अमेरिकी सांसद बोले- संपन्न, ताकतवर और लोकतांत्रिक भारत ही चीन के गलत मंसूबो को नाकाम करेगा

एक अमेरिकी सीनेटर ने कहा है कि संपन्न, ताकतवर और लोकतांत्रिक भारत ही चीन के गलत मंसूबों को नाकाम करेगा। चीन और अमेरिका में मौजूदा दौर में तनाव बहुत बढ़ा हुआ है। दोनों देशों में कोरोनावायरस के सोर्स, हॉन्गकॉन्ग में नया सुरक्षा कानून और साउथ चाइना सी (दक्षिण चीन सागर) जैसे मुद्दों को लेकर टकराव बढ़ गया है।
टेक्सॉस से रिपब्लिक पार्टी के सीनेटर जॉन कॉर्निन ने गुरुवार को ट्वीट किया। इसके साथ ही उन्होंने वॉल स्ट्रीट जर्नल में विदेश मामलों के जानकार वॉल्टर रसेल मीड के एक लेख को शेयर किया, इसमें कहा गया है कि अमेरिका को भारत की लॉन्गटर्म विकास दर को उठाने में मदद करनी चाहिए। यह अमेरिका की विदेश नीति का पहला लक्ष्य होना चाहिए।

भारत हमारा नेचुरल सहयोगी
रसेल मीड लिखा, ‘‘अमेरिका ने शीत युद्ध में जीत लोकतांत्रिक देशों को अमीर बनाने में मदद करके पाई थी। अब उसी रणनीति को दोबारा से शुरू करने का समय है और भारत वह जगह है जहां से इसकी शुरुआत होनी चाहिए। ’’ मीड ने कहा कि चीन के साथ नए शीत युद्ध में भारत, अमेरिका का नेचुरल सहयोगी है।

भारतीय इकोनॉमी को तेज धक्के की जरूरत
मीड ने कहा कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और उनकी पार्टी बीजेपी जब तक भारत की इकोनॉमी को तेज धक्का नहीं लगातीतब तक विकास दर स्थिर रहेगी। ऐसे में यह हर साल एक नियत दर से बढ़ेगी, जिससे भारत चीन से बहुत पीछे हो जाएगा। रसेल मीड ने कहा कि यह भारत और एशिया दोनों के लिए अच्छा नहीं होगा। भारत में अगर विकास दर तेजी से बढ़ेगी तो कई लोग गरीबी से बाहर निकलेंगे, लेकिन भारतीय समाज शासन के लिहाज से बहुत कठिन है। यहां सुधारों को लागू करने में बहुत कठिनाई होती है।

कोरोना की आड़ में चीन अपना एजेंडा बढ़ा रहा
चीन कोरोना महामारी की आड़ में भारत, ताइवान, हॉन्गकॉन्ग और साउथ चाइना सी (दक्षिण चीन सागर) पर अपने एजेंडे को आगे बढ़ा रहा है। इन जगहों से चीन का लंबे समय से विवाद है। वॉल स्ट्रीट जर्नल ने इस पर एक एनालिसिस किया है। इसमें विशेषज्ञों ने कहा है कि कोरोना के इस दौर में जहां अमेरिका, लैटिन अमेरिका और यूरोप संक्रमण से जूझ रहे हैं, वहीं, चीन अपने एजेंडे में आगे बढ़ रहा है। जिन मुद्दों पर अक्सर चीन को तमाम देशों से विरोध का सामना करना पड़ता है, चीन उन्हें कोरोना की आड़ में हल करना चाहता है।



Download Dainik Bhaskar App to read Latest Hindi News Today
पीएम मोदी और सीनेटर जॉन कॉर्निन यह फोटो 2019 में सितंबर में अमेरिका दौरे की है। जॉन कॉर्निन अपनी पत्नी का बर्थडे छोड़कर हाऊडी मोदी कार्यक्रम में शामिल हुए थे। मोदी ने इस पर एक वीडियो जारी कर उनकी पत्नी से माफी भी मांगी थी। -फाइल फोटो


from Dainik Bhaskar https://ift.tt/36LD8Mx

Comments

Popular posts from this blog

ट्रम्प की लोकप्रियता बढ़ रही; बिडेन 43% लोगों की पसंद तो ट्रम्प को 40% लोगों का साथ, जुलाई में यह अंतर 7% से ज्यादा था

ट्रम्प मेक अमेरिका ग्रेट अगेन के नारे के साथ इस साल चुनाव जीतना चाहते हैं, जिनपिंग चीन की इमेज सुधारने की कोशिश में हैं

फ्रांस में फिर एक दिन में 14 हजार से ज्यादा मामले सामने आए, ब्रिटेन में प्रतिबंधों का विरोध; दुनिया में 3.30 करोड़ केस