अमेरिका और ब्राजील के बाद फ्रांस में भी लॉकडाउन का विरोध, पेरिस में दंगा भड़का; पुलिस पर बर्बरता और नस्लभेद का आरोप

अमेरिका और ब्राजील के बाद फ्रांस में लॉकडाउन काविरोध शुरू हो गया है। फ्रांस की राजधानी पेरिस में रविवार को लॉकडाउन के विरोध में दंगे भड़क उठे। यह दंगे उत्तरी पेरिस के विलेन्यूवे ला-गेरेन में भड़के। पुलिस पर आरोप है कि वह लॉकडाउन का पालन करवाने के दौरान गैर-ईसाई अल्पसंख्यकों के साथ बर्बरता से पेश आई और नस्लभेदी रवैया अपनाया। फ्रांस के राष्ट्रपति इमैनुअल मैक्रों ने सोशल डिस्टेंसिंग के प्रतिबंधों को 11 मई तक बढ़ा दिया है। इसी के बाद पेरिस में यह दंगे भड़के हैं।

दंगों के दौरानभारी संख्या में लोग सरकार के विरोध में सड़कों पर उतर गए।पुलिस ने आंसू गैस छोड़ी, रबर बुलेट चलाई और लाठी चार्ज भी किया। तस्वीरों में पुलिस का लाठीचार्ज और लोगों का विरोध स्पष्ट नजर आया। इस दौरान सड़कों पर पटाखे भी छोड़े गए।

पेरिस की सड़कों पर लोगों ने आतिशबाजी की और वाहनों में आग लगा दी। पुलिस ने बल प्रयोग किया।

30 साल का बाइकर पुलिस कार से टकराया, उसके बाद भड़के दंगे

पेरिस में 30 साल का एक बाइक सवार एक अनियंत्रित पुलिस कार की चपेट में आकर गंभीर रूप से घायल हो गया था। इसके बाद लोग भड़क गए और प्रदर्शन करने लगे। लोगों ने कई वाहन जला दिए और आतिशबाजी भी की। लोगों का कहना है कि बाइक सवार जा रहा था तो पुलिस ने जानबूझकर अपनी कार का गेट खोल दिया, जिससे वह उससे टकराकर गंभीर रूप से घायल हो गया। फ्रांसीसी पत्रकार ताहा बुहाफ्स ने घटना से जुडा एक वीडियो पोस्ट किया है। यहां पुलिस पर नस्लवाद के आरोप लगाए गए हैं।

फ्रांस में मौतों की दर में कमी आई
फ्रांस के राष्ट्रपति इमैनुअल मैक्रों ने फ्रांस में सोशल डिस्टेसिंग के नियम 11 मई तक बढ़ा दिए हैं। फ्रांस में वायरस से होने वाली मौतों में सोमवार को तीन हफ्तों में सबसे ज्यादा कमी आई है। यहां 395 मौतें दर्ज की गईं। यहां कुल 19,718 मौतें दर्ज की गई हैं।



Download Dainik Bhaskar App to read Latest Hindi News Today
उत्तरी पेरिस के विलेन्यूवे ला-गेरेन इलाके में दंगे भड़के। लोगों ने आगजनी भी की।


from Dainik Bhaskar https://ift.tt/3anJWjR

Comments

Popular posts from this blog

ट्रम्प की लोकप्रियता बढ़ रही; बिडेन 43% लोगों की पसंद तो ट्रम्प को 40% लोगों का साथ, जुलाई में यह अंतर 7% से ज्यादा था

ट्रम्प मेक अमेरिका ग्रेट अगेन के नारे के साथ इस साल चुनाव जीतना चाहते हैं, जिनपिंग चीन की इमेज सुधारने की कोशिश में हैं

फ्रांस में फिर एक दिन में 14 हजार से ज्यादा मामले सामने आए, ब्रिटेन में प्रतिबंधों का विरोध; दुनिया में 3.30 करोड़ केस