81% पायलटों ने एक साल में ड्यूटी पूरी नहीं की, 41 करोड़ रुपए होटलों में रुकने पर उड़ाए; सरकार ने कहा था- हमारे 40% पायलट फर्जी

पाकिस्तान की सरकारी एयरलाइंस कंपनी पीआईए बेहाल है। इसका खुलासा पीआईए की ही एक इंटरनल रिपोर्ट में हुआ है। रिपोर्ट में पायलटों और केबिन क्रू को लेकर हैरान कर देने वाले खुलासे हुए हैं। रिपोर्ट के मुताबिक- सरकारी एयरलाइंस के 49 से 81% पायलट तो कभी ड्यूटी ही पूरी नहीं करते। सरकार द्वारा तय होटलों में ठहरने की बजाए फाइव स्टार होटल्स में रूम बुक कराते हैं। इन पायलटों और केबिन क्रू ने 41 करोड़ पाकिस्तानी रुपए तो सिर्फ होटलों में ठहरने पर ही उड़ा दिए।
रिपोर्ट में एक बात छिपाने की कोशिश हुई है। इसमें यह नहीं बताया गया है कि यह रिपोर्ट किस साल या कितने महीनों के खर्च पर आधारित है। दो महीने पहले देश के एविएशन मिनिस्टर ने संसद में कहा था- हमारे 40 फीसदी पायलट फर्जी हैं।

सैलरी ज्यादा दी जा रही है
रिपोर्ट में साफ कहा गया है- पीआईए के ज्यादातर पायलट नाकाबिल हैं। 49 से 81 फीसदी पायलट और केबिन क्रू तो अपने फ्लाइंग ऑवर्स (ड्यूटी के घंटे) तक पूरे नहीं करते। इन्हें बहुत ज्यादा सैलरी दी जा रही है। एयरलाइंस को बचाने के लिए सबसे पहले ये खर्च कम करने होंगे। एविएशन इंडस्ट्री में पीआईए का स्तर सबसे घटिया है।

ऐसे उड़ाया जाता है सरकार का पैसा
रिपोर्ट के मुताबिक, पीआईए स्टाफ के लिए कराची में एक होटल है। इसमें 300 कमरे हैं। इसके बावजूद पायलट और केबिन क्रू इस होटल में नहीं ठहरते। ये लोग हमेशा फाइव स्टार होटलों को तवज्जो देते हैं। अगर स्टाफ इन हाउस फैसेलिटीज का इस्तेमाल करे तो करोड़ों रुपए बचाए जा सकते हैं। इन्हीं हरकतों की वजह से एयरलाइन को 41 करोड़ रुपए का घाटा हुआ। रिपोर्ट में घाटा किस दौरान हुआ? इसका जिक्र नहीं है। हालांकि, किस शहर की किस होटल का कितना बिल पेमेंट हुआ, इसकी लिस्ट दी गई है।

जिम्मेदारी तय हो
रिपोर्ट में कहा गया है- पीआईए में किसी तरह का मैकेनिज्म यानी काम का ढांचा ही नहीं है। ऐसे में हालात सुधरने की बात सोचना भी बेकार है। केबिन और कॉकपिट क्रू यानी पायलटों की जिम्मेदारी तय करनी होगी। उन्हें काबिल बनाना होगा, क्योंकि स्टैंडर्ड के मामले में पीआईए बेहद निचले स्तर पर है। इन सभी की सैलरी और दूसरे खर्च तुरंत कम करने होंगे।

पाकिस्तान के ए‌विएशन सेक्टर से जुड़ी ये खबरें भी आप पढ़ सकते हैं...

1. अब मलेशिया ने पाकिस्तान के पायलटों पर बैन लगाया, कहा- पाकिस्तान के एविएशन मिनिस्टर ने खुद माना कि उनके 40% पायलट फर्जी हैं

2. पाकिस्तान की सरकारी एयरलाइंस के 860 में से 150 पायलट नहीं उड़ा सकेंगे प्लेन, 262 पायलट्स का एग्जाम किसी और ने दिया था

3. पाकिस्तान में फर्जी लाइसेंस वाले 262 पायलट्स के एयरकाफ्ट उड़ाने पर रोक, इनके खिलाफ जांच होगी, दोषी पाए गए तो जेल जाएंगे



Download Dainik Bhaskar App to read Latest Hindi News Today
दो महीने पहले जब पीआईए में फर्जी पायलटों का मामला सामने आया था तब यूरोप और कई देशों ने पीआईए पर ही बैन लगा दिया था। ये अब तक जारी है। (फाइल)


from Dainik Bhaskar https://ift.tt/30S153s

Comments

Popular posts from this blog

ट्रम्प की लोकप्रियता बढ़ रही; बिडेन 43% लोगों की पसंद तो ट्रम्प को 40% लोगों का साथ, जुलाई में यह अंतर 7% से ज्यादा था

ट्रम्प मेक अमेरिका ग्रेट अगेन के नारे के साथ इस साल चुनाव जीतना चाहते हैं, जिनपिंग चीन की इमेज सुधारने की कोशिश में हैं

इटली में लाॅकडाउन पालन कराने के लिए 8000 मेयर ने मोर्चा संभाला; सड़काें पर उतरे, फेसबुक से समझाया फिर भी नहीं माने ताे ड्राेन से अपमान