एयरलाइंस से जुड़ीं चीनी-अमेरिकी एजेंसियों का दावा, कोरोना फैलने की शुरुआत में चीन से 4.30 लाख लोग अमेरिका पहुंचे

(स्टीव एडर/हेनरी फाउंटेन)कोरोनावायरस फैलने के शुरुआती दिनों में चीन से 1300 सीधी उड़ानों में करीब 4.30 लाख लोग अमेरिका पहुंचे थे। इनमें से 40 हजार लोग अमेरिका में आगे भी यात्रा करते रहे। वारि फ्लाइट, माई राडार व फ्लाइट अवेयर और अन्य एजेंसियों से मिले इनपुट में यह दावा किया गया है। ये एजेंसियां चीन और अमेरिका में कार्यरत हैं। इनके मुताबिक यात्रा प्रतिबंध के पहले ये उड़ानें अमेरिका के 17 राज्यों में पहुंची थीं। चीन ने 31 दिसंबर 2019 को अपने यहां कोरोना के होने का खुलासा किया था।

इसके बावजूद अमेरिका में जनवरी के शुरू में अधिकारी कोरोना की गंभीरता को कम आंक रहे थे। वे एयरपोर्ट पर यात्रियों की जांच में सख्ती नहीं दिखा रहे थे। यात्रियों की स्क्रीनिंग जनवरी के मध्य में शुरू की। उसमें भी सिर्फ वुहान से लॉस एंजिल्स, सैन फ्रांसिस्को और न्यूयॉर्क के एयरपोर्ट पर आए विमानों के यात्रियों की स्क्रीनिंग की गई। चीन की विमानन डेटा कंपनी वारीफ्लाइट ने भी कहा कि उस दौर में भी करीब 4 हजार लोग वुहान से सीधे अमेरिका पहुंचे।

ऐसा था रूट: 3.81 लाख यात्री सीधे चीन से आए, अन्य वहां से होते हुए पहुंचे

  • इंटरनेशनल ट्रेड एडमिनिस्ट्रेशन के मुताबिक 3.81 लाख लोग चीन से सीधे अमेरिका आए थे। इनमें से एक चौथाई अमेरिकी थे। अन्य लोग अन्य देशों से चीन होते हुए अमेरिका पहुंचे थे। होमलैंड विभाग की प्रवक्ता सोफिया बोजा ने कहा कि अन्य देशों के आए यात्री 25% हो सकते हैं।
  • 10 मार्च को एंड्रयू वू (31) को बीजिंग से सीधी उड़ान से लॉस एंजिल्स इंटरनेशनल एयरपोर्ट पहुंचे थे। एंड्रयू कहते हैं- मैं हैरान था कि एयरपोर्ट पर जांच की प्रक्रिया बेहद ढीली थी। मैंने अधिकारियों से ठीक से जांच करने का निवेदन भी किया, लेकिन उन्होंने ज्यादा गंभीरता नहीं दिखाई।
  • 23 मार्च को सबरीना फिच (23) चीन से न्यूयॉर्क पहुंचीं। सबरीना ने कहा कि एयरपोर्ट पर उनकी और करीब 40 अन्य लोगों का तापमान दो बार जांचा गया। उसके बाद उनसे एक फॉर्म में उनके स्वास्थ्य की जानकारी भराई गई। सिर्फ हमारा पासपोर्ट देखा गया। अन्य सवाल नहीं पूछा।

तैयारी: विदेशों में फंसे 22 हजार अमेरिकी स्वदेश लाए जाएंगे

अमेरिका कोरोना के कारण भारत समेत अन्य देशों में फंसे 22 हजार नागरिकों को एयरलिफ्ट करेगा। दूतावास संबंधित मामलों के प्रधान उप सहायक मंत्री इयान ब्राउनली ने मीडिया को यह जानकारी दी। उन्होंने कहा कि कई नागरिक भारत समेत एशिया में हैं। इनके लिए 70 उड़ानें तय की गई हैं। द. एशिया से एक हजार नागरिक अमेरिका लौट सके हैं।

न्यूयॉर्क: गवर्नर की चेतावनी- सात दिनों में चरम पर पहुंच जाएगा खतरा
न्यूयॉर्क राज्य में कोरोना से एक दिन में 630 लोगों की मौत हुई है। गवर्नर एंड्र्यू क्यूमो ने चेतावनी दी है कि सात दिनों में राज्य में प्रकोप चरम पर पहुंच सकता है। राज्य में पहली बार 2-3 को सबसे ज्यादा 550 से ज्यादा मौतें हुई थीं। अब तक 1,14,775 मामले सामने आ चुके हैं। जबकि 3,565 मौतें हुईं। अकेले न्यूयॉर्क सिटी में 63,306 मामले हैं।



Download Dainik Bhaskar App to read Latest Hindi News Today
अमेरिका में सिर्फ वुहान से लॉस एंजिल्स, सैन फ्रांसिस्को और न्यूयॉर्क के एयरपोर्ट पर आए विमानों के यात्रियों की स्क्रीनिंग की गई।


from Dainik Bhaskar https://ift.tt/2JIYPm0

Comments

Popular posts from this blog

ट्रम्प की लोकप्रियता बढ़ रही; बिडेन 43% लोगों की पसंद तो ट्रम्प को 40% लोगों का साथ, जुलाई में यह अंतर 7% से ज्यादा था

अमेरिका में चुनाव के दिन बाइडेन समर्थकों ने 75% और ट्रम्प सपोर्टर्स ने 33% ज्यादा शराब खरीदी

124 साल पुरानी परंपरा तोड़ेंगे ट्रम्प; मीडिया को आशंका- राष्ट्रपति कन्सेशन स्पीच में बाइडेन को बधाई नहीं देंगे