आखिरी बातचीत: पायलट ने एटीसी से कहा- वी हैव लॉस्ट द इंजन; फिर प्लेन मोबाइल टॉवर से टकराया और घरों पर क्रैश हो गया

कराची में शुक्रवार दोपहर पाकिस्तान एयरलाइंस कंपनी (पीआईए) का प्लेन क्रैश हो गया। इसमें 98 यात्री और क्रू मेंबर थे। प्लेन एयरपोर्ट से कुछ किलोमीटर पहले रिहायशी इलाके पर गिरा। क्रैश होने से पहले पायलट सज्जाद गुल और एयर ट्रैफिक कंट्रोलर के बीच बातचीत हुई थी। इसका ऑडियो टेप भी सामने आया। पायलट ने एटीसी से कहा था कि एयरक्राफ्ट का इंजन खराब हो चुका है। एटीसी ने उससे कहा कि एयरपोर्ट पर दो रनवे खाली हैं, लेकिन पायलट विमान की लैंडिंग नहीं करा सका।

लाहौर से भरी थी उड़ान
लाहौर से यह प्लेन दोपहर 1 बजे उड़ा। 2.33बजे यह 275 फीट की ऊंचाई पर था। इसके कुछ मिनटों बादक्रैश हो गया। पाकिस्तान की वेबसाइट द डॉन के मुताबिक, चश्मदीद शकील अहमदने कहा, “प्लेन सबसे पहले एक मोबाइल टॉवर से टकराया। इसके बाद घरों पर क्रैश हुआ। यहां से एयरपोर्ट चंद किलोमीटर दूर है।”

पायलट और एटीसी की बातचीत
क्रैश के ठीक पहले पायलट सज्जाद गुल की एटीसी से बातचीत हुई। इसका ऑडियो सामने आया है।
पायलट : सर हम सीधा आने की कोशिश कर रहे हैं। इंजन फेल हो चुका है।(वी हैव लॉस्ट द इंजन)
एटीसी : आप नीचे उतरने की कोशिश कीजिए। रनवे तैयार हैं।
पायलट : मे डे (mayday) पाकिस्तान 8303।

यही पायलट के आखिरी शब्द थे। इसके बाद प्लेन क्रैश हो गया।

क्या होता है मे डे (mayday) कॉल?

किसी प्लेन का पायलट या शिप का कैप्टन यह शब्दकभी नहीं बोलनाचाहता। दरअसल, जब किसी प्लेन के पायलट या शिप के कैप्टन को यह लगने लगता है कि अब वो जहाज या शिप को नहीं बचा पाएगा,इन हालात में वो संबंधित एटीसी या कंट्रोल बॉडी से रेडियो कम्युनिकेशन पर बात करता है। आखिरी सफर की आशंका के वक्त किए गए इस कॉल को ही मे डे (mayday) कॉल कहते हैं।

एयरलाइंस ने कहा- रनवे खाली थी, लेकिनप्लेन लैंड नहीं हो सका
पीआईए पाकिस्तान की सरकारी एयरलाइंस कंपनी है। इसके चीफ एग्जीक्यूटिव एयर मार्शल अरशद मलिक ने कहा, “पायलट ने आखिरी बातचीत में बताया था कि एयरक्राफ्ट में टेक्निकल फॉल्ट है। एटीसी ने उसको बताया कि दो रनवे खाली हैं। वो किसी पर भी लैंड कर सकता है। लेकिन, उसने एक चक्कर लगाने का फैसला किया। उसने ऐसा क्यों किया? टेक्नीकल फॉल्ट क्या था? इसकी हम जांच करेंगे।”

कितनी ऊंचाई पर था प्लेन?
प्लेन 275 फीट की ऊंचाई पर था,लेकिनफौरन बाद ये फिर ऊपर चला गया। जब ये525 फीट की ऊंचाई पर था, तब पायलट और एटीसी के बीच आखिरी बातचीत हुई। एविएशन एक्सपर्ट जफर इकबाल कहते हैं, “मुझे शक है कि प्लेन की बॉडी को नुकसान हुआ होगा। हो सकता है कोई पक्षी या कोई दूसरी चीज टकराई हो।” रेस्क्यू में लगी टीम का कहना है कि ऑपरेशन खत्म करने में दो दिन भी लग सकते हैं। कुल 15 घरों को नुकसान पहुंचा है।



Download Dainik Bhaskar App to read Latest Hindi News Today
प्लेन कराची एयरपोर्ट से चंद किलोमीटर दूर एक रिहायशी इलाके पर क्रैश हुआ। 15 घरों को नुकसान पहुंचा है।


from Dainik Bhaskar https://ift.tt/3e7tZR2

Comments

Popular posts from this blog

ट्रम्प की लोकप्रियता बढ़ रही; बिडेन 43% लोगों की पसंद तो ट्रम्प को 40% लोगों का साथ, जुलाई में यह अंतर 7% से ज्यादा था

अमेरिका में चुनाव के दिन बाइडेन समर्थकों ने 75% और ट्रम्प सपोर्टर्स ने 33% ज्यादा शराब खरीदी

124 साल पुरानी परंपरा तोड़ेंगे ट्रम्प; मीडिया को आशंका- राष्ट्रपति कन्सेशन स्पीच में बाइडेन को बधाई नहीं देंगे