अश्वेत की मौत पर दंगा भड़कने से व्हाइट हाउस को बंद किया, फ्लॉयड की गर्दन पर घुटना रखने वाले पुलिसकर्मी पर हत्या का आरोप

अश्वेत व्यक्ति जॉर्ज फ्लॉयड की मौत में शामिल एक पूर्व मिनीपोलिस पुलिस अफसर पर थर्ड-डिग्री हत्या का आरोप लगाया गया है। पुलिस अफसर डेरेक चौविन पर हेनेपिन काउंटीअटॉर्नी कार्यालय ने यह आरोप लगाया है। ‘द हिल’ ने काउंटी के अटॉर्नी माइक फ्रीमैन के हवाले से ये जानकारी दी। उधर, फ्लॉयड की मौत के बाद भड़के दंगे के चलते व्हाइड हाउस को लॉकडाउन कर दिया गया है। मीडिया के मुताबिक, शुक्रवार को सीक्रेट सर्विस ने व्हाइट हाउस के बाहर एक व्यक्ति को हिरासत में भी लिया था।

मिनेसोटा में हत्या के आरोपों में 25 साल तक की जेल की सजा का प्रावधान है। चौविन को एक दिन पहले ही हिरासत में लिया गया था। फ्लॉयड की गिरफ्तारी का फुटेज वायरल होने के बाद मंगलवार को चार अफसरों को निकाला गया था। चौविन उनमें से एक था। मिनीपोलिस में 26 मई कोअश्वेत फ्लायड को पुलिस ने धोखाधड़ी के मामूली आरोप में गिरफ्तार किया।

पुलिस8 मिनट तक गर्दन दबाए रही

इस दौरान एक पुलिस अफसर उसे सड़क पर उल्टा लिटाकर आठ मिनट तक घुटने से गर्दन दबाए रहा था। उसके हाथों में हथकड़ी थी। इसका वीडियो भी वायरल हुआ था। 40 साल का जॉर्ज लगातार पुलिस अफसर से घुटना हटाने की गुहार लगाता रहा। वह कहता है, ‘‘आपका घुटना मेरे गर्दन पर है। मैं सांस नहीं ले पा रहा हूं... ।’’ धीरे-धीरे उसकी हरकत बंद हो जती है। इसके बाद अफसर कहते हैं ‘उठो और कार में बैठो’ तब भी उसकी कोई प्रतिक्रिया नहीं आती। इस दौरान आस-पास काफी भीड़ जमा होती है। उसे अस्पताल ले जाया जाता है, जहां उसकी मौत हो जाती है।

ट्रम्प ने फ्लॉयड के परिवार से बात की

ट्रम्प ने शुक्रवार को अमेरिकी बिजनेसमैन के साथ राउंडटेबल मीटिंग के दौरान कहा, ‘‘मैंने फ्लॉयड के परिवार से बात की है। इस घटना को लेकर मैंने दुख जताया। यह बेहद भयावह था। यह एक ऐसी घटना थी, जिसके लिए कोई बहाना नहीं था।’’

ट्रम्प ने दंगाइयों को चेतावनी दी

घटना का वीडियो वायरल होने केबाद अमेरिका के मिनेसोटा राज्य के मिनीपोलिस शहर में दंगे भड़क गए। प्रदर्शनकारियों ने पुलिस स्टेशन को तोड़फोड़ के बाद आग के हवाले कर दिया। कुछ जगहों पर लूटपाट हुई। हालात बिगड़ते देख गवर्नर टिम वॉल्ज ने इमरजेंसी लगा दी। न्यूयॉर्क में पुलिस विरोधी प्रदर्शन हुए। इस दौरान कई लोगों को गिरफ्तार भी किया गया है। उधर, राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रम्प ने दंगाइयों को चेतावनी दी। कहा- अगर लूटपाट हुई तो हमारी तरफ से गोलियां चलेंगी।

ट्रम्प के ट्वीट को दूसरी बार रेड फ्लैग किया गया

ट्रम्प के दंगाइयों को लेकर किए गए ट्वीट पर एक बार फिर ट्वीटर ने आपत्ति जताई है।ट्विटर ने चार दिन में दूसरी बार उनके ट्वीट को रेड फ्लैग किया है। ट्विटर ने उनके ट्वीट को दंगा को प्रोत्साहित करने वाला बताया है। सोशल मीडिया प्लेटफॉर्म के चेतावनी के बाद व्हाइट हाउस ने इसे रीट्वीट भी किया है। उनके ट्वीट को ब्लाॉक नहीं किया गया है। हालांकि, उसपर वर्किंग नोटिस लगा दिया गया है। अब उनके ट्वीट पर कमेंट या इसे रीट्वीट नहीं किया जा सकेगा।

यूएन ने कड़े कदम उठाने की मांग की
यूनाइटेड नेशंस (यूएन) की मानवाधिकार उच्चायुक्त मिशेल बैचलेट ने अमेरिका से पुलिस अधिकारियों पर कड़ी कार्रवाई करने की मांग की है। बैचलेट ने कहा कि अमेरिकी पुलिस अधिकारी काफी लंबे समय से अफ्रीकन-अमेरिकन लोगों की हत्या करते रहे हैं। यह घटना नई नहीं है। उन्होंने अधिकारियों को दोषी ठहराने और सजा देनी की मांग की हैं। उन्होंने कहा कि पहले भी कई मामलों में ऐसी हत्याओं पर जांच तो हुई है, लेकिन परिणाम कभी सही नहीं आए हैं।



Download Dainik Bhaskar App to read Latest Hindi News Today
न्यूयॉर्क में अफ्रीकन-अमेरिकन व्यक्ति जॉर्ज फ्लॉयड की मौत के बाद पुलिस पर कार्रवाई की मांग को लेकर प्रदर्शन करते लोग।


from Dainik Bhaskar https://ift.tt/3gAZEwj

Comments

Popular posts from this blog

ट्रम्प की लोकप्रियता बढ़ रही; बिडेन 43% लोगों की पसंद तो ट्रम्प को 40% लोगों का साथ, जुलाई में यह अंतर 7% से ज्यादा था

ट्रम्प मेक अमेरिका ग्रेट अगेन के नारे के साथ इस साल चुनाव जीतना चाहते हैं, जिनपिंग चीन की इमेज सुधारने की कोशिश में हैं

फ्रांस में फिर एक दिन में 14 हजार से ज्यादा मामले सामने आए, ब्रिटेन में प्रतिबंधों का विरोध; दुनिया में 3.30 करोड़ केस