रॉयल फैमिली के 150 सदस्यों के संक्रमित होने की आशंका, किंग और क्राउन प्रिंस मोहम्मद बिन सलमान आइसोलेशन में गए

सऊदी अरब के सत्तारूढ़ शाही परिवार के सदस्य भी कोरोनावायरस की चपेट में आ गए हैं। न्यूयॉर्क टाइम्स की रिपोर्ट के मुताबिक,यहां पिछले कुछ हफ्तों में करीब 150 लोग वायरस से संक्रमित पाए गए हैं। वायरस से बचाने के लिए किंग सलमान और क्राउन प्रिंस मोहम्मद बिन सलमान को आइसोलेट कर दिया गया है।


रियाद के गवर्नर सऊदी प्रिंस फैसल बिन बंदर अल साउदकोरोनावायरस से संक्रमित पाए गए हैं। 70 साल के प्रिंस फैसल को आईसीयू में भर्ती कराया गया है। यहां के किंग फैसल एलीट हॉस्पिटल के डॉक्टर शाही परिवार के इलाज में लगे हुए हैं। इसके साथ ही अस्पताल में वीआईपी लोगों के लिए 500 अतिरिक्त बेड तैयार किए गए हैं।

हमें नहीं पता कि कितने लोगों को देखना पड़ सकता है- रिपोर्ट

न्यूयॉर्क टाइम्स की रिपोर्ट के मुताबिक हॉस्पिटल प्रबंधन का कहना है, ‘‘हमें नहीं पता कि कितने लोगों को देखना पड़ सकता है, लेकिन हम हाईअलर्ट पर हैं। यहां के मरीजों को कम दर्जे के अस्पताल में शिफ्ट किया जाएगा ताकि रॉयल फैमिली के लोगों के इलाज में दिक्कत न हो और अस्पताल में बेड और कमरे की दिक्कत न पड़े।’’

सऊदी के कई प्रिंस यूरोप की नियमित यात्रा करते हैं- रिपोर्ट
सऊदी में हजारों प्रिंस हैं। रिपोर्ट के मुताबिक,उनमें से कई यूरोप की नियमित रूप से यात्रा करते हैं। इसी के चलते इनयात्राओं के दौरान ही वे वायरस से संक्रमित हो गए। 3.3 करोड़ की जनसंख्या वाले सऊदी अरब में 9 अप्रैल तक कुल 3287 लोग वायरस से संक्रमित पाए गए हैं और 44 लोगों की मौत हो चुकी है। यहां पर इस्लाम के सबसे पवित्र स्थल मक्का और मदीना में सालाना होने वाली उमरा तीर्थयात्रा पर प्रतिबंध लगाए गए हैं।



Download Dainik Bhaskar App to read Latest Hindi News Today
 रियाद के गवर्नर सऊदी प्रिंस फैसल बिन बंदर अल साउद। (फाइल)


from Dainik Bhaskar https://ift.tt/3aWG7mR

Comments

Popular posts from this blog

ट्रम्प की लोकप्रियता बढ़ रही; बिडेन 43% लोगों की पसंद तो ट्रम्प को 40% लोगों का साथ, जुलाई में यह अंतर 7% से ज्यादा था

ट्रम्प मेक अमेरिका ग्रेट अगेन के नारे के साथ इस साल चुनाव जीतना चाहते हैं, जिनपिंग चीन की इमेज सुधारने की कोशिश में हैं

फ्रांस में फिर एक दिन में 14 हजार से ज्यादा मामले सामने आए, ब्रिटेन में प्रतिबंधों का विरोध; दुनिया में 3.30 करोड़ केस