अटॉर्नी जनरल विलियम ने कहा- हमारी पुलिस अश्वेतों और श्वेतों के बीच भेदभाव करती है

अमेरिका के अटॉर्नी जनरल विलियम बार ने पहली बार माना है कि मई में अश्वेत नागरिक जॉर्ज फ्लॉयड की हत्या में पुलिस का रवैया गैरजिम्मेदाराना था। विलियम ने कहा- मुझे यह कहना पड़ रहा है कि हमारी पुलिस अश्वेतों और श्वेतों से अलग-अलग तरह का बर्ताव करती है, यह सही नहीं है। 25 मई को जॉर्ज को पुलिस एक मामले में गिरफ्तार करने गई थी। इस दौरान एक पुलिस अफसर ने 8 मिनट तक घुटने से जॉर्ज का गला दबाए रखा। उसकी मौत हो गई। अमेरिका में हिंसक प्रदर्शन हुए थे।

लोग भी यही मानते हैं
विलियम ने एक न्यूज चैनल को दिए इंटरव्यू में जॉर्ज मामले पर खुलकर बातचीत की। कहा, “जो हुआ, वो गलत था। अमेरिका में यह माना जाता रहा है कि यहां पुलिस अश्वेत और श्वेतों में फर्क करती है। इनके मामलों को अलग-अलग तरीके से डील किया जाता है। ऐसा बिल्कुल नहीं होना चाहिए। अफ्रीकी-अमेरिकी पुरुषों के मन में तो भेदभाव की बात बहुत गहरे तरीके से पैठ कर चुकी है।”

विलियम का दावा व्हाइट हाउस से अलग
रंगभेद या नस्लवाद पर विलियम के बयान से ऐसा लगता है कि इस मुद्दे को लेकर ट्रम्प प्रशासन में एकराय नहीं है। कुछ दिन पहले व्हाइट हाउस के इकोनॉमिक एडवाइजर लैरी कुडलो ने कहा था- प्रशासन या पुलिस में नस्लवाद जैसी कोई चीज नहीं है। अब विलियम अपने ही सहयोगी के दावे को खारिज कर रहे हैं।

कमियां जल्द दूर करनी होंगी
विलियम ने कहा, “मुझे कहने में कोई दिक्कत नहीं कि नस्लवाद संबंधी आरोपों पर हमें जल्द और वक्त रहते कमियां दूर करनी होंगी। इन पर कार्रवाई करनी होगी। जॉर्ज का मामला सामने आने के पहले मैं भी यही मानता था कि इस तरह की कोई बात नहीं है। लेकिन, सच्चाई को भी आप खारिज नहीं कर सकते। आप कानूनी एजेंसी की यह जिम्मेदारी है कि वो अफ्रीकी-अमेरिकी लोगों के मन में यह भरोसा पैदा करें कि हर अमेरिकी से एक जैसा बर्ताव किया जाएगा।”

नस्लवाद और जॉर्ज फ्लॉयड मामले से जुड़ी ये खबरें भी आप पढ़ सकते हैं...

1. जॉर्ज फ्लॉयड का अंतिम संस्कार, 10 वें दिन भी इस अश्वेत को इंसाफ दिलाने के लिए देश में विरोध प्रदर्शन जारी

2. फ्लॉयड की मौत सामान्य नहीं थी, लेकिन हिंसक आंदोलन से हुए नुकसान को अनदेखा कैसे किया जाए

3. श्वेत अफसर के दबोचने से अश्वेत फ्लॉयड की मौत का वीडियो दुनिया ने देखा; घटना से कई अमेरिकी डरे, वहां ऐसी घटनाएं होती रही हैं



Download Dainik Bhaskar App to read Latest Hindi News Today
अमेरिकी अटॉनी जनरल विलियम बार ने पहली बार माना है कि अश्वेत नागरिक जॉर्ज फ्लॉयड की हत्या के मामले में पुलिस का रवैया गलत था। विलियम के मुताबिक, अफ्रीकी मूल के अमेरिकी यह मानते हैं कि पुलिस उनसे भेदभाव करती है। (फाइल)


from Dainik Bhaskar https://ift.tt/2CkgorS

Comments

Popular posts from this blog

ट्रम्प की लोकप्रियता बढ़ रही; बिडेन 43% लोगों की पसंद तो ट्रम्प को 40% लोगों का साथ, जुलाई में यह अंतर 7% से ज्यादा था

ट्रम्प मेक अमेरिका ग्रेट अगेन के नारे के साथ इस साल चुनाव जीतना चाहते हैं, जिनपिंग चीन की इमेज सुधारने की कोशिश में हैं

इटली में लाॅकडाउन पालन कराने के लिए 8000 मेयर ने मोर्चा संभाला; सड़काें पर उतरे, फेसबुक से समझाया फिर भी नहीं माने ताे ड्राेन से अपमान