भारतीय मूल के अमेरिकी पत्रकार की कोरोना से मौत, प्रधानमंत्री मोदी ने निधन पर शोक प्रकट किया

अमेरिका में न्यूयॉर्क कोरोना का एपिसेंटर बन चुके हैं। यहां कोरोना से संक्रमित भारतीय मूल के पत्रकार ब्रह्म कंचीबोटला (66) की मौत हो गई। उनके बेटे सुदामा कंचीबोटला ने बताया कि ब्रह्म पिछले नौ दिनों से अस्पताल में भर्ती थे। कंचीबोटलामें पहली बार 23 मार्च को कोरोना के लक्षण नजर आए थे। तबीयत ज्यादा बिगड़ने पर उन्हें 28 मार्च को लॉन्ग आइलैंड के एकअस्पताल में भर्ती कराया गया, जहां उन्हें ऑक्सीजन मास्क दिया गया। 31 मार्च से उन्हें वेंटिलेटर पर रखा गया था। 6 अप्रैल की सुबह उन्होंने दम तोड़ दिया। ब्रह़म अपने पीछे अपने बेटे सुदामा, पत्नी अंजना और बेटी सिअुजाना को छोड़ गए हैं।प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कंचीबोटला के निधन पर शोक प्रकट किया।

अमेरिका में अब तक 12 हजार 841 लोगों की मौत हो चुकी है। यहां चार लाख लोग संक्रमित हैं। इनमें 4,758 मौतें अकेले न्यूयॉर्क राज्य में हो चुकी हैं। न्यूयॉर्क सिटी में शवों को दफनाने के लिए कब्रिस्तान में जगह नहीं बची है। अधिकारी शवों को सार्वजनिक जगहों पर अस्थायी तौर पर दफनाने की योजना पर काम कर रहे हैं। जब स्थिति बेहतर होगी तो शवों को परिवार वालों की इच्छा के मुताबिक सही जगह दफनाएंगे।

ब्रह्म कंचीबोटला के निधन से दुखी हूं: मोदी

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने ट्वीट कर कहा, ‘‘ भारतीय अमेरिकी पत्रकार ब्रह्म कंचीबोटला के निधन से दुखी हूं। उन्हें भारत और अमेरिका को करीब लाने की उनकी कोशिशों के लिए हमेशा याद किया जाएगा। उनके परिवार के सदस्यों केप्रति मेरी संवेदनाएं। ओम शांति।’’

अंतिम संस्कार को लेकर परिवार संशय में
कंचीबोटला के बेटे ने कहा ‘‘कोरोना को लेकर न्यूयॉर्क में कई पाबंदियां लगाई गई हैं। ऐसे में यह पता नहीं है कि उनका अंतिम संस्कार कब होगा। हमने अभी तक इसके लिए कोई तारीख तय नहीं की है। इसमें काफी कम लोग शामिल हो सकेंगे। सरकार ने अंतिम संस्कार में सिर्फ 10 लोगों के शामिल होने की इजाजत दी है।’’
कंचीबोटला पिछले 28 साल से अमेरिका में थे
कंचीबोटला पिछले 28 साल से अमेरिका में रह रहे थे। भारत के कई मीडिया संस्थानों में सेवा देने के बाद वे 1992 में अमेरिका गए थे। उन्होंने मर्जर मार्केट्स नामक फाइनेंनशियल पब्लिकेशन में 11 साल तक सेवाएं दी। इसके साथ ही न्यूज इंडिया टाइम्स साप्ताहिक अखबार में भी काम किया था। वे फिलहाल न्यूज एजेंसी यूएनआई के संवाददाता के तौर पर अपनी सेवाएं दे रहे थे।



Download Dainik Bhaskar App to read Latest Hindi News Today
भारतीय मूल के अमेरिकी पत्रकार ब्रह़म कंचीबोटला कोरोना संक्रमित पाए गए थे। नौ हफ्ते तक अस्पताल में भर्ती रहने के बाद 6 अप्रैल की सुबह उनकी मौत हो गई। वे दो दशक से ज्यादा समय से अमेरिका में पत्रकार थे।- फाइल फोटो


from Dainik Bhaskar https://ift.tt/2xUq8an

Comments

Popular posts from this blog

ट्रम्प की लोकप्रियता बढ़ रही; बिडेन 43% लोगों की पसंद तो ट्रम्प को 40% लोगों का साथ, जुलाई में यह अंतर 7% से ज्यादा था

ट्रम्प मेक अमेरिका ग्रेट अगेन के नारे के साथ इस साल चुनाव जीतना चाहते हैं, जिनपिंग चीन की इमेज सुधारने की कोशिश में हैं

फ्रांस में फिर एक दिन में 14 हजार से ज्यादा मामले सामने आए, ब्रिटेन में प्रतिबंधों का विरोध; दुनिया में 3.30 करोड़ केस