फ्रांस में हालात बिगड़े- एक दिन में 13 हजार से ज्यादा मामले सामने आए; दुनिया में अब तक 3.06 करोड़ संक्रमित

दुनिया में संक्रमितों का आंकड़ा 3.06 करोड़ से ज्यादा हो गया है। इसी दौर में एक अच्छी खबर ये है कि ठीक होने वालों की संख्या भी अब 2 करोड़ 23 लाख से ज्यादा हो चुकी है। महामारी में मरने वालों की संख्या 9 लाख 55 हजार से ज्यादा हो गई है। ये आंकड़े https://ift.tt/2VnYLis के मुताबिक हैं। अब बात कर लेते हैं दुनिया में इस वायरस से जुड़ी कुछ अहम खबरों की। फ्रांस में संक्रमण की दूसरी लहर बहुत तेजी से फैली है। ब्रिटेन के प्रधानमंत्री बोरिस जॉनसन ने माना है कि देश में संक्रमण की दूसरी लहर सामने आ चुकी है।

फ्रांस: संक्रमण की दूसरी लहर
फ्रांस सरकार के सामने नई परेशानी खड़ी हो गई है। अगस्त में देश के ज्यादातर हिस्सों में संक्रमण पर काबू पाने के बाद फ्रांस में इसकी दूसरी लहर देखने मिल रही है। हालात तेजी से बिगड़ रहे हैं। शुक्रवार को हेल्थ मिनिस्ट्री ने बयान जारी कर बताया कि देश में एक दिन में 13 हजार 215 नए मामले सामने आए हैं। इससे भी ज्यादा फिक्र की बात यह है कि मरने वालों का आंकड़ा भी 154 बढ़ गया। अब यह 31 हजार 249 हो गया है। तीन महीने बाद एक दिन में इतने लोगों की मौत कोरोना के चलते हुई।

ब्रिटेन : पीएम का बयान
ब्रिटेन के प्रधानमंत्री बोरिस जॉनसन ने माना है कि देश में संक्रमण की दूसरी लहर सामने आ चुकी है। इतना ही नहीं विरोधियों को जवाब देते हुए पीएम ने साफ कर दिया कि सरकार बिना किसी दबाव में आए सोशल डिस्टेंसिंग और मास्क को लेकर सख्त नियम लागू करेगी। जॉनसन ने कहा- हालात बिगड़ने से रोकने के लिए हमें सख्त कदम उठाने ही होंगे। शुक्रवार को देश में कुल 4332 नए मामले सामने आए। हेल्थ मिनिस्ट्री ने कहा- इसमें कोई शक नहीं है कि संक्रमण की दूसरी लहर सामने आ चुकी है। जो फ्रांस और स्पेन में हो रहा है, वही ब्रिटेन में भी हो रहा है।

फोटो लंदन के एक बाजार में टहलते लोगों की है। यहां प्रधानमंत्री बोरिस जॉनसन ने माना है कि देश में संक्रमण की दूसरी लहर सामने आ चुकी है। (फाइल)

अमेरिका : ट्रम्प का नया वादा
अमेरिकी राष्ट्रपति चुनावी सियासत और महामारी को अलग नहीं कर पा रहे हैं और अब उनका नया बयान सामने आया है। ट्रम्प ने कहा कि कोरोनावायरस का वैक्सीन अगले साल अप्रैल तक हर अमेरिकी तक पहुंच जाएगा। बता दें कि उनके पूर्व सलाहकार राष्ट्रपति को बार-बार सलाह दे रहे हैं कि वे वैक्सीन को लेकर कोई वादा नहीं करें। क्योंकि, वैक्सीन के लिए अमेरिका में अप्रूवल की प्रॉसेस बाकी देशों की तुलना में काफी सख्त और यही वजह है कि इसके लिए फिलहाल कोई डेट लाइन तय नहीं की जा सकती।

अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रम्प ने कहा कि कोरोनावायरस का वैक्सीन अगले साल अप्रैल तक हर अमेरिकी तक पहुंच जाएगा। अमेरिकी राष्ट्रपति के सलाहकार उनके इस दावे से सहमत नहीं हैं। (फाइल)

ऑस्ट्रेलिया : ट्रैवल बैन में राहत
ऑस्ट्रेलियाई सरकार ने राज्य सरकारों से मिलकर फैसला किया है कि ट्रैवल बैन पर कुछ राहत जल्द दी जानी चाहिए और इसके लिए तैयारी भी शुरू कर दी गई है। न्यू साउथवेल्स, क्वीसलैंड और वेस्टर्न ऑस्ट्रेलिया में यह तय हो गया है कि आने वाले कुछ दिनों में प्रतिबंध हल्के किए जाएंगे। हालांकि, देश आने वाले लोगों को होटलों में क्वारैंटाइन रहना होगा। करीब 4 से 6 हजार ऑस्ट्रेलियाई हर हफ्ते ऑस्ट्रेलिया लौट रहे हैं। एक अनुमान के मुताबिक, इस वक्त करीब 60 हजार ऑस्ट्रेलियाई दूसरे देशों में फंसे हुए हैं।

ऑस्ट्रेलिया में मेलबर्न के एक हॉस्पिटल में मरीज को शिफ्ट करने की तैयारी में स्टाफ। सरकार ने यहां ट्रैवल बैन में कुछ राहत देने का ऐलान किया है। (फाइल)

फिलीपींस में राष्ट्रीय आपातकाल बढ़ा
फिलीपींस के राष्ट्रपति रोड्रिगो दुर्तेते ने महामारी को देखते हुए देश में राष्ट्रीय आपात का समय बढ़ा दिया है। यह इस साल 13 सितंबर से शुरू होकर अगले साल 12 सितंबर तक जारी रहेगा।हालांकि, अफसरों के मुताबिक, अगर महामारी की स्थिति में सुधार होता है तो इसका समय कम किया जा सकता है।



Download Dainik Bhaskar App to read Latest Hindi News Today
पेरिस के एक हॉस्पिटल में शुक्रवार को आईसीयू के गेट से बाहर देखती नर्स। फ्रांस में संक्रमण की दूसरी लहर साफ तौर पर सामने आ चुकी है। शुक्रवार को यहां 13 हजार से ज्यादा नए संक्रमित मिले।


from Dainik Bhaskar https://ift.tt/2RGKKJK

Comments

Popular posts from this blog

चीन ने कहा- हमारा समुद्री अधिकार नियम के मुताबिक, जवाब में ऑस्ट्रेलिया बोला- उम्मीद है आप 2016 का फैसला मानेंगे

अफगानिस्तान सीमा को खोलने की मांग कर रहे थे प्रदर्शनकारी, पुलिस ने फायरिंग की; 3 की मौत, 30 घायल

ट्रम्प की लोकप्रियता बढ़ रही; बिडेन 43% लोगों की पसंद तो ट्रम्प को 40% लोगों का साथ, जुलाई में यह अंतर 7% से ज्यादा था