अंतरिक्ष से तीन यात्रियों की पृथ्वी पर वापसी, 6 महीने में बायोलॉजी, अर्थ साइंस, ह्यूमन रिसर्च, फिजिकल साइंस में कई एक्सपेरिमेंट्स किए

इंटरनेशनल स्पेस स्टेशन से 6 महीने बाद तीन अंतरिक्ष यात्री शुक्रवार को पृथ्वी पर लौट आए। इनमें अमेरिकी अंतरिक्ष एजेंसी नासा के दो जेसिका मीर और एंड्रयू मॉर्गन और रूस के ओलेग स्क्रिपोचका शामिल थे। सभी ने रूसियन विमान सोयूज एमएस-15 से वापसी की। विमान की पैराशूट लैंडिंग शुक्रवार को कजाखस्तान के दक्षिणी इलाके दज्जकजगान के एक कस्बे के नजदीक हुई। तीनों अंतरक्षि यात्री गुरुवार को इंटरनेशनल स्पेस स्टेशन से रवाना हुए थे।

बता दें दो अंतरिक्ष यात्री मीर और ओलेग25 सितंबर 2019 को सोयूज एमएस-15 से ही आईएसएस पर पहुंचे थे। अपनी पहली अंतरिक्ष यात्रा के दौरान मॉर्गन और मीर ने बायोलॉजी, अर्थ साइंस, ह्यूमन रिसर्च, फिजिकल साइंस और टेक्नोलॉजी डेवलपमेंट में सैकड़ों एक्सपेरिमेंट्स किए। और इनके विकास में याेगदान दिया।

मॉर्गन स्पेस में 272 दिन रहेधरती के कुल 4352 चक्कर लगाए

अंतरिक्ष यात्रियों को यह दल 62वें अभियान का हिस्सा था। अब वह इन कार्यों को 63वें अभियान के सदस्यों को सौंप देंगे। एस्ट्रेनॉट एंड्रयू मॉर्गन 9 महीने के मिशन पर थे। वे 20 जुलाई 2019 से आईएसएस पर थे। वे 60 से लेकर 62 अंतरिक्ष अभियान का हिस्सा बने। कुल 272 दिन वे स्पेस में रहे। इस पृथ्वी की कक्षा में रहते हुए उन्होंने धरती के कुल 4352 चक्कर लगाए। कुछ चक्करों के आधार पर उन्होंने(1115.3 मिलियन माइल्स) 18 करोड़ 55 लाख 57 हजार 363 किलोमीटर की यात्रा की।



Download Dainik Bhaskar App to read Latest Hindi News Today
ये तीनों अंतरिक्ष यात्री 25 सितंबर 2019 को सोयूज एमएस-15 से ही आईएसएस पर पहुंचे थे और इसी से पृथ्वी पर लौटे हैं।


from Dainik Bhaskar https://ift.tt/3ailbWj

Comments

Popular posts from this blog

ट्रम्प की लोकप्रियता बढ़ रही; बिडेन 43% लोगों की पसंद तो ट्रम्प को 40% लोगों का साथ, जुलाई में यह अंतर 7% से ज्यादा था

ट्रम्प मेक अमेरिका ग्रेट अगेन के नारे के साथ इस साल चुनाव जीतना चाहते हैं, जिनपिंग चीन की इमेज सुधारने की कोशिश में हैं

इटली में लाॅकडाउन पालन कराने के लिए 8000 मेयर ने मोर्चा संभाला; सड़काें पर उतरे, फेसबुक से समझाया फिर भी नहीं माने ताे ड्राेन से अपमान