राष्ट्रपति ट्रम्प भारतवंशी गीता पासी को इथियोपिया में अमेरिकी दूत बना सकते हैं

अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रम्प भारतवंशी गीता पासी को इथियोपिया में अमेरिकीदूत बना सकते हैं। उन्होंने सोमवार को इसकी घोषणा की।58 साल की पासी फिलहाल अफ्रीकी मामलों में प्रिंसिपल डिप्टी असिस्टेंट सेक्रेटरी हैं। इससे पहले वे चाड और जिबूती में अमेरिकी दूत के रूप में सेवा दे चुकी हैं।

गीता 1988 में विदेश सेवा से जुड़ीं। वे विदेश विभाग में कैरियर डेवलपमेंट और असाइनमेंट की निदेशक रह चुकी हैं।2009 से 2011 तक अफ्रीका मामलों के ब्यूरो में ऑफिस ऑफ ईस्ट अफ्रीकन अफेयर्स की निदेशकभी रही। गीता अमेरिकी दूतावास में डिप्टी चीफ ऑफ मिशन भी रही हैं।

गीता पाकिस्तान और बांग्लादेश में भी काम कर चुकी हैं

इसके अलावा फ्रैंकफर्ट, जर्मनी में अमेरिकी वाणिज्य दूतावास में डिप्टी प्रिंसिपल अफसर भी रहीं। वे अफगानिस्तान, पाकिस्तान, बांग्लादेश और घाना में भी काम कर चुकी हैं। उन्होंने नई दिल्ली में अमेरिकी दूतावास में भी सेवा दिया है। गीता ने ड्यूक यूनिवर्सिटी से ग्रेजुएशन और न्यूयॉर्क यूनिवर्सिटी से एमए किया है।



Download Dainik Bhaskar App to read Latest Hindi News Today
अमेरिकी दूत गीता पासी 1988 में अमेरिकी विदेश सेवा से जुड़ी थीं। (फाइल फोटो)


from Dainik Bhaskar https://ift.tt/3d42hDR

Comments

Popular posts from this blog

ट्रम्प की लोकप्रियता बढ़ रही; बिडेन 43% लोगों की पसंद तो ट्रम्प को 40% लोगों का साथ, जुलाई में यह अंतर 7% से ज्यादा था

ट्रम्प मेक अमेरिका ग्रेट अगेन के नारे के साथ इस साल चुनाव जीतना चाहते हैं, जिनपिंग चीन की इमेज सुधारने की कोशिश में हैं

फ्रांस में फिर एक दिन में 14 हजार से ज्यादा मामले सामने आए, ब्रिटेन में प्रतिबंधों का विरोध; दुनिया में 3.30 करोड़ केस