भारत को फ्रांस से राफेल मिले तो रूस ने चीन को S-400 मिसाइल डिफेंस सिस्टम की डिलीवरी रोकी; रिलायंस के शेयर नई ऊंचाई पर और सोने की कीमतों में तेजी जारी

आज मंगलवार है और तारीख 28 जुलाई है। सुबह हो चुकी है। आइए देखते हैं सोमवार को कौन सी ऐसी खबरें रही, जो दिनभर लोगों के बीच चर्चा में बनी रहीं। सोमवार का दिन भारतीय सेना के लिए काफी अहम रहा। फ्रांस ने भारत को राफेल फाइटर जेट्स की डिलीवरी की तो रूस ने चीन को एस-400 मिसाइल डिफेंस सिस्टम की डिलीवरी रोक दी। दूसरी खबरें देखें तो देश में चीनी ऐप्स पर सख्ती और बढ़ी, शेयर बाजारों में गिरावट देखने को मिली तो सोने के भाव में तेजी रही।

पहले चर्चा करते हैं राफेल की डिलीवरी की
तमाम विवादों, चर्चाओं और भारत-चीन के बीच सीमा विवाद के बीच फ्रांस ने सोमवार को 5 राफेल की डिलीवरी की। सीमा विवाद के कारण इन फाइटर जेट्स की महत्ता और बढ़ जाती है। भारत ने फ्रांस के साथ 2016 में 58 हजार करोड़ में 36 राफेल फाइटर जेट की डील की थी।

राफेल फाइटर जेट्स मीटियर और स्काल्प जैसी मिसाइलों से भी लैस है। मीटियर विजुअल रेंज के पार भी अपना टारगेट हिट करने वाली एडवांस्ड मिसाइल है। मीटियर की रेंज 150 किमी है। स्काल्प करीब 300 किलोमीटर तक अपने टारगेट पर सटीक निशाना लगाकर उसे तबाह कर सकती है। पढ़ें पूरी खबर

डिफेंस से जुड़ी दूसरी खबर चीन से है
सीमाओं पर चल रहे विवाद के बीच भारत, पाकिस्तान और चीन अपने हथियारों को अपग्रेड कर रहे हैं। इस बीच, चीन को उसके मित्र देश रूस ने बहुत बड़ा झटका दिया है। रूस ने चीन को एस-400 मिसाइल डिफेंस सिस्टम की डिलीवरी रोक दी है। चीन ने इसे दबाव में लिया गया फैसला बताया है।

हालांकि, उसने किसी देश का नाम नहीं लिया। लेकिन, उसका इशारा साफ तौर पर भारत और अमेरिका की तरफ है। एस-400 दुनिया का सबसे बेहतरीन मिसाइल डिफेंस सिस्टम है। रूस के अलावा सिर्फ चीन के पास इसकी कुछ यूनिट हैं। भारत को इसकी पहली खेप इसी साल मिलने वाली है। पूरी खबर पढ़ें

तीसरी खबर भी चीन के लिए अच्छी नहीं है
केंद्र सरकार ने चीन पर एक और डिजिटल स्ट्राइक की है। भारत की संप्रभुता और अखंडता विरोधी गतिविधियों के आरोप में सरकार ने चीन के 47 और ऐप्स पर बैन लगा दिया है। रिपोर्ट के मुताबिक, यह सभी पहले बैन किए गए ऐप के क्लोन के तौर पर काम कर रहे थे। सरकार ने इन 275 ऐप्स की पहचान जांच के लिए की है। यदि इन ऐप्स में राष्ट्रीय सुरक्षा या अन्य कोई उल्लंघन पाया जाता है तो इन पर बैन लगाया जा सकता है। सरकार चीनी ऐप्स के अलावा ऐसे ऐप पर भी नजर रख रही है, जिनका चीन में भी निवेश है। पूरी खबर पढ़ें

अब बात करते हैं राजस्थान की, जहां राजनीतिक उठापटक कायम है
राजस्थान में सियासी राजनीति के 18 दिन पूरे हो चुके हैं, लेकिन संकट का कोई हल निकलता नहीं दिख रहा है। सोमवार को स्पीकर सीपी जोशी ने विधायकों के अयोग्यता नोटिस मामले में सुप्रीम कोर्ट में दायर याचिका वापस ले ली। उनके वकील कपिल सिब्बल ने दलील दी कि इस मसले पर अभी सुनवाई की जरूरत नहीं है। जरूरत पड़ने पर हम दोबारा आएंगे। पायलट खेमे की याचिका पर हाईकोर्ट के फैसले के बाद स्पीकर ने सुप्रीम कोर्ट में अपील की थी। उधर, राज्यपाल ने भी विधानसभा का सत्र बुलाने की फाइल दूसरी बार लौटा दी। पूरी खबर पढ़ें

