सिंगापुर में कोरोना से मौतों की दर दुनिया में सबसे कम, अमेरिका के बराबर टेस्ट कराए

सिंगापुर में मंगलवार से शादी, अंतिम संस्कार जैसे कार्यक्रमों में अधिकतम 20 की जगह 50 लोग शामिल हो सकेंगे। जबकि पर्यटन उद्योग को बढ़ावा देने के लिए 10 अगस्त से मलेशिया से लगी सीमा खोल दी जाएगी। सरकार ने इसकी मंजूरी दे दी है। यह फैसला 19 जून से शुरू हुए चरणबद्ध अनलॉक का हिस्सा है।

सिंगापुर ने कोरोना से कड़ा मुकाबला किया है। यहां 23 जनवरी को कोरोना का पहला मरीज मिला था। 20 अप्रैल को सबसे ज्यादा 1426 नए मरीज मिले। अप्रैल खत्म होते-होते 20198 मरीज हो गए। यही नहीं, सिंगापुर दक्षिण-पूर्व एशिया का सबसे ज्यादा कोरोना प्रभावित देश बन गया। तब सरकार ने बड़ा कदम उठाते हुए 8 हफ्ते का सख्त लॉकडाउन कर दिया। कोरोना टेस्ट की क्षमता बढ़ाई। सिंगापुर में प्रति 10 लाख आबादी पर 177100 टेस्ट किए जा चुके हैं, जो दक्षिण- पूर्व एशिया में सबसे अधिक और अमेरिका के करीब है। अमेरिका में प्रति 10 लाख आबादी पर 178855 टेस्ट किए गए हैं।

3 डी प्रिटिंग की मदद से टेस्टिंग किट बन रहा

नेशनल यूनिवर्सिटी ऑफ सिंगापुर 3डी प्रिंटिंग और इंजेक्शन मोल्ड की मदद से 4 करोड़ स्वाब टेस्टिंग किट बना रही है। इसे बेहद किफायती बताया जा रहा है। इन कदमों का अच्छा नतीजा यह रहा कि 25 जुलाई के बाद 500 से कम नए मरीज आने लगे। अब तक सिंगापुर में 52,825 मरीज मिले हैं। जबकि 27 मौतें हो चुकी हैं। 46740 मरीज ठीक हो चुके हैं। यहां मौतों की दर दुनिया में सबसे कम यानी 0.051% है।

बेरोजगारी की दर एक दशक में सबसे ज्यादा 2.9% पर पहुंची

देश में इस साल की दूसरी तिमाही में बेरोजगारी की दर एक दशक में सबसे ज्यादा 2.9% हो गई है। उधर, सिंगापुर में डीबीएस बैंक के वरिष्ठ अर्थशास्त्री इरविन सियाह ने कहा कि कोरोना संकट के कारण कमजोर हुई अर्थव्यवस्था खासकर पर्यटन और उड्डयन जैसे उद्योगों को औसत स्तर पर आने में दो साल लगेंगे। कामगारों की सुरक्षा का ध्यान रखना होगा। प्रोत्साहित करने पर मजदूर काम पर लौट सकेंगे। सिंगापुर में कोरोनावायरस की सबसे बड़ी चुनौती डॉरमेट्री में मिल रही है। यहां करीब 30 हजार विदेशी कामगार बेहद कम जगह में रहते हैं।

हफ्तेभर में 1736 डेंगू मरीज मिले, पर्यावरण एजेंसी की चेतावनी- रिकॉर्ड टूटेगा

सिंगापुर में कोरोना के बाद डेंगू का बुखार बड़ी चुनौती बनकर उभर रहा है। सरकारी आंकड़ों के मुताबिक इस साल के पहले 7 महीने में देश में डेंगू के 19 हजार मरीज मिले हैं। एक हफ्ते में ही यहां डेंगू के 1736 मरीज सामने आए हैं।

सिंगापुर में यह हफ्ते में सबसे अधिक डेंगू मरीजों का रिकॉर्ड है। औसत 150 मरीज रोज मिल रहे हैं। पर्यावरण एजेंसी ने चेतावनी दी है कि इस साल देश में 22 हजार से ज्यादा डेंगू मरीज मिल सकते हैं। इससे 2013 का रिकॉर्ड टूटेगा। तब देश में करीब इतने ही डेंगू मरीज मिले थे।

प्रशासन ने घोषणा की है कि अगर घरों और कामकाज के स्थलों पर मच्छर पाए गए तो जुर्माना लगेगा। इसलिए लोग स्वच्छता और छिड़काव जैसी सावधानियों का ध्यान रखें। प्रशासन ने कहा है कि दो दिन से ज्यादा बुखार रहने पर लोग अस्पतालों में इलाज के लिए पहुंचे।



Download Dainik Bhaskar App to read Latest Hindi News Today
तस्वीर सिंगापुर के बाजार की है। अनलॉक के बाद यहां ज्यादातर दुकानें खुल रही हैं।


from Dainik Bhaskar https://ift.tt/2DnKkUF

Comments

Popular posts from this blog

ट्रम्प की लोकप्रियता बढ़ रही; बिडेन 43% लोगों की पसंद तो ट्रम्प को 40% लोगों का साथ, जुलाई में यह अंतर 7% से ज्यादा था

ट्रम्प मेक अमेरिका ग्रेट अगेन के नारे के साथ इस साल चुनाव जीतना चाहते हैं, जिनपिंग चीन की इमेज सुधारने की कोशिश में हैं

इटली में लाॅकडाउन पालन कराने के लिए 8000 मेयर ने मोर्चा संभाला; सड़काें पर उतरे, फेसबुक से समझाया फिर भी नहीं माने ताे ड्राेन से अपमान