मीडिया के सवाल पर बोले- मैं कभी मास्क पहनने के खिलाफ नहीं था, लेकिन इसे सही वक्त और सही जगह पहना जाता है

अमेरिका के राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रम्प शनिवार को पहली बार सार्वजनिक तौर पर मास्क पहने नजर आए। वे रीड मिलिट्री हॉस्पिटल में भर्ती घायल जवानों को देखने पहुंचे थे। उन्होंने काला मास्क पहना था और इस पर प्रेसिडेंशियल सील लगी थी।मीडिया ने उनसे मास्क पहनने पर सवाल किया तो उन्होंने कहा, ‘‘मैं कभी भी मास्क पहनने के खिलाफ नहीं था, लेकिन इसे पहनने का सही वक्त और जगह होती है।’’

ट्रम्प ने आगे कहा, ‘‘आपको निश्चित ही पता होना चाहिए कि मेरे पास हमेशा एक मास्क रहता होगा। मेरा मानना है कि जब आप हॉस्पिटल में होते हैं, खासतौर पर जब आपको कई सैनिकों से बात करनी हो, उनमें से कई का हाल ही में ऑपरेशन हुआ हो, तब मास्क पहनना अच्छा है।’’

एकजुट अभियान के कारण ट्रम्प पर दबाव बढ़ा
सीएनएन की रिपोर्ट के अनुसार व्हाइट हाउस के सहयोगियों और राजनीतिक सलाहकारों के एकजुट अभियान के कारण ट्रम्प ने मास्क पहनने का फैसला किया है। ट्रम्प के साथ मौजूद स्टाफ ने भी काले मास्क पहने थे।

व्हॉइट हाउस में भी मिल चुके कोरोना पॉजिटिव
अमेरिका में कोरोना संक्रमण की रोकथाम के लिए सरकार लोगों को सार्वजनिक जगहों पर मास्क पहनने की सलाह दे रही है, इससे उलट ट्रम्प इसे नजरअंदाज करते रहे हैं। वे किसी भी रैली, ब्रिफिंग या दूसरी जगहों पर मास्क पहने नहीं दिखे। यहां तक कि व्हाइट हाउस के स्टाफ में भी कुछ लोग कोरोना पॉजिटिव पाए जा चुके हैं, इसके बावजूद ट्रम्प ने मास्क नहीं पहना।

अमेरिका कोरोनावायरस संक्रमण से सबसे ज्यादा प्रभावित
अमेरिका कोरोनावायरस से सबसे ज्यादा प्रभावित है। यहां अभी तक 33.55 लाख से ज्यादा मामले सामने आ चुके हैं। शनिवार को 61 हजार 719 केस आ चुके हैं। इनमें से 1.37 लाख की मौत हो चुकी है।



Download Dainik Bhaskar App to read Latest Hindi News Today
कहा जा रहा है कि व्हाइट हाउस के सहयोगियों और राजनीतिक सलाहकारों के एकजुट अभियान के कारण ट्रम्प ने मास्क पहनने का फैसला किया है।


from Dainik Bhaskar https://ift.tt/38PPHHH

Comments

Popular posts from this blog

ट्रम्प की लोकप्रियता बढ़ रही; बिडेन 43% लोगों की पसंद तो ट्रम्प को 40% लोगों का साथ, जुलाई में यह अंतर 7% से ज्यादा था

ट्रम्प मेक अमेरिका ग्रेट अगेन के नारे के साथ इस साल चुनाव जीतना चाहते हैं, जिनपिंग चीन की इमेज सुधारने की कोशिश में हैं

इटली में लाॅकडाउन पालन कराने के लिए 8000 मेयर ने मोर्चा संभाला; सड़काें पर उतरे, फेसबुक से समझाया फिर भी नहीं माने ताे ड्राेन से अपमान