मोदी से गुहार लगाने के 2 दिन बाद ट्रम्प की धमकी- भारत ने हाइड्रॉक्सीक्लोरोक्विन के निर्यात से बैन नहीं हटाया तो कार्रवाई संभव

अमेरिका में कोरोनावायरस को लेकर खतरा बढ़ता जा रहा है। यहां संक्रमण से मरने वालों की संख्या 10 हजार के पार हो गई है। दो दिन पहले राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रम्प ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी से मलेरिया निरोधक दवा हाइड्रॉक्सीक्लोरोक्विन की खेप भेजने की गुहार लगाई थी, लेकिन अब उन्होंने धमकी दी है। राष्ट्रपति ने कहा कि अगर भारत हाइड्रॉक्सीक्लोरोक्विन के निर्यात पर लगा बैन नहीं हटाता तो उस पर कार्रवाई की जा सकती है। मुझे कोई कारण नहीं दिखता कि भारत ने अमेरिका के दवा के ऑर्डर को रोककर पर क्यों रखा है? वैज्ञानिकों ने हाइड्रॉक्सीक्लोरोक्विन को कोरोना से लड़ने में कारगर बतायाहै।

व्हाइट हाउस में प्रेस कॉन्फ्रेंस में ट्रम्प ने कहा, ‘‘मैंने अभी मोदी के फैसले के बारे में नहीं सुना। मैं जानता हूं कि उन्होंने दूसरे देशों में दवा के निर्यात को रोक रखा है। मेरी हाल ही में उनसे अच्छी बात हुई थी। भारत के अमेरिका के साथ रिश्ते काफी बेहतर हैं। अब यह देखना होगा कि वे हमें दवा भेजने की अनुमति देते हैं या नहीं।’’ ट्रम्प से बातचीत के बाद मोदी ने कहा था कि अमेरिका के दवा भेजने के ऑर्डर पर विचार करेंगे।

‘मुझे आश्चर्य नहीं होगा’

ट्रम्प के मुताबिक, भारत के दवा भेजने के फैसले का हम स्वागत करते। मुझे आश्चर्य नहीं होगा, अगर वे हाइड्रॉक्सीक्लोरोक्विन भेजने को मंजूरी ही न दें। भारत और अमेरिका के बीच अच्छे व्यापारिक संबंध हैं। इस स्थिति से इन पर प्रभाव पड़ सकता है।



Download Dainik Bhaskar App to read Latest Hindi News Today
Trump threatens 2 days after pleading with Modi - action not possible if India does not lift ban on export of hydroxychloroquine


from Dainik Bhaskar https://ift.tt/3e2RqeX

Comments

Popular posts from this blog

ट्रम्प की लोकप्रियता बढ़ रही; बिडेन 43% लोगों की पसंद तो ट्रम्प को 40% लोगों का साथ, जुलाई में यह अंतर 7% से ज्यादा था

ट्रम्प मेक अमेरिका ग्रेट अगेन के नारे के साथ इस साल चुनाव जीतना चाहते हैं, जिनपिंग चीन की इमेज सुधारने की कोशिश में हैं

इटली में लाॅकडाउन पालन कराने के लिए 8000 मेयर ने मोर्चा संभाला; सड़काें पर उतरे, फेसबुक से समझाया फिर भी नहीं माने ताे ड्राेन से अपमान