बालाकोट जैसी एयरस्ट्राइक से बचने की प्रैक्टिस कर रही पाकिस्तानी एयरफोर्स, उसके इस वॉर गेम पर नजर रख रहा भारत

पाकिस्तान की वायुसेना इन दिनों एक वॉर गेम में हिस्सा ले रही है। इसका कोड नेम हाई मार्क है। भारतीय वायुसेना इस पर पैनी नजर रख रही है। न्यूज एजेंसी के मुताबिक, इस वॉर गेम का मकसद फरवरी 2019 में हुई बालाकोट जैसीएयर स्ट्राइक से निपटना है। भारतीय वायुसेना ने पाकिस्तान के बालाकोट में एयर स्ट्राइक कर जैश-ए-मोहम्मद के आतंकी ट्रेनिंग कैम्प को तबाह कर दिया था।

न्यूज एजेंसी एएनआई की रिपोर्ट के मुताबिक, पाकिस्तान एयरफोर्स (पीएएफ) के इस वॉर गेम में उसके सभी फाइटर जेट हिस्सा ले रहे हैं। इनमें जेएफ-17, एफ-16 और मिराज 3 शामिल हैं। पीएएफ ने अभ्यास की जानकारी, वहां की एविएशन मिनिस्ट्री को भी दी है।

रात में उड़ान भर रहे पाकिस्तानी फाइटर जेट
रिपोर्ट के मुताबिक, पाकिस्तानी एयरफोर्स रात में उड़ान भरने का अभ्यास कर रही है। मंगलवार रात कराची के आसमान पर पाकिस्तानी एयरफोर्स के लड़ाकू विमान दिखाई दे रहे थे। पिछले हफ्ते भी पाकिस्तान ने ऐसी ही एक एयरफोर्स ड्रिल की थी। तब हंदवाड़ा के एक एनकाउंटर में भारतीय सेना के एक कर्नल शहीद हो गए थे। पाकिस्तान को डर था कि भारतीय वायुसेना फिर कोई एयर स्ट्राइक कर सकती है।

पुलवामा हमले के बाद भारत नेएयर स्ट्राइक की थी
वायुसेना ने12 फरवरी 2019 को हुएपुलवामा हमले के बाद 26 फरवरी को पाकिस्तान के बालाकोट में आतंकी समूह जैश-ए-मोहम्मद के ठिकानों पर एयर स्ट्राइक की थी। अगले दिन 27 फरवरी को पाकिस्तान की जवाबी कार्रवाई की कोशिशों को वायुसेना ने विफल कर दिया था। पुलवामा हमले में सीआरपीएफ के 40 जवान शहीद हुए थे। हमले की जिम्मेदारी आतंकी संगठन जैश ने ली थी। इसके 12 दिन बाद वायुसेना ने एयर स्ट्राइक की थी।



Download Dainik Bhaskar App to read Latest Hindi News Today
पाकिस्तानी एयरफोर्स के फाइटर जेट्स मंगलवार रात कराची के आसपास उड़ान भरते नजर आए। यह उड़ानें पाकिस्तानी एयरफोर्स की ड्रिल का हिस्सा थीं। (फाइल)


from Dainik Bhaskar https://ift.tt/2YifPGs

Comments

Popular posts from this blog

ट्रम्प की लोकप्रियता बढ़ रही; बिडेन 43% लोगों की पसंद तो ट्रम्प को 40% लोगों का साथ, जुलाई में यह अंतर 7% से ज्यादा था

ट्रम्प मेक अमेरिका ग्रेट अगेन के नारे के साथ इस साल चुनाव जीतना चाहते हैं, जिनपिंग चीन की इमेज सुधारने की कोशिश में हैं

इटली में लाॅकडाउन पालन कराने के लिए 8000 मेयर ने मोर्चा संभाला; सड़काें पर उतरे, फेसबुक से समझाया फिर भी नहीं माने ताे ड्राेन से अपमान