पुलिस अफसर घुटने से 5 मिनट तक गर्दन दबाए रहा, बार-बार गुहार के बाद भी नहीं छोड़ा; सांस रुकने से मौत

अमेरिका के मिनियापोलिस शहर में एक अफ्रीकन-अमेरिकन आदमी कीपुलिस की बर्बरता से मौत हो गई। इस घटना का वीडियो सामने आया है। वीडियो में एक अश्वेतके हथकड़ी लगी हुई है और वह जमीन पर उल्टा लेटा है एक पुलिस अफसर पांच मिनट से ज्यादा समय तक उसकी गर्दन पर अपना घुटना गड़ाए रहता है। बाद में उस आदमी की मौत हो जाती है। इस मामले में अमेरिका में काफी विरोध-प्रदर्शन शुरू हो गए हैं।
मरने वाले अश्वेत का नाम जॉर्ज फ्लॉयड है। मिनियापोलिस के मेयर जैकब फ्रे ने जॉर्ज फ्लॉयड की हिरासत में मौत के बाद चार पुलिस अधिकारियों को बर्खास्त कर दिया है।

बार-बार कहता रहा कि उसे सांस नहीं आ रही

वीडियो में सुना जा सकता है कि करीब 40 साल का जॉर्ज लगातार पुलिस अफसर से घुटना हटाने की गुहार लगाता है। वह कहता है, ‘‘आपका घुटना मेरे गर्दन में है, मैं सांस नहीं ले पा रहा हूं... ममा. ममा’’, धीरे-धीरे उसकी हरकत बंद हो जती है। इसके बाद अफसर कहते हैं ‘उठो और कार में बैठो’तब भी उसकी कोई प्रतिक्रिया नहीं आती। इस दौरान आस-पास काफी भीड़ जमा होती है। उसे तुरंत अस्पताल ले जाया जाता है, जहां उसकी मौत हो जाती है।
अधिकारियों पर चलाया जा रहा मुकदमा
मिनियापोलिस के मेयर जैकब फ्रे ने इस घटना पर नाराजगी जताते हुए बताया कि अधिकारियों पर मुकदमा चलाया जा रहा है। उन्होंने कहा, अमेरिका में अश्वेत होने का ये मतलब नहीं कि उसे मौत की सजा दे दी जाए।नागरिक अधिकारों के वकील बेन क्रम्प ने कहा कि फ्लायड को पुलिस ने धोखाधड़ी के आरोप में पकड़ा था। उस पर फर्जीचेक देने और जाली नोट के इस्तेमाल के आरोप थे। यह एक हिंसक अपराध नहीं था, लेकिन ने पुलिस ने अमानवीयता दिखाते हुए पॉवर का गलत इस्तेमाल कर उसकी हत्या कर दी।
एफबीआई कर रही मामले की जांच
मिनियोपोलिस के पुलिस चीफमैडारिया एराडोन्डो ने बताया कि मामलाएफबीआई को सौंप दिया गया है। उस पर अधिकारों के गलत इस्तेमाल का केस चलाया जाएगा, लेकिन विरोध कर रहे लोगों की मांग है कि अफसर पर हत्या का मामला दर्ज होना चाहिए। उसके साथ शामिल सभी अधिकारियों पर भी हत्या का मामला दर्ज होना चाहिए।
अश्वेतों पर पुलिस की बर्बरता की बात नयीनहीं
फ्लायड की मौत ने 2014 में न्यूयॉर्क के एरिक गार्नर की हत्या की याद दिला थी। यहां भी पुलस ने एरिक का गला चोक कर दिया था। एरिक पर अवैध रूप से सिगरेट बेचने के का आरोप था। इसी साल13 मार्चको लुईसविले में केंटकी के तीन गोरे पुलिसवालों ने एक ड्रग इंवेस्टिगेशन के दौरान अश्वेत महिला ब्रेन्ना टेलर की गोली मार कर हत्या कर दी थी।
अमेरिका के सिविल लिबर्टीज यूनियन (एसीएलयू) ने कहा कि मिनियापोलिस की घटना यह दिखाती है कि अमेरिकन पुलिस मामूली आरोपों पर भी अफ्रीकी अमेरिकियों पर कठोर व्यवहार करती है।



Download Dainik Bhaskar App to read Latest Hindi News Today
अमेरिका के मिनियोपोलिस में अश्वेत जॉर्ज फ्लायड की मौत के बाद प्रदर्शन करते लोग। जॉर्ज फ्लायड की मौत पुलिस की बर्बरता के कारण हुई थी।


from Dainik Bhaskar https://ift.tt/2XwNjQZ

Comments

Popular posts from this blog

ट्रम्प की लोकप्रियता बढ़ रही; बिडेन 43% लोगों की पसंद तो ट्रम्प को 40% लोगों का साथ, जुलाई में यह अंतर 7% से ज्यादा था

ट्रम्प मेक अमेरिका ग्रेट अगेन के नारे के साथ इस साल चुनाव जीतना चाहते हैं, जिनपिंग चीन की इमेज सुधारने की कोशिश में हैं

इटली में लाॅकडाउन पालन कराने के लिए 8000 मेयर ने मोर्चा संभाला; सड़काें पर उतरे, फेसबुक से समझाया फिर भी नहीं माने ताे ड्राेन से अपमान