ब्रिटेन में लोग 5 जी तकनीक को कोरोना के लिए जिम्मेदार ठहरा रहे, कैबिनेट मंत्री ने इसे मूर्खतापूर्ण बताया

ब्रिटेन में कोरोना संक्रमण रोकने में लगे अधिकारियों को एक नई मुसीबत का सामना करना पड़ रहा है। कुछ लोग संक्रमण फैलने के लिए 5 जी कनेक्टिविटी को जिम्मेदार ठहरा रहे हैं। कुछ नागरिक तो मोबाइल इंजीनियरों को धमकी दे रहे हैं और 5 जी मास्ट जला रहे हैं। हालांकि इसका कोई वैज्ञानिक कारण नहीं है कि इस तकनीक का संक्रमण से कोई संबंध है। मोबाइल कनेक्टिविटी की अहम सुविधाओं को नुकसान पहुंचाने से अब यहां के कम्युनिकेशन नेटवर्क पर खतरा पैदा हो रहा है। कैबिनेट मंत्री माइकल गोव ने इन बातों का खंडन किया है। उन्होंने इसे मूर्खतापूर्ण और खतरनाक बताया है।

सोशल मीडिया पर कोरोना को 5 जी को कोरोना से जोड़ने की साजिश की बात कहने वाली पोस्ट्स की भरमार है। तथाकथित कोरोना विशेषज्ञ इस पर अपने लेख के जरिए तर्क दे रहे हैं। इसे देखते हुए अब गूगल कंपनी ने इस मामले में दखल देने का फैसला किया है।

एनएचएस के डायरेक्टर ने मोबाइल नेटवर्क को जरूरी बताया

ब्रिटेन के नेशनल हेल्थ सर्विस(एनएचएस) के मेडिकल डॉयरेक्टर स्टीफन पोविस ने का कि यह पूरी तरह से गलत है। यह एक घटिया तरह का फेक न्यूज। हकीकत यह है कि मोबाइल फोन नेटवर्कमौजूदा समय में हम सभी के लिए जरूरी है। इसे नुकसान पहुंचाने से स्वास्थ्य सेवाओं पर असर पड़ सकता है।

गूगल अफवाह बढ़ाने वाले वीडियो हटाएगी

गूगल ने कहा है कि वह इस अफवाह को बढ़ावा देने वाले सभी वीडियो को इंटरनेट से हटाएगी। यू ट्यृब के एक प्रवक्ता ने गार्डियन से बताया कि हमारे पास ऐसी नीति है जिससे हम कोरोना से बचने के लिए इलाज के बदले दूसरी तरीक अपनाने की बात कहने वाले वीडियो को हटा सकते हैं। हमने जानकारी मिलने के बाद इस दिशा में कदम उठाया है। ऐसे सभी वीडियो हटाए जा रहे हैं जिसमें यूजर्स को 5 जी और कोरोना के बारे में गलत जानकारी दी गई है।

दो जगहों पर टेलीकॉम कर्मचारियों से बदसलूकी हुई

कई जगहों पर मोबाइल फोन टावर्स को क्षतिग्रस्त किया गया है। बीते दिनों बिर्मिंघम और मर्सीसाइड में टेलीकॉम कर्मचारियों से बदसलूकी की गई। ब्रिटेन की सबसे बड़ी टेलीकॉम कंपनी बीटी के एक मोबाइल टावर में आग लगा दी गई। इससे हजारों लोगों को 2जी, 3जी, 4जी और इंटरनेट कनेक्टिविटी की सुविधा दी जा रही थी। इस टावर से 5 जी कनेक्टिविटी की सुविधा नहीं दी जा रही थी।



Download Dainik Bhaskar App to read Latest Hindi News Today
यह तस्वीर बर्मिंघम के बीटी टेलिकॉम्युनिकेशन कंपनी के टावर की है। इस बीते दिनों कुछ नागरिकों ने जला दिया। लोगों में अफवाह है कि 5 जी कनेक्टिविटी से कोरोना फैलता है।-फाइल फोटो


from Dainik Bhaskar https://ift.tt/2JPox8l

Comments

Popular posts from this blog

ट्रम्प की लोकप्रियता बढ़ रही; बिडेन 43% लोगों की पसंद तो ट्रम्प को 40% लोगों का साथ, जुलाई में यह अंतर 7% से ज्यादा था

ट्रम्प मेक अमेरिका ग्रेट अगेन के नारे के साथ इस साल चुनाव जीतना चाहते हैं, जिनपिंग चीन की इमेज सुधारने की कोशिश में हैं

फ्रांस में फिर एक दिन में 14 हजार से ज्यादा मामले सामने आए, ब्रिटेन में प्रतिबंधों का विरोध; दुनिया में 3.30 करोड़ केस