भूस्खलन से कई घर बहे, अब तक 12 लोगों की मौत; मौसम विभाग ने कहा- अगले 3 दिन बारिश से राहत नहीं

पश्चिमी नेपाल में मूसलाधार बारिश से गुरुवार कोहुईंभूस्खलन की अलग-अलग घटनाओंमें 12 लोगों की मौत हो गई। 19 लोग लापता हैं। 10 लोग घायल हुए, जिनकाइलाज चल रहा है।पिछले 48 घंटों से हो रही बारिश से नारायणी और अन्य प्रमुख नदियां उफान पर हैं। मौसम विभाग के मुताबिक, अगले तीन दिनों तक मानसूनी बारिश से राहत मिलने की उम्मीद नहीं है।

पुलिस ने शुक्रवार को बताया कि कास्की जिले में पोखरा सिटी एरियाके सारंगकोट और हेमजन में तीन बच्चों समेत 7 लोगों की जानें गईं। उनमें से 5की मौत सारंगकोट में भूस्खलन की चपेट में एक घर के आने से हुई। यहां 10 लोग घायल हुए, जिनकाइलाज चल रहा है। इसके अलावालामजुंग जिले के बेसिशहर में एक परिवार के 3लोगों की मौत हो गई। वहीं, रुकुम जिले के आथबिस्कॉट इलाके में भी 2 अन्य लोगों की मौत हो गई।

सिधुपालचोक में बाढ़ जैसे हालात

जाजरकोटजिले में भूस्खलन से 2 घरों के बह जाने से 12 लोग औरम्याग्दी जिले में एक ही परिवार के 7 लोग लापता हैं।सिंधुपालचोक में भी बाढ़ जैसे हालात हैं।

पिछले साल जुलाई में भूस्खलन से 78 लोगों की मौत हुई थी
नेपाल में पिछले साल जुलाई में बाढ़ और भूस्खलन से 78 लोगों की जानें गईं थीं। वहीं 40 से ज्यादा लोग घायल हुए थे।



Download Dainik Bhaskar App to read Latest Hindi News Today
पश्चिमी नेपाल में भारी बारिश से कई जगह भूस्खलन की घटनाएं हुईं। वहां की प्रमुख नदियां उफान पर हैं।


from Dainik Bhaskar https://ift.tt/3egdO3B

Comments

Popular posts from this blog

ट्रम्प की लोकप्रियता बढ़ रही; बिडेन 43% लोगों की पसंद तो ट्रम्प को 40% लोगों का साथ, जुलाई में यह अंतर 7% से ज्यादा था

ट्रम्प मेक अमेरिका ग्रेट अगेन के नारे के साथ इस साल चुनाव जीतना चाहते हैं, जिनपिंग चीन की इमेज सुधारने की कोशिश में हैं

इटली में लाॅकडाउन पालन कराने के लिए 8000 मेयर ने मोर्चा संभाला; सड़काें पर उतरे, फेसबुक से समझाया फिर भी नहीं माने ताे ड्राेन से अपमान