प्रदूषण घटा तो काठमांडू घाटी से नजर आने लगी हिमालय की बर्फीली चोटियां, करीब 200 किलोमीटर दूर है एवरेस्ट

कोरोना की वजह से दुनिया भर में गाड़ियों का इस्तेमाल कम हुआ है, फैक्ट्रियां बंद हैं। इससे हवा में प्रदूषण का स्तर कम हुआ है। लोगों को सैकड़ों किलोमीटर की दूरी से ही प्रकृति के बेहतरीन नजारे देखने को मिल रहे हैं। कई साल के बाद काठमांडू घाटी से हिमालय की बर्फीली चोटियां नजर आई हैं। काठमांडू घाटी से एवरेस्ट करीब 200 किलोमीटर दूर है।
काठमांडू घाटी से ली गई बर्फ से ढ़की दुनिया की इस सबसे ऊंची चोटी की कई तस्वीरें सोशल मीडिया पर वायरल हो रही हैं। इन तस्वीरों को नेपाल टाइम्स के फोटोग्राफर आभूषण गौतम ने अपने कैमरे में कैद किया है।

सोशल मीडिया यूजर्स दे रहे प्रदूषण कम करने का सुझाव

सोशल मीडिया यूजर्स इन तस्वीरों को देखने के बाद प्रदूषण कम करने का सुझाव दे रहे हैं। एक यूजर सुषमा जोशी ने ट्वीट किया क्या हम इसे ऐसे ही रख सकते हैं। नेपाल हर साल करोड़ों डॉलर खर्च करता है जिससे हमारे स्वस्थ युवा अपनी कारों और मोटरसाइकिल से शहरों को प्रदूषित कर चुके हैं। उन्हें साइकिल का इस्तेमाल करने के लिए कहा जाए। इससे हमारी हवा स्वच्छ होगी और मंदी के इस दौर में हम करोड़ो डॉलर बचा सकेंगे।

##

इलेक्ट्रिक गाड़ियों के इस्तेमाल को बढ़ावा देने की मांग भी उठी
ट्वीटर यूजरमंजीत ढकाल ने ट्वीट किया कि अगर हम सावर्जनिक परिवहन के लिए इलेक्ट्रिक गाड़ियों को बढ़ावा देंतो हमारा आसमान फिर से साफ हो जाएगा। लॉकडाउन में काठमांडू से एवरेस्ट नजर आने के इस अनुभव को हम आगे बढ़ा सकेंगे। इससे हमारी स्थानीय अर्थव्यवस्था को मदद मिलेगी और पड़ोसी देश के साथव्यापारिक घाटा भी कम होगा।

##



Download Dainik Bhaskar App to read Latest Hindi News Today
काठमांडू घाटी से ली गई एवरेस्ट की तस्वीर। इसमें एवरेस्ट के साथ काठमांड घाटी में बने घर नजर आ रहे हैं। यह तस्वीर नेपाल के फोटोग्राफ आभूषण गौतम ने ली है।


from Dainik Bhaskar https://ift.tt/2ABVtjl

Comments

Popular posts from this blog

चीन ने कहा- हमारा समुद्री अधिकार नियम के मुताबिक, जवाब में ऑस्ट्रेलिया बोला- उम्मीद है आप 2016 का फैसला मानेंगे

अफगानिस्तान सीमा को खोलने की मांग कर रहे थे प्रदर्शनकारी, पुलिस ने फायरिंग की; 3 की मौत, 30 घायल

ट्रम्प की लोकप्रियता बढ़ रही; बिडेन 43% लोगों की पसंद तो ट्रम्प को 40% लोगों का साथ, जुलाई में यह अंतर 7% से ज्यादा था