ट्रम्प ने कहा- कोरोना का सबसे बुरा दौर संभवत: बीत चुका, देश जल्द फिर से खुलेगा

वॉशिंगटन. अमेरिका के राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रम्प ने बुधवार कोकहा गया कि देश में कोरोना वायरस कासंभवतसबसे बुरा दौर बीत चुका है। कोरोना के खिलाफ हमारी आक्रामक रणनीति काम कर रही है। लड़ाई जारी है, लेकिन डेटा बताते हैं कि राष्ट्रीय स्तर पर हम कोरोना के नए मामलों के लिहाज से शिखर (सबसे ज्यादा संख्या) को पार कर चुके हैं।उन्होंने बताया कि वेगुरुवार को अर्थव्यवस्था को फिर से खोलने के लिए नई गाइडलाइंस का ऐलान करेंगे।

अमेरिकी राष्ट्रपति ने कहा कि कोरोना को लेकर ताजा घटनाक्रम बताते हैं कि हम मजबूत स्थिति में आ गए हैं। हम देश को फिर से खोलने के लिए गाइडलाइंस को अंतिम रूप दे सकते हैं। व्हाइट हाउस के कोरोना रेस्पांस कोऑर्डिनेटर डॉ. डी. ब्रिक्स ने कहा है कि 9 राज्यों में एक हजार के आसपास केस हैं। इनमें रोजाना 30 से कम मामले सामने आ रहे हैं। उधर, ट्रम्प का कहना है कि देश के करीब 30 राज्य अच्छी स्थिति में हो सकते हैं। ट्रम्प ने कहा, 'अगर रूस को कोरोनावायरस मरीजों के उपचार के लिए वेंटिलेटर की जरूरत पड़ती है वह उसकी मदद करेगा। उन्होंने कहा, “मुझे लगता है कि रूस को वेंटिलेटर की जरूरत है। वे कठिन समय से गुजर रहे हैं। हम उनकी मदद करने जा रहे हैं।'

अमेरिका: 30 हजार 206 नए केस मिले
अमेरिका में 24 घंटे में 30 हजार 206 केस मिले हैं। इसके साथ ही देश में संक्रमितों की कुल संख्या छह लाख 44 हजार 89 पर पहुंच गई है। अब तक 28 हजार 529 मौतें हो चुकी हैं। उधर, सबसे ज्यादा संक्रमित न्ययूॉर्क में कुल 11 हजार 586 मौतें हो चुकी हैं, जबकि यहां दो लाख 14 हजार 648 केस की पुष्टि हो चुकी है।



Download Dainik Bhaskar App to read Latest Hindi News Today
यह तस्वीर व्हाइट हाउस की है। यहां डोनाल्ड ट्रम्प ने मीडिया ब्रीफिंग में हिस्सा लिया। उधर, अमेरिका में पिछले 24 घंटे में दो हजार 569 मौतें हुईं।


from Dainik Bhaskar https://ift.tt/2VuFZo0

Comments

Popular posts from this blog

ट्रम्प की लोकप्रियता बढ़ रही; बिडेन 43% लोगों की पसंद तो ट्रम्प को 40% लोगों का साथ, जुलाई में यह अंतर 7% से ज्यादा था

ट्रम्प मेक अमेरिका ग्रेट अगेन के नारे के साथ इस साल चुनाव जीतना चाहते हैं, जिनपिंग चीन की इमेज सुधारने की कोशिश में हैं

फ्रांस में फिर एक दिन में 14 हजार से ज्यादा मामले सामने आए, ब्रिटेन में प्रतिबंधों का विरोध; दुनिया में 3.30 करोड़ केस