्सीक्लोरोक्वीन दवा निर्यात की थी, तब व्हाइट हाउस ने मोदी को ट्विटर पर फॉलो करना शुरू किया था। व्हाइट हाउस ने भारत से जुड़े कुल छह अकाउंट को अनफॉलो किया है, इसमें मोदी, प्रधानमंत्री कार्यालय, राष्ट्रपति भवन के ट्विटर हैंडल शामिल हैं।
अब केवल 13 अकाउंट ऐसे हैं, जिन्हें व्हाइट हाउस फॉलो करता है। इसमें डोनाल्ड ट्रम्प, मेलानिया ट्रम्प, माइक पेंस और ट्रम्प प्रशासन से संबंधित लोग शामिल हैं। अमेरिका अन्य किसी देशों या उसके राष्ट्राध्यक्षों के ट्विटर हैंडल को फॉलो नहीं करता है। एसा पहली बार था, जब व्हाइट हाउस ने भारतीय प्रधानमंत्री, राष्ट्रपति को फॉलो करना शुरू किया था।व्हाइट हाउस के ट्विटर अकाउंट का यह स्क्रीन शॉट तब का है जब उसने भारतीय प्रधानमंत्री और राष्ट्रपति को फॉलो करना शुरू किया था।इन ट्विटर अकाउंट को फॉलो करके अनफॉलो किया
व्हाइट हाउस ने पीएम नरेंद्र मोदी, प्रधानमंत्री कार्यालय, राष्ट्रपति भवन, अमेरिका में भारतीय दूतावास, भारत में अमेरिकी दूतावास, भारत में अमेरिका के राजदू…

बोरिस जॉनसन की गर्लफ्रेंड कैरी साइमंड्स ने बेटे को जन्म दिया, कार्यकाल के दौरान पिता बनने वाल वे तीसरे प्रधानमंत्री

Image
ब्रिटेन के प्रधानमंत्री बोरिस जॉनसन पिता बन गए हैं। उनकी गर्लफ्रेंड कैरी साइमंड्स ने बुधवार को एक बेटे को जन्म दिया। दंपतीने एक स्टेटमेंट में कहा, ‘‘आज सुबह लंदन के हॉस्पिटल मेंस्वस्थ बेटा हुआ।’’ उनके प्रवक्ता ने जानकारी दी की मां और बेटा दोनों स्वस्थ्य हैं।जॉनसन और उनकी गर्लफ्रेंड ने नेशनल हेल्थ सर्विस (एनएचएस) के डॉक्टरों का आभार जताया है।
विपक्ष के नेता केर स्टार्मर ने ट्वीट किया, ‘‘वंडरफुल न्यूज, बोरिस जॉनसन और कैरी साइमंड्स को बहुत बधाई।’’स्वास्थ्य मंत्री मैट हैंकाक ने ट्वीट किया, ‘‘बोरिस और कैरी के लिए बहुत रोमांचित हूं।’’ ## 32 साल की कैरी साइमंड्स कंजरवेटिव पार्टी के लिए संचार प्रमुख के तौर पर काम करती थीं, लेकिन अब वे पर्यावरण और समुद्र के संरक्षण के मुद्दों पर काम कर रही हैं। जॉनसन के प्रधानमंत्री बनने के बाद कैरी साइमंड्स डाउनिंग स्ट्रीट पीएम आवास उनके साथ रहने आ गई थीं। वे पहले ऐसे कपल हैं जो बिना शादी के पीएम आवास में रहते हैं।डेविड कैमरून और टोनी ब्लेयर भी प्रधानमंत्री रहते हुए पिताबने हैं
जॉनसन से पहले डेविड कैमरून की पत्नी समांथा ने 2010 में बेटी फ्लोरेंस को जन्म दिया …

महामारी ने 20 साल तक चले वियतनाम युद्ध से ज्यादा अमेरिकियों की जान ली, सीआईए ने कहा- ट्रम्प ने 12 चेतावनियों को किया था नजरअंदाज

Image
कोरोनावायरस से अमेरिका में 59,266 लोगों की मौत हो चुकी है। अमेरिका में 20 साल चले वियतनाम युद्ध में इतने अमेरिकियों की जान नहीं गई थी, जितनी कोरोनावायरस महामारी के चलते चली गई। महामारी में ट्रम्प प्रशासन की तैयारियां न होने के चलते लगातार उनकी आलोचना हो रही है। सीआई के अधिकारियों ने बताया है कि चीन में वायरस फैलने पर करीब 12 बार ट्रम्प को इस वायरस से संबंधित चेतावनी दी गई थी, लेकिन वे लगातार इसको नजरअंदाज करते रहे। परिणाम यह है कि अब कोरोना महामरी ने अमेरिका को जकड़ लिया है।ट्रम्प ने फिर से चीन पर निशाना साधा है। हालांकि, चीन ने जवाब देते हुए कहा कि अमेरिकी नेता झूठ बोल रहे हैं। चीनी विदेश मंत्रालय के प्रवक्ता ने कहा, ‘‘उनका केवल एक ही उद्देश्य है। अपनी जिम्मेदारी से बचने के लिए दूसरों को दोष देना।’’वियतनाम युद्ध नंवबर 1955 में शुरू हुआ था और यह 1975 तक चला था। इस युद्ध में अमेरिका को अपने करीब 58,000 सैनिकों को खोना पड़ा था।सीआईए ने बताया था कि चीन में फैला वायरस बहुत घातक है
अमेरिका की सेंट्रल इंटेलीजेंस एजेंसी (सीआईए) ने चीन में कोरोनावायरस सामने पर पर ट्रम्प को एक्शन लेने के लिए 12…