चलते हैं अब शेयर बाजार, अर्थव्यवस्था और सोने की तरफ
बीते कई दिनों से बाजार में उतार-चढ़ाव देखने को मिल रहा है। कोरोनावायरस और खराब वित्तीय हालात का दबाव मार्केट पर है। जियो में निवेश के कारण रिलायंस के शेयरों में तेजी का दौर जारी है। रिलायंस रिटेल के फ्यूचर ग्रुप के साथ डील फाइनल होने की खबरों का असर आरआईएल के शेयरों पर देखने को मिला।

अमेरिका-चीन विवाद, कमजोर अमेरिकी डॉलर को देखते हुए अंतरराष्ट्रीय बाजार में निवेशकों ने सोने में निवेश बढ़ा दिया है। इस कारण सोमवार को अंतरराष्ट्रीय बाजार में सोना हाजिर 2000 डॉलर (1.49 लाख रुपए) प्रति औंस पर पहुंच गया। यह सितंबर 2011 के 1920.30 डॉलर प्रति औंस के बाद का उच्चतम स्तर है। पूरी खबर पढ़ें

कहानी अब अयोध्या की अयोध्या से - ग्राउंड रिपोर्ट
आने वाले अगस्त महीने में 5 तारीख को अयोध्‍या में राम मंदिर निर्माण के लिए भूमिपूजन होगा। धन्नीपुर गांव में यूपी सरकार ने सुन्नी वक्फ बोर्ड को मस्जिद के लिए 5 एकड़ जमीन दी है। भास्कर ने गांव के लोगों से जानने की कोशिश की कि वे क्या चाहते हैं? गांव के युवा चाहते हैं कि कुछ ऐसा काम हो जिससे उन्हें कमाने के लिए बाहर नहीं जाना पड़े, गांव में ही रोजगार मिल सके।

वहीं, कुछ का कहना है कि मस्जिद के बदले हॉस्पिटल या कोई कॉलेज बने। इसके अलावा, अयोध्या में राम मंदिर का इतिहास हजारों साल तक रहे, इसके लिए मंदिर के गर्भगृह की 200 फीट गहराई में टाइम कैप्सूल रखा जाएगा। इसमें मंदिर की पूरी डिटेल होगी।

पूरी खबर यहां पढ़ें

चलते-चलते देखते हैं आज आपका दिन कैसा रहेगा? ग्रह नक्षत्र क्या बता रहे हैं?

28 जुलाई, मंगलवार को विशाखा नक्षत्र से श्रीवत्स नाम का शुभ योग बन रहा है। इसके साथ ही चंद्रमा पर मंगल की दृष्टि पड़ रही है। ग्रहों की इस स्थिति से जॉब और बिजनेस में सितारों का साथ मिल सकता है। लेन-देन और निवेश में भी फायदा मिल सकता है। सोचे हुए काम पूरे होंगे। रुका हुआ पैसा भी मिलने के योग बन रहे हैं। एस्ट्रोलॉजर डॉ. अजय भाम्बी के अनुसार मेष, वृष, मिथुन, मकर, सिंह, धनु और कुंभ राशि वाले लोगों को सितारों का साथ मिल सकता है। पूरी खबर पढ़ें



Download Dainik Bhaskar App to read Latest Hindi News Today
फ्रांस से आ रहे पांचों राफेल की तैनाती अंबाला में होगी। यहां तैनाती होने से पश्चिमी सीमा पर पाकिस्तान के खिलाफ तेजी से एक्शन लिया जा सकेगा। दिलचस्प बात ये भी है कि अम्बाला एयरबेस चीन की सीमा से भी 200 किमी की दूरी पर है।


from Dainik Bhaskar https://ift.tt/3f2JOsh

Comments

Popular posts from this blog

ट्रम्प की लोकप्रियता बढ़ रही; बिडेन 43% लोगों की पसंद तो ट्रम्प को 40% लोगों का साथ, जुलाई में यह अंतर 7% से ज्यादा था

ट्रम्प मेक अमेरिका ग्रेट अगेन के नारे के साथ इस साल चुनाव जीतना चाहते हैं, जिनपिंग चीन की इमेज सुधारने की कोशिश में हैं

इटली में लाॅकडाउन पालन कराने के लिए 8000 मेयर ने मोर्चा संभाला; सड़काें पर उतरे, फेसबुक से समझाया फिर भी नहीं माने ताे ड्राेन से अपमान