सोशल डिस्टेंसिंग के लिए लोग घरों में रहें, इसलिए जापान के एक पार्क में लगे ट्यूलिप के लाखों फूल उखाड़ दिए

जापान के एक बगीचे में ट्यूलिप की100 किस्मों के लाखों फूल खिले मगर इन सभी को काट दिया गया। कारण किलॉकडाउन के बीच लोग इन्हें देखने के लिए इकट्‌ठा ना हों। दरअसल, सकुरा शहर के फुरुसुका स्क्वायर पार्क में हर साल ट्यूलिप फेस्टिवल मनाया जाता है। इसकी शुरुआत 1989 में हुई थी। इस फेस्टिवल कीरौनक सफेद, लाल, पीले और गुलाबी ट्यूलिप के फूलहोते हैं।

लेकिन, इस बार लोगों को एक-दूसरे के करीब आने से रोकने के लिए फूलों को नष्ट करना पड़ा। अधिकारियों ने बताया कि यह पार्क 7000 वर्ग मीटर में फैला है। यहां 100 से ज्यादा किस्मों के8 लाख से ज्यादा फूल खिले थे। लेकिन, लॉकडाउन के बीच लोग इन्हें देखने के लिए इकट्ठा होने लगे थे। इससे सोशल डिस्टेंसिंग के नियमों का पालन नहीं हो रहा था।

जापान में 11 हजार से ज्यादा कोरोना पॉजिटिव

रिपोर्ट के मुताबिक, जापान में 11 हजार से ज्यादा कोरोना पॉजिटिव मरीज मिल चुके हैं। 281 मरीजों की मौत हो चुकी है, जबकि 1356 मरीज ठीक हो चुके हैं। जापान के नागासाकी तट पर मरम्मत के लिए रुके इटली के क्रूज पर 33 लोग संक्रमित मिले हैं।

फुरुसुका स्क्वायर पार्क में खिले ट्यूलिप के फूलों को काटताकर्मचारी। फूलों को काटने में तीन दिन का समय लगा।

फूलों को नष्ट करना आसान नहीं था, लेकिन करना पड़ा

बगीचे कीनिगरानी में तैनात अधिकारी ताकाहीरो कोगो नेकहा,‘हम चाहते थे कि ज्यादा से ज्यादा लोग इन फूलों को देखें। लेकिन, इस वक्त मानव जीवन को खतरा है। फूलों को नष्ट करने का फैसला आसान नहीं था, लेकिन हालात ने मजबूर किया।’

देखते ही देखते खेत जैसा दिखने लगा बगीचा

फूलों को काटने के बाद पार्क में ट्रैक्टर चला दिया गया। पार्क अब खेत जैसा दिखने लगा।


Download Dainik Bhaskar App to read Latest Hindi News Today
सकुरा शहर के फुरुसुका स्क्वायर पार्क में हर साल ट्यूलिप फेस्टिवल मनाया जाता है। इसकी रौनक सफेद, लाल, पीले और गुलाबी ट्यूलिप होते हैं।


from Dainik Bhaskar https://ift.tt/2XZSGtQ

Comments

Popular posts from this blog

ट्रम्प की लोकप्रियता बढ़ रही; बिडेन 43% लोगों की पसंद तो ट्रम्प को 40% लोगों का साथ, जुलाई में यह अंतर 7% से ज्यादा था

ट्रम्प मेक अमेरिका ग्रेट अगेन के नारे के साथ इस साल चुनाव जीतना चाहते हैं, जिनपिंग चीन की इमेज सुधारने की कोशिश में हैं

इटली में लाॅकडाउन पालन कराने के लिए 8000 मेयर ने मोर्चा संभाला; सड़काें पर उतरे, फेसबुक से समझाया फिर भी नहीं माने ताे ड्राेन से अपमान