68 साल में पहली बार जीडीपी में गिरावट; 2019-20 में एक लाख गधे बढ़े, 80 हजार चीन भेजे जाएंगे

68 साल में पहली बार पाकिस्तान की जीडीपी में गिरावट आई है। 2019-20 में जीडीपी ग्रोथ (-) 0.38% रही। सरकार के आर्थिक सलाहकार अब्दुल हफीज शेख ने इकोनॉमिक सर्वे 2019-20 में गुरुवार को यह जानकारी दी। इसमें कहा गया है कि देश की आर्थिक स्थिति पहले ही काफी कमजोर थी, महामारी ने तो हालात बदतर कर दिए।
सर्वे के मुताबिक, मवेशियों के मामले में मुल्क की हालत पहले से बेहतर हुई। इस वित्त वर्ष में एक लाख गधे बढ़े। कुल संख्या 55 लाख हो गई। पाकिस्तान और चीन के बीच एक समझौता है। इसके मुताबिक, पाकिस्तान तीन साल तक हर साल 80 हजार गधे चीन को निर्यात करेगा।भैंसों की तादाद में भी इजाफा दर्ज किया गया।

महामारी ने कमर तोड़ दी
इकोनॉमिक सर्वे 2019-20 के मुताबिक, जीडीपी 0.38 प्रतिशत कम रही। मार्च में आंशिक लॉकडाउन ने करीब-करीब सभी सेक्टर्स की कमर तोड़ दी। हालांकि, एग्रीकल्चर सेक्टर में 2.7 फीसदी की बढ़त दर्ज की गई। इंडस्ट्रियल और सर्विस सेक्टर में नेगेटिव ग्रोथ रही। यही वजह है कि जीडीपी का आकार बजाए बढ़ने के 0.38 फीसदी कम हुआ। हफीज ने कहा- ज्यादातर मुल्कों में लॉकडाउन था। इसी वजह से हमारा एक्सपोर्टबंद था। आईएमएफ पहले ही इस बारे में चेतावनी दे चुका था।

लेकिन, गधे बेशुमार बढ़े
पाकिस्तान की इकोनॉमी के ज्यादातर सेक्टर्स में गिरावट दर्ज की गई है। लेकिन, मवेशियों (लिवस्टॉक सेक्टर) के मामले में ऐसा नहीं है। इनकी तादाद पहले से काफी बढ़ी। इकोनॉमिक सर्वे में इसकी जानकारी दी गई है। देश में अब गधों की संख्या 54 से बढ़कर 55 लाख हो गई है। पिछले साल एक लाख गधे बढ़े। करीब 12 लाख भैंस भी बढ़ीं। अब इनकी संख्या 4 करोड़ हो गई है। वहीं, तीन लाख बकरियां बढ़ीं। इनकी संख्या 7 करोड़ हो गई है। ऊंटों की संख्या में कोई बढ़ोतरी नहीं हुई।

गधों का निर्यात चीन को
पाकिस्तान अपने गधों का सबसे ज्यादा निर्यात चीन को करता है। वहां इनकी स्किन का इस्तेमाल ब्यूटी प्रोडक्ट्स बनाने में किया जाता है। जाहिर है पाकिस्तान और चीन दोनों के लिए गधों की संख्या बढ़ना खुशी की बात है। पिछले साल ‘गल्फ न्यूज’ में प्रकाशित एक रिपोर्ट में कहा गया था कि चीन ने पाकिस्तान में गधों की संख्या बढ़ाने के लिए तीन करोड़ डॉलर का निवेश किया है। दोनों देशों के बीच एक करार भी हुआ। इसके मुताबिक, पाकिस्तान हर साल 80 हजार गधे चीन को देगा। समझौता तीन साल के लिए है।



Download Dainik Bhaskar App to read Latest Hindi News Today
लाहौर की एक सड़क पर गधा गाड़ी से जाता एक व्यक्ति। इकोनॉमिक सर्वे 2019-20 के मुताबिक, पाकिस्तान में चालू वित्त वर्ष में एक लाख गधे बढ़े। अब इनकी तादाद 55 लाख हो गई है। पाकिस्तान चीन को हर साल 80 हजार गधे निर्यात यानी एक्सपोर्ट करता है। (फाइल)


from Dainik Bhaskar https://ift.tt/2XSW6xZ

Comments

Popular posts from this blog

ट्रम्प की लोकप्रियता बढ़ रही; बिडेन 43% लोगों की पसंद तो ट्रम्प को 40% लोगों का साथ, जुलाई में यह अंतर 7% से ज्यादा था

ट्रम्प मेक अमेरिका ग्रेट अगेन के नारे के साथ इस साल चुनाव जीतना चाहते हैं, जिनपिंग चीन की इमेज सुधारने की कोशिश में हैं

फ्रांस में फिर एक दिन में 14 हजार से ज्यादा मामले सामने आए, ब्रिटेन में प्रतिबंधों का विरोध; दुनिया में 3.30 करोड़ केस