पाकिस्तानी फौज ने कहा- राफेल हो या एस-400, हम भारत से निपटने को तैयार, लेकिन 10 साल से हमारा रक्षा बजट घट रहा है

भारतीय सेना ने हाल ही में फ्रांस से पांच राफेल फाइटर जेट्स हासिल किए हैं। जल्द ही रूस से एस-400 मिसाइल डिफेंस सिस्टम भी मिलने वाला है। पाकिस्तान भारतीय सेना की बढ़ती ताकत से परेशान है। वहां की फौज ने कहा- भारत अपना डिफेंस बजट लगातार बढ़ा रहा है। इससे दक्षिण एशिया में शक्ति संतुलन बिगड़ रहा है। हालांकि, राफेल हो या एस-400 हम भारत से निपटने को तैयार हैं।

आज यानी 14 अगस्त को पाकिस्तान का स्वतंत्रता दिवस है। इसकी पूर्व संध्या यानी 13 अगस्त को पाकिस्तानी सेना के मीडिया विंग आईएसपीआर ने प्रेस कॉन्फ्रेंस की। सेना के प्रवक्ता मेजर जनरल बाबर इफ्तिखार ने कहा- पाकिस्तानी फौज के बजट पर सवाल उठाए जाते हैं, लेकिन यह 10 साल से लगातार घटता जा रहा है।

झूठी दिलासा देने की कोशिश
पाकिस्तान ही नहीं बल्कि चीन के पास भी राफेल की टक्कर का कोई फाइटर जेट नहीं है। पाकिस्तान के पास अमेरिका में बने एफ-16 फाइटर जेट्स हैं। भारत के पहले से ही इनसे कहीं बेहतर सुखोई मौजूद हैं। अब राफेल की पहली खेप भी आ चुकी है। गुरुवार को मीडिया ने बाबर से पूछा- भारत के पास अब पांच राफेल भी आ गए हैं। जल्द ही उसे एस-400 मिसाइल डिफेंस सिस्टम भी मिलने वाला है। इस पर बाबर ने कहा- राफेल हो या एस-400 हम इनका मुकाबला करने तैयार हैं।

फिर बजट का रोना
बाबर ने बिना पूछे यह बताने में देर नहीं लगाई कि पाकिस्तानी फौज का बजट भारत के मुकाबले बेहद कम है। उन्होंने कहा- अकसर कहा जाता है कि पाकिस्तान की फौज का बजट काफी ज्यादा है। हकीकत, इससे उलट है। भारत फौज पर बहुत ज्यादा खर्च कर रहा है। उसकी वजह से इस क्षेत्र में हथियारों की होड़ शुरू हो चुकी है। आप आंकड़े देखेंगे तो पता लगेगा कि भारत दुनिया के उन मुल्कों में शुमार है जो डिफेंस पर सबसे ज्यादा खर्च करते हैं। हमारी सेना का बजट तो 10 साल से सिर्फ कम किया जा रहा है।
बाबर का यह बयान सरकार पर सीधा तंज है। इसी साल पाकिस्तानी फौज से अंदरूनी खर्च घटाने की अपील की गई थी। प्रधानमंत्री इमरान खान ने खुद इस बारे में आर्मी चीफ से संपर्क किया था।

पाकिस्तान से जुड़ी ये खबरें भी आप पढ़ सकते हैं...

1. बिगड़ती बात संभालने की कोशिश:सऊदी अरब के राजदूत से मिले पाकिस्तान के आर्मी चीफ; विदेश मंत्री कुरैशी की बयानबाजी से दोनों देशों के रिश्तों में दरार आई

2. कर्ज लेकर कर्ज चुकाता पाकिस्तान:इमरान सरकार ने चीन से एक अरब डॉलर उधार लेकर सऊदी अरब के कर्ज की किश्त चुकाई; अभी दो अरब डॉलर और देने हैं

3. सऊदी से टकराने चला पाकिस्तान:इमरान के विदेश मंत्री कुरैशी बोले- जरूरत के वक्त पीछे हट जाता है सऊदी अरब, उसने कश्मीर मामले में मदद नहीं दी



Download Dainik Bhaskar App to read Latest Hindi News Today
फोटो 10 अगस्त की है। तब पाकिस्तान के आर्मी चीफ जनरल कमर जावेद बाजवा ने खुफिया एजेंसी आईएसआई के हेडक्वॉर्टर का दौरा किया था। मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक, आईएसआई ने भी बजट में कमी का रोना रोया था।


from Dainik Bhaskar https://ift.tt/31LgTEy

Comments

Popular posts from this blog

ट्रम्प की लोकप्रियता बढ़ रही; बिडेन 43% लोगों की पसंद तो ट्रम्प को 40% लोगों का साथ, जुलाई में यह अंतर 7% से ज्यादा था

ट्रम्प मेक अमेरिका ग्रेट अगेन के नारे के साथ इस साल चुनाव जीतना चाहते हैं, जिनपिंग चीन की इमेज सुधारने की कोशिश में हैं

इटली में लाॅकडाउन पालन कराने के लिए 8000 मेयर ने मोर्चा संभाला; सड़काें पर उतरे, फेसबुक से समझाया फिर भी नहीं माने ताे ड्राेन से अपमान