अल्बर्ट से हमें जरूर सीखना चाहिए; दूर रहकर भी कैसे साथ रह सकते हैं सब

अल्बर्ट कोनर पत्नी केनी के कीमोथैरेपी सेशन में शामिल नहीं हो सके, क्योंकि कोरोना संक्रमण से जुड़ी पाबंदियों के कारण उन्हें अस्पताल ने प्रवेश देने से मना कर दिया था। मायूस होने की जगह अल्बर्ट पार्किंग में ही बैठकर पत्नी के ठीक होकर वापस आने का इंतजार करने लगे।

अल्बर्ट फेसबुक पर तस्वीरें शेयर की

पोस्टर पर मैसेज लिखा- ‘मैं तुम्हारे साथ नहीं रह सकता, लेकिन मैं यहीं हूं...लव यू'। वहीं हॉस्पिटल की दूसरी मंजिल पर इलाज करा रही केनी की नजर जब अल्बर्ट पर पड़ी, तो तस्वीरें पोस्ट करते हुए फेसबुक पर लिखा- दूर रहकर भी इस तरह साथ रहने का शुक्रिया अल्बर्ट...। इस पर यूजर्स ने लिखा है- यही तो है सोशल डिस्टेंसिंग के सही मायने..।

पत्नी केनी और दूर सड़क के किनारे बैठेअल्बर्ट कोनर।

  • केनी को दूसरे चरण का स्तन कैंसर है। शुगरलैंड, टेक्सास के एंडरसन मेडिकल सेंटर में उसका इलाज चल रहा है।
  • अल्बर्ट कहते हैं, ‘मैंने केनी से साथ रहने का वादा किया है, उसे कैसे तोड़ सकता हूं। वो जल्दी ठीक हो जाएगी।'
  • अल्बर्ट ने पोस्टर में अस्पताल कर्मचारियों के लिए एक धन्यवाद नोट भी लिखा है।


Download Dainik Bhaskar App to read Latest Hindi News Today
कोरोना संक्रमण से जुड़ी सावधानियों के कारण अल्बर्ट को अस्पताल में प्रवेश नहीं दिया गया था। जिसके बाद अल्बर्ट ने पोस्टर के जरिए अपनी पत्नी तक संदेश पहुंचाया।


from Dainik Bhaskar https://ift.tt/2Xg5LPy

Comments

Popular posts from this blog

ट्रम्प की लोकप्रियता बढ़ रही; बिडेन 43% लोगों की पसंद तो ट्रम्प को 40% लोगों का साथ, जुलाई में यह अंतर 7% से ज्यादा था

अमेरिका में चुनाव के दिन बाइडेन समर्थकों ने 75% और ट्रम्प सपोर्टर्स ने 33% ज्यादा शराब खरीदी

124 साल पुरानी परंपरा तोड़ेंगे ट्रम्प; मीडिया को आशंका- राष्ट्रपति कन्सेशन स्पीच में बाइडेन को बधाई नहीं देंगे