माल्टा के राजदूत ने फेसबुक पर जर्मनी की चांसलर एंजेला मर्केल की तुलना हिटलर से की, बाद में इस्तीफा दिया

फिनलैंड में माल्टा के राजदूत माइकल जमीत को अपने एक विवादास्पद फेसबुक पोस्ट के बाद इस्तीफा देना पड़ा। टाइम्स ऑफ माल्टा के मुताबिक, इस पोस्ट में उन्होंने जर्मनी की चांसलर एंजेला मर्केल की तुलना हिटलर से की थी। अपने पोस्ट में जमीत ने लिखा, ‘‘ 75 साल पहले हमने हिटलर को रोका था। एजेंला मर्केल को कौन रोकेगा? उन्होंने हिटलर के यूरोप को काबू करने के सपने को पूरा किया।’’
विवाद बढ़ने के बाद माल्टा के विदेश मंत्रालय की दखल के बादजमीत को अपना पोस्ट डिलीट करना पड़ा। इसके बाद उन्होंने सरकार को अपना इस्तीफा सौंप दिया। जमीत 2014 से फिनलैंड में बतौर माल्टा के राजदूत तैनात थे।

माल्टा सरकार जर्मनी से माफी मांगेगी
माल्टा के विदेश मंत्री इवारिस्ट बर्तोलो ने कहा है कि जैसे ही मुझे जानकारी मिली हमने जमीत को पोस्ट डिलिट करने के लिए कहा। माल्टा सरकार इसके लिए जर्मनी से माफी मांगेगी। उन्होंने कहा कि राजदूतों को कहा जाएगा कि वे सोशल मीडिया का महत्व समझें। इस प्रकार के प्लेटफॉर्म पर जिम्मेदाराना व्यवहार करें।
नेशनलिस्ट पार्टी ने जमीत के बयान की निंदा की
माल्टा की नेशनलिस्ट पार्टी ने जमीत के बयान की निंदा की। पार्टी ने कहा कि जमीत के बयान माल्टा के राजदूत की तरह नहीं था। जर्मनी और खास तौर पर एंजेला मर्केल ने हमेशा माल्टा की मदद की है। लोगों के उनके बारे में अलग विचार हो सकते हैं लेकिन वह यूरोपीय राजनीति में स्थिरता लाने की कोशिश कर रही है। पार्टी ने पार्टी ने देश की सत्तारूढ़ लेबर सरकार पर जमीत को राजनीतिक मकसद से राजदूत नियुक्त करने का आरोप भी लगाया।



Download Dainik Bhaskar App to read Latest Hindi News Today
माल्टा के फिनलैंड के राजदूत माइकल जमीत ने जर्मनी की चांसलर एंजेला मर्कल के बारे में विवादास्पद पोस्ट किया। इसमें मर्केल की तुलना हिटलर से की।(फाइल फोटो)


from Dainik Bhaskar https://ift.tt/35P8txu

Comments

Popular posts from this blog

चीन ने कहा- हमारा समुद्री अधिकार नियम के मुताबिक, जवाब में ऑस्ट्रेलिया बोला- उम्मीद है आप 2016 का फैसला मानेंगे

अफगानिस्तान सीमा को खोलने की मांग कर रहे थे प्रदर्शनकारी, पुलिस ने फायरिंग की; 3 की मौत, 30 घायल

ट्रम्प की लोकप्रियता बढ़ रही; बिडेन 43% लोगों की पसंद तो ट्रम्प को 40% लोगों का साथ, जुलाई में यह अंतर 7% से ज्यादा था