मोदी, कोविंद और सोनिया समेत भारत के 10 हजार बड़े लोगों और संस्थाओं पर चीन की नजर, वहां की सरकार से जुड़ी डेटा कंपनी हर छोटी-बड़ी सूचना जुटा रही

चीन की सरकार से जुड़ी एक बड़ी डेटा कंपनी 10 हजार भारतीय लोगों और संगठनों की निगरानी कर रही है। इनमें प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी, रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह, राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद और कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी, उनका परिवार, कई कैबिनेट मंत्री और मुख्यमंत्री शामिल हैं। ज्यूडिशियरी, बिजनेस, स्पोर्ट्स, मीडिया, कल्चर एंड रिलीजन से लेकर तमाम क्षेत्रों के लोगों पर चीन की नजर है। यहां तक कि आपराधिक मामलों के आरोपियों की भी निगरानी की जा रही है। अंग्रेजी अखबार इंडियन एक्सप्रेस की इन्वेस्टिगेशन में ये खुलासा हुआ है।

चीन की निगरानी में भारत के ये 20 बड़े लोग शामिल
1.
नरेंद्र मोदी, प्रधानमंत्री
2. रामनाथ कोविंद, राष्ट्रपति
3. राजनाथ सिंह, रक्षा मंत्री
4. रविशंकर प्रसाद, कानून मंत्री
5. निर्मला सीतारमण, वित्त मंत्री
6. पीयूष गोयल, रेल मंत्री
7. सोनिया गांधी, कांग्रेस अध्यक्ष
8. मनमोहन सिंह, पूर्व प्रधानमंत्री
9. राहुल गांधी, कांग्रेस नेता
10. स्मृति ईरानी, टेक्सटाइल मिनिस्टर
11. बिपिन रावत, चीफ ऑफ डिफेंस स्टाफ
12. एस ए बोबडे, चीफ जस्टिस ऑफ इंडिया
13. जी सी मुर्मू, कॉम्प्ट्रॉलर एंड ऑडिटर जनरल (CAG)
14. शिवराज सिंह चौहान, मुख्यमंत्री, मध्य प्रदेश
15. अशोक गहलोत, मुख्यमंत्री, राजस्थान
16. उद्धव ठाकरे, मुख्यमंत्री, महाराष्ट्र
17. ममता बनर्जी, मुख्यमंत्री, पश्चिम बंगाल
18. रतन टाटा, चेयरमैन (एमेरिटस), टाटा ग्रुप
19. गौतम अडाणी, चेयरमैन, अडाणी ग्रुप
20. सचिन तेंदुलकर, क्रिकेटर

रिपोर्ट के मुताबिक चीन के शेनझेन शहर की झेन्हुआ डेटा इन्फॉर्मेशन टेक्नोलॉजी कंपनी भारतीयों की रियल टाइम मॉनिटरिंग कर रही है। इसके निशाने पर भारत के जो लोग और संगठन हैं, उनकी हर छोटी-बड़ी सूचना जुटाई जा रही है। इंडियन एक्सप्रेस ने 2 महीने तक बड़े डेटा टूल्स का इस्तेमाल करते हुए झेन्हुआ के मेटा डेटा की पड़ताल के आधार पर यह खुलासा किया है।



Download Dainik Bhaskar App to read Latest Hindi News Today
चीन जिन हस्तियों की निगरानी कर रहा, उनमें मध्य प्रदेश, राजस्थान, महाराष्ट्र, पश्चिम बंगाल और पंजाब के मुख्यमंत्री भी शामिल हैं।


from Dainik Bhaskar https://ift.tt/3iweO6z

Comments

Popular posts from this blog

ट्रम्प की लोकप्रियता बढ़ रही; बिडेन 43% लोगों की पसंद तो ट्रम्प को 40% लोगों का साथ, जुलाई में यह अंतर 7% से ज्यादा था

अमेरिका में चुनाव के दिन बाइडेन समर्थकों ने 75% और ट्रम्प सपोर्टर्स ने 33% ज्यादा शराब खरीदी

124 साल पुरानी परंपरा तोड़ेंगे ट्रम्प; मीडिया को आशंका- राष्ट्रपति कन्सेशन स्पीच में बाइडेन को बधाई नहीं देंगे