ईरान ने कहा- इजराइल से समझौता कर यूएई ने फिलिस्तीन के लोगों के साथ विश्वासघात किया, यह अब हमारे लिए आसान टार्गेट

इजराइल और यूएई के बीच हुए ऐतिहासिक शांति समझौते से ईरान भड़क गया है। उसने यूएई के खिलाफ हमले की धमकी दी है। अरब न्यूज के मुताबिक ईरान के कट्‌टरपंथी अखबार काहान ने लिखा, " यूएई ने फिलिस्तीन के लोगों के साथ बड़ा विश्वासघात किया है। अब यह हमारे लिए एक आसान टार्गेट बन गया है और इसके पीछे जायज वजह भी है। यह (यूएई) छोटा और अमीर देश अपनी सुरक्षा पर बहुत ज्यादा डिपेंडेंट है।" काहान के संपादक की नियुक्ति ईरान के सर्वोच्च नेता अयातुल्ला अली खामनेई ही करते हैं।

ईरान के राष्ट्रपति हसन रूहानी ने भी इस समझौते की आलोचना की है। उन्होंने कहा कि दोनों देशों के बीच हुआ समझौता फिलिस्तीन के लोगों के साथ धोखा है। यूएई ने एक बड़ी गलती की है।

यूएई को आठ मिनट में हिट कर सकती है ईरानी मिसाइल
सुरक्षा विशेषज्ञों ने बताया है कि ईरान की धमकी को गंभीरता से लेना चाहिए। ईरान यमन और इराक में हूति विद्रोहियों के जरिए मिसाइल से सऊदी नागरिकों को निशाना बनाता रहा है। अमेरिका में गल्फ स्टेट एनालिटिक्स के सीनियर एडवाइजर डॉ. थियोडोर कारसिक ने कहा कि ईरान की मिसाइलें यूएई को आठ मिनट में हिट कर सकती हैं। ईरान महत्वपूर्ण ठिकानों को निशाना बना सकता है या फिर वह रेगिस्तान में ही मिसाइलें दागकर दबाव बनाने की कोशिश करेगा।

अमेरिका ने कराया इजराइल-यूएई में समझौता
कट्टर दुश्मन माने जाने वाले इजराइल और संयुक्त अरब अमीरात (यूएई) के बीच गुरुवार को ऐतिहासिक शांति समझौता हुआ था। दोनों देशों के बीच मध्यस्थ की भूमिका अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रम्प ने निभाई। 1948 में आजादी के बाद इजराइल का किसी अरब देश के साथ यह सिर्फ तीसरा समझौता है। इसके पहले वो जॉर्डन और मिस्र के साथ समझौते कर चुका है।

इजराइल और यूएई में टेलीफोन सर्विस शुरू
यूएई और इजराइल में हुए समझौते के बाद टेलीफोन सर्विस भी शुरू हो गई है। न्यूज एजेंसी एपी ने बताया कि यरूशलम और दुबई में उसके जर्नलिस्ट आपस में लैंडलाइन और मोबाइल दोनों के जरिए बात कर सकते हैं। हालांकि, अभी इसकी आधिकारिक घोषणा नहीं हुई है।

ये खबर भी पढ़ सकते हैं...

1. अमन की उम्मीद:इजराइल और यूएई के बीच ऐतिहासिक शांति समझौता; इजराइल की आजादी के 72 साल में किसी अरब देश से यह सिर्फ तीसरा करार



Download Dainik Bhaskar App to read Latest Hindi News Today
ईरान की राजधानी तेहरान में यूएई दूतावास के बाहर इजराइल और अमेरिका के झंडे जलाते प्रदर्शनकारी। लोग दोनों देशों के बीच हुए समझौते का विरोध कर रहे हैं।


from Dainik Bhaskar https://ift.tt/31RQO6O

Comments

Popular posts from this blog

ट्रम्प की लोकप्रियता बढ़ रही; बिडेन 43% लोगों की पसंद तो ट्रम्प को 40% लोगों का साथ, जुलाई में यह अंतर 7% से ज्यादा था

ट्रम्प मेक अमेरिका ग्रेट अगेन के नारे के साथ इस साल चुनाव जीतना चाहते हैं, जिनपिंग चीन की इमेज सुधारने की कोशिश में हैं

फ्रांस में फिर एक दिन में 14 हजार से ज्यादा मामले सामने आए, ब्रिटेन में प्रतिबंधों का विरोध; दुनिया में 3.30 करोड़ केस