चीन ने वुहान में मौतों के नए आंकड़े जारी किए, इनमें 50% की बढ़ोतरी हुई, माना कि कई मौतों की वजह जानने में गलतियां हुईं

चीन ने कोरोनावायरस के संक्रमण के कारण वुहान में होने वाली मौतों के नए आंकड़े जारी किए हैं। इनमें 1290 मौतें यानी करीब 50% की बढ़ोतरी की गई है।नेशनल हेल्थ कमीशन ने बताया कि वुहान में3,869 मौतें हुईं। पहले यह आंकड़ा2,579 था। संक्रमितों की तादाद भी325 की बढ़ाई गई। यह आंकड़ा अब 50,333 हो गया। अब चीन में चीन में कुल संक्रमितों की संख्या 82,692 और मरने वालों की संख्या 4,632 हो गई है।

चीन के हुबेई प्रांत की राजधानी वुहान से ही कोरोना वायरस का संक्रमण फैला था। शिन्हुआ न्यूज एजेंसी के अनुसार चीन ने स्वीकार किया कि कई मामलों में मौत का कारण जानने में गलती हुई या कई मामलों का पता ही नहीं चल पाया।कोविड-19 प्रिवेंशन एंड कंट्रोल के वुहान मुख्यालय नेकहा है कि आंकड़ों में संशोधन संबंधित नियम और कानून के अनुसार किए गए हैं। अब कोरोना से जुड़ी जानकारी पारदर्शी एवं सार्वजनिक हैं और आंकड़े भी सही हैं।

आंकड़ों के गलत होने के बताए चार कारण
1
. कोरोना महामारी के शुरुआती दिनों में मरीजों की बढ़ती संख्या के कारण बहुत से लोगों को अस्पतालों में इलाज नहीं मिल पाया। इस कारण कई मरीजों ने घर पर ही दम तोड़ दिया।
2. मरीजों के इलाज के दौरान अस्पताल अपनी क्षमताओं से ज्यादा काम कर रहे थे और रोगियों को बचाने और उपचार करने के लिए चिकित्सा कर्मचारियों को पहले से तैयार किया गया था, जिसके चलते गलत और भ्रामक रिपोर्टिंग हुईं।
3. हुबेई प्रांत के वुहान शहर में अस्पतालों के तेजी से बढ़ने के कारण कुछ अस्पताल महामारी सूचना नेटवर्क से नहीं जुड़ सके और समय रहते डेटा की रिपोर्ट नहीं कर सके। इनमें प्राइवेट अस्पताल और कुछ अन्य चिकित्सा संस्थान भी शामिल हैं।
4. मृतकों में से कुछ की पंजीकृत जानकारी अधूरी थी और रिपोर्टिंग में दोहराव और गलतियां थीं।



Download Dainik Bhaskar App to read Latest Hindi News Today
यह तस्वीर चीन के वुहान के एक शवदाह गृह की है। कर्मचारी कोरोना से मरने वाले एक व्यक्ति का शव उसके परिवार के सदस्यों को दिखा रहे हैं। शुक्रवार को जारी आंकड़ों में यहां 1 हजार से ज्यादा नई मौतें सामने आई


from Dainik Bhaskar https://ift.tt/2RFwBgj

Comments

Popular posts from this blog

ट्रम्प की लोकप्रियता बढ़ रही; बिडेन 43% लोगों की पसंद तो ट्रम्प को 40% लोगों का साथ, जुलाई में यह अंतर 7% से ज्यादा था

ट्रम्प मेक अमेरिका ग्रेट अगेन के नारे के साथ इस साल चुनाव जीतना चाहते हैं, जिनपिंग चीन की इमेज सुधारने की कोशिश में हैं

फ्रांस में फिर एक दिन में 14 हजार से ज्यादा मामले सामने आए, ब्रिटेन में प्रतिबंधों का विरोध; दुनिया में 3.30 करोड़ केस