कोरोना से मरने वालों का आंकड़ा 1 लाख के करीब, न्यूयॉर्क टाइम्स ने फ्रंट पेज पर 1000 मृतकों के नाम छापे

अमेरिका में कोरोना से मरने वालों की संख्या 1 लाख के करीब पहुंच गई। न्यूयॉक टाइम्स अखबार ने रविवार को अपने फ्रंट पेज पर 1000 मृतकों केनाम छापे। अखबार ने इन सभी के लिए सिर्फ एक लाइन का शोक संदेश लिखा, ‘‘अमेरिका में 1 लाख मौतों के करीब, एक बेहिसाब नुकसान। वे महज एक लिस्ट में शामिल नहीं थे, वे हम सब थे।’’
अखबार ने लिखा कि यहां जिन एक हजार लोग के नामहैं वे कुल मौतों का सिर्फ 1% हैं। यह लिस्ट इतनी लंबी थी कि अखबार के 12 वें पेज तक मृतकों केनाम लिखेथे। इन लोगोंका नाम, उम्र और पता के बाद उनके बारे में एक लाइन लिख कर उन्हें याद किया गया था।

न्यूयॉर्क टाइम्स के संडे इडिशन में तस्वीरें और खबरों की जगह कोरोना से मरने वाले 1 हजार लोगों के नाम थे।

अखबार का फ्रंट पेज सोशल मीडिया में वायरल

न्यूयॉर्क टाइम्स ने अपने इस आर्टिकल में लिखा कि सिर्फ संख्या के आधार पर वायरस का अमेरिका पर असर मापा नहीं जा सकता। चाहे मृतकों , मरीजों या इसकी वजह से नौकरियां गंवानें वालों की संख्या क्यों न हो।अखबार ने शनिवार देर रात जैसे ही अपने फ्रंट पेज का स्क्रीन शॉट जारी किया, यह सोशल मीडिया में वायरल हो गया। सोशल मीडिया यूजर्स ने मृतकों को याद करने के इस अनूठे तरीके के लिए अखबार को धन्यवाद दिया

मृतकों को इस अंदाज में याद किया गया:

  • राेमी कॉन, 91, न्यूयॉर्क सिटी, गेस्टापो से 56 यहूदी परिवारों को बचाया था।
  • अल्बर्ट पेट्रोसेली,73, न्यूयॉर्क सिटी के एक चीफ, जिन्हों 9/11 के दुर्भाग्यपूर्ण दिन आए कॉल का जवाब दिया था।
  • सेड्रिक डिक्सन,48, न्यूयॉर्क सिटी, हार्लेम के एक पुलिस डिक्टेटिव जिनके पास पूछताछ का गिफ्ट था।
  • बैसी ऑफिओंग,25, जिसने अपने दोस्त की बदतर हालत देखी और उनका सर्वश्रेष्ठ सामने लेकर आए।
  • चार्ल्स कॉन्स्टैंटिनो,86, मेनलो पार्क, एनजे, न्यूयॉर्क टाइम्स के साथ 40 सालों तक काम किया।

9/11 के बाद भी ऐसे ही मृतकों को याद किया था

न्यूयॉर्क टाइम्स ने दूसरी बार इस अंदाज में इस तरह का काम किया है। इससे पहले 2011 के 9 सितंबर को वर्ल्ड ट्रेड सेंटर पर हुए हमले में मारे गए लोगों को ऐसे ही श्रद्धांजलि दी थी। इस हमले में 2 हजार 977 लोगों की मौत हुई थी और 25 हजार से ज्यादा लोग घायल हुए थे।



Download Dainik Bhaskar App to read Latest Hindi News Today
अमेरिका के वर्जिनिया स्थित एक सिमेट्री में यूएस सर्विस कर्मचारी के हेडस्टोन पर झंडा लगाता एक अमेरिकी सैनिक। सरकार ने यहां पर कोरोना पीड़ितों के सम्मान में सभी सरकारी बिल्डिंगों और राष्ट्रीय धरोहरों पर राष्ट्रीय ध्वज तीन दिन के लिए झुकाने का फैसला किया है।


from Dainik Bhaskar https://ift.tt/3bXi5b8

Comments

Popular posts from this blog

चीन ने कहा- हमारा समुद्री अधिकार नियम के मुताबिक, जवाब में ऑस्ट्रेलिया बोला- उम्मीद है आप 2016 का फैसला मानेंगे

अफगानिस्तान सीमा को खोलने की मांग कर रहे थे प्रदर्शनकारी, पुलिस ने फायरिंग की; 3 की मौत, 30 घायल

रूलिंग पार्टी की बैठक में नहीं पहुंचे ओली, भारत से बिगड़ते रिश्ते के बीच इस्तीफे से बचने की कोशिश