पहली हिंदू सांसद तुलसी गबार्ड ने कहा- ऐसे मुश्किल वक्त में भगवद्गीता से ताकत और शांति मिलेगी

अमेरिका की पहली हिंदू सांसद तुलसी गबार्ड ने कहाकि इस मुश्किलवक्त में भगवद्गीता से ताकत और शांति मिलेगी। एक वर्चुअल कॉन्फ्रेंस में39 साल की हवाई से सांसद ने कहा- ऐसे माहौल में कोई भी विश्वास से साथ नहीं कह सकता कि कल क्या होगा?
गबार्ड ये बातें हिंदू स्टूडेंट्स काउंसिल की ओर से आयोजित वर्चुअल कांफ्रेंस में कहीं। इसमेंदुनिया के कई विश्वविद्यालयों के छात्र जुड़े। इस दौरान गबार्ड नेकहा कि हम भक्ति योग और कर्म योग के अभ्यास से ताकत और शांति पा सकते हैं। यह हमें भगवान कृष्ण ने भगवद्गीतामें सिखाया है।

हिंदू स्टूडेंट काउंसिल की ओर से सात जून को पहली बार वर्चुअल कॉन्फ्रेंस का आयोजन किया गया था।

फेसबुक और यूट्यूब के जरिए हजरों लोग जुड़े
तुलसी गबार्ड के कार्यक्रम में फेसबुक और यूट्यूब के जरिए हजारों लोग जुड़े। अमेरिका, कनाडा, ब्रिटेन, भारत और ऑस्ट्रेलिया के सैकड़ों ग्रेजुएट्स स्टूडेंट्स ने इस कार्यक्रम में भाग लिया। इस दौरान गबार्ड ने कहा कि आप जब अपने जीवन के बारे में सोचते हैं तो खुद से एक सवाल कीजिए कि मेरे जीवन का उद्देश्य क्या है? यह एक बहुत अहम सवाल है। अगर आपको पता चल जाता है कि आपका उद्देश्य भगवान और उसके बच्चों की सेवा करना है तो कर्म योग की प्रैक्टिस कीजिए। तब ही आप एक सफल जीवन जी सकते हैं।

अमेरिका में अश्वेत की मौत के बाद हो रहे विरोध-प्रदर्शन

तुलसी गबार्ड का यह बयान ऐसे समय आया है जब अमेरिका में अश्वेत जॉर्ज फ्लॉयड की हत्या के बाद से विरोध-प्रदर्शन हो रहे हैं। 25 मई को अमेरिका के मिनेसोटा राज्य के मिनेपोलिस शहर में पुलिस ने जॉर्ज फ्लॉयड को धोखाधड़ी के आरोप में गिरफ्तार किया था। इस दौरान उसकीगर्दन को पुलिस अधिकारी ने करीब 9 मिनट तक घुटने से दबाए रखा था। इससे फ्लॉयड की मौत हो गई थी। इस घटना के बाद से अमेरिका में बड़े पैमाने पर हिसंक प्रदर्शन शुरू हो गए थे।



Download Dainik Bhaskar App to read Latest Hindi News Today
तुलसी गबार्ड डेमोक्रेटिक पार्टी की नेता हैं। वह हवाई राज्य से सांसद हैं। पहली बार चुने जाने पर उन्होंने भगवद गीता पर हाथ रखकर पद की शपथ ली थी।


from Dainik Bhaskar https://ift.tt/2BV4Par

Comments

Popular posts from this blog

ट्रम्प की लोकप्रियता बढ़ रही; बिडेन 43% लोगों की पसंद तो ट्रम्प को 40% लोगों का साथ, जुलाई में यह अंतर 7% से ज्यादा था

अमेरिका में चुनाव के दिन बाइडेन समर्थकों ने 75% और ट्रम्प सपोर्टर्स ने 33% ज्यादा शराब खरीदी

124 साल पुरानी परंपरा तोड़ेंगे ट्रम्प; मीडिया को आशंका- राष्ट्रपति कन्सेशन स्पीच में बाइडेन को बधाई नहीं देंगे