यूएन में अमेरिका की पूर्व राजदूत निक्की हेली ने कहा- जिनपिंग के आने के बाद चीन ने ज्यादा धौंस दिखाना शुरू किया

संयुक्त राष्ट्र (यूएन) में अमेरिका की राजदूत निक्की हेली ने कहा है कि जिनपिंग की अगुआई में चीन ज्यादा दबदबा और धौंस दिखाने लगा है। इसने दूसरे देशों पर उंगलियां उठानी शुरू कर दी है। जिनपिंग के आने के बाद यूएन में भी उसका रुख आक्रामक हो गया और वह लीडरशिप रोल हासिल करने की कोशिशों में जुट गया। उसने इसके लिए सब से बात भी शुरू कर दी। हालांकि, उसका यह बर्ताव ज्यादा दिनों तक चलने वाला नहीं है। हेली ने मंगलवार को फॉक्स न्यूज को दिए इंटरव्यू में यह बातें कही।

हेली ने कहा, यूएन में मेरे काम करने के समय के दौरान चीन काफी शांत रहा। इसने एक रणनीति के तहत काम किया। इसने चुपचाप कई क्षेत्रों में अच्छी जगह बनाने के लिए काम किया और पिछले दरवाजे से अहम क्षेत्रों में जगह बनाने की पूरी कोशिश की।

‘ताइवान और भारत पर भी दबाव बना सकता है चीन ’

उन्होंने कहा कि कोई भी देश जो अपने लोगों को आजादी से नहीं जीने देता, ऐसा ज्यादा दिनों तक नहीं कर सकता। एक ऐसा समय आएगा जब लोग विद्रोह शुरू कर देंगे। जैसा कि अभी हॉन्गकॉन्ग में हो रहा है। चीन उसे दबाने की कोशिश कर रहा है। चीन ऐसा ही दबाव ताइवान, दक्षिण चीन सागर से सटे देशों और भारत पर भी बना सकता है। चीन यह सबकुछ अपने आप को ताकतवर दिखाने के लिए कर रहा है। निक्की ने कहा कि चीन सड़क बनाने की अपनी पहल के तहत छोटे देशों के साथ साझेदारी कर रहा है। वह इन देशों की ढांचागत सुविधाओं को खरीदने की कोशिश में हैं।

चीन को अमेरिकी सेना की तैयारी बताने की जरूरत: हेली

उन्होंने कहा कि अमेरिका को चीन को यह बताने की जरूरत है कि हम अपनी सेना तैयार कर रहे हैं, जिससे वो हमसे उलझने की कोशिश न करे। अमेरिकी कंपनियों को भी यह समझना होगा कि चीन में बिजनेस करने पर उन्हें वहां की मिलिट्री के साथ काम करना होगा। यह अमेरिका के राष्ट्रीय सुरक्षा के लिए खतरा है। हमें अमेरिका पर इसके बारे में ज्यादा चर्चा करनी होगी। उन्होंने ह्यूस्टन में चीन के कॉन्स्युलेट को बंद कराने के अमेरिकी राष्ट्रपति ट्रम्प के फैसले की भी तारीफ की।

ये खबरें भी पढ़ें:

1.जवाबी कार्रवाई:चीन ने चेंगदू में अमेरिकी कॉन्स्युलेट बंद किया, अंदरूनी मामलों में दखल देने का आरोप लगाया; ह्यूस्टन में चीनी कॉन्स्युलेट बंद होने के बाद उठाया कदम

2.चीन को झटका:रूस ने चीन को एस-400 मिसाइल डिफेंस सिस्टम की डिलीवरी रोकी; चीन ने कहा- यह दबाव में लिया गया फैसला



Download Dainik Bhaskar App to read Latest Hindi News Today
यूएन में अमेरिका की राजदूत निक्की हेली ने कहा है कि चीन छोटे देशों को धमका कर अपनी ताकत दिखाना चाहता है।-फाइल फोटो


from Dainik Bhaskar https://ift.tt/2DcKUVa

Comments

Popular posts from this blog

ट्रम्प की लोकप्रियता बढ़ रही; बिडेन 43% लोगों की पसंद तो ट्रम्प को 40% लोगों का साथ, जुलाई में यह अंतर 7% से ज्यादा था

ट्रम्प मेक अमेरिका ग्रेट अगेन के नारे के साथ इस साल चुनाव जीतना चाहते हैं, जिनपिंग चीन की इमेज सुधारने की कोशिश में हैं

इटली में लाॅकडाउन पालन कराने के लिए 8000 मेयर ने मोर्चा संभाला; सड़काें पर उतरे, फेसबुक से समझाया फिर भी नहीं माने ताे ड्राेन से अपमान