पुलिस ने जैकब को बच्चों के सामने 7 गोलियां मारीं, तीसरे दिन भी इस मुद्दे पर हिंसा और अब इमरजेंसी घोषित

अमेरिका में एक बार फिर एक अश्वेत की मौत के बाद हिंसा भड़क गई है। दरअसल विस्कॉन्सिन की केनोशा काउंटी में अश्वेत जैकब ब्लेक की पुलिस की गोली से मौत के बाद लोगों में नाराजगी है। उसके बच्चों के सामने ही पुलिस ने उसे सात गोलियां मारी थीं। इसी के विरोध में लोग सड़कों पर हैं। विस्कॉन्सिन के गवर्नर टोनी एवर्स ने मंगलवार को इमरजेंसी की घोषणा कर दी। साथ ही कहा कि शहर में और नेशनल गार्ड तैनात किया जाएगा।

प्रदर्शनकारियों ने मंगलवार को जहां सिटी सेंटर को आग के हवाले कर दिया, वहीं कई व्यापारिक प्रतिष्ठानों और गाड़ियों में भी आगजनी की। न्यूयॉर्क, सिएटल और मिनेपोलिस में भी प्रदर्शन हुए। एक लाख की आबादी वाले केनोशा में 12%अश्वेत, 67% श्वेत हैं।

विस्कॉन्सिन की केनोशा काउंटी में पुलिस पर हमला करते उपद्रवी
उपद्रवियों को हटाने के लिए पुलिस ने आंसू गैस के गोले भी छोड़े।
अश्वेत की मौत के बाद गुस्साए लोगों ने न्यूयॉर्क में भी प्रदर्शन किया।


Download Dainik Bhaskar App to read Latest Hindi News Today
कोर्ट हाउस के बाहर खड़ी गाड़ियों में उपद्रवियों ने आग लगा दी।


from Dainik Bhaskar https://ift.tt/3hx9lfs

Comments

Popular posts from this blog

ट्रम्प की लोकप्रियता बढ़ रही; बिडेन 43% लोगों की पसंद तो ट्रम्प को 40% लोगों का साथ, जुलाई में यह अंतर 7% से ज्यादा था

ट्रम्प मेक अमेरिका ग्रेट अगेन के नारे के साथ इस साल चुनाव जीतना चाहते हैं, जिनपिंग चीन की इमेज सुधारने की कोशिश में हैं

फ्रांस में फिर एक दिन में 14 हजार से ज्यादा मामले सामने आए, ब्रिटेन में प्रतिबंधों का विरोध; दुनिया में 3.30 करोड़ केस