स्पेन में एक ही दिन में 688 मौतें, जबकि 7 दिन में 619 जानें गईं; मैड्रिड में कोरोना संकट से मुकाबले में नाकामी पर कारों की रैली निकाली गई

स्पेन में कोरोना से एक ही दिन में 688 लोगों ने दम तोड़ा है, जबकि पिछले सात दिन में यहां कुल 619 मौतें हुई हैं। स्पेन में 1787 नए मामले आए हैं। यह पिछले छह दिनों में एक दिन का सबसे बड़ा आंकड़ा है। चौंकाने वाली बात यह है कि एक दिन पहले यहां 593 मामले आए थे और 52 मौतें हुई थीं।

स्पेन में 11 मई को लॉकडाउन खोला गया था। इसके तहत बार, रेस्तरां खुल गए थे। अधिकतम 10 लोगों को एक समूह में मुलाकात करने की अनुमति दी गई थी। लॉकडाउन खुलने के बाद यहां तीसरी बार एक दिन में 1500 से ज्यादा मामले आए हैं। स्पेन में अब तक 2,81,904 मामले आए हैं। 28,628 मौतें हुई हैं।

दुनिया के टॉप 10 कोरोना प्रभावित देशों में अमेरिका अब भी सबसे ऊपर है। इस सूची में यूरोप के 6 और मध्य-पूर्व के दो देश शामिल हैं। उधर, यूरोपीय संघ की कोविड-49 रिस्पॉन्स टीम की डायरेक्टर एंड्रिया एमॉन ने कहा है कि यूरोप को कोरोना की दूसरी लहर के लिए तैयार रहना चाहिए।

रूस: 24 घंटे में ब्राजील से फिर आगे, एक दिन में सबसे ज्यादा 150 मौतें भी

रूस सबसे ज्यादा कोरोना प्रभावित देशों में दूसरे स्थान पर है। 24 घंटे में रूस, ब्राजील में टक्कर रही। बाद में 3,35,882 मामलों के साथ ब्राजील से रूस आगे हो गया। रूस में 3,388 मौतें हो चुकी हैं। यहां एक दिन में सबसे ज्यादा 150 मौतें भी हुई हैं। रूस में मौतों की दर अन्य सबसे ज्यादा संक्रमित देशों से कम है।

रूस के संक्रामक रोग विभाग की प्रमुख डॉ. एलीना मैलिनिकोवा का कहना है कि ऐसा इसलिए है क्योंकि संक्रमण का सही समय पर पता चल रहा है। लोग लक्षण दिखते ही इलाज करा रहे हैं।

अमेरिका: ट्रम्प बोले-चर्च खुलें; जर्मनी में प्रार्थना सभा के बाद संक्रमण बढ़ा

अमेरिका में राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रम्प ने कहा है कि सभी राज्यों को अब चर्च जैसे प्रार्थनाघर खोल देना चाहिए। ये स्थल जरूरी सेवाओं में आते हैं। अमेरिका में अब तक कोरोना के 16,49,333 मामले आए हैं जबकि 97,776 मौतें हुई हैं। उधर, जर्मनी में फ्रैंकफर्ट की चर्च में प्रार्थना सभा के बाद कई लोग संक्रमित मिले हैं।

धार्मिक संगठन इवेंजलिकल क्रिश्चन बाप्टिस्ट के उपप्रमुख व्लादिमीर प्रिट्जकाऊ ने इसकी पुष्टि की है। हालांकि, उन्होंने मरीजों की संख्या नहीं बताई। उन्होंने कहा कि 6 लोग अस्पताल में हैं, बाकी होम क्वारैंटाइन हैं।



Download Dainik Bhaskar App to read Latest Hindi News Today
तस्वीर स्पेन की राजधानी मैड्रिड की है। लोगों ने यहां सरकार के खिलाफ कार रैली निकाली। कुछ लोगों ने कार के ऊपर बैठकर विरोध प्रदर्शन किया। उन्होंने कहा कि सरकार कोरोना संकट का मुकाबला करने में नाकाम रही।


from Dainik Bhaskar https://ift.tt/2ZAgoO7

Comments

Popular posts from this blog

ट्रम्प की लोकप्रियता बढ़ रही; बिडेन 43% लोगों की पसंद तो ट्रम्प को 40% लोगों का साथ, जुलाई में यह अंतर 7% से ज्यादा था

अमेरिका में चुनाव के दिन बाइडेन समर्थकों ने 75% और ट्रम्प सपोर्टर्स ने 33% ज्यादा शराब खरीदी

124 साल पुरानी परंपरा तोड़ेंगे ट्रम्प; मीडिया को आशंका- राष्ट्रपति कन्सेशन स्पीच में बाइडेन को बधाई नहीं देंगे