तेल और टायर रखने के लिए बनाए गए वेयरहाउस में आग लगी,एक महीने पहले यहीं पर हुए धमाके में 190 लोगों की जान गई थी

लेबनान की राजधानी बेरूत के पोर्ट पर गुरुवार को फिर आग लग गई। आसपास का इलाका धुएं से भर गया। यहीं पर एक महीने पहले हुए धमाके में 190 लोगों की मौत हुई थी। लेबनान आर्मी के मुताबिक, पोर्ट के ड्यूटी फ्री जोन के एक वेयरहाउस में आग लगी। यहां तेल और टायर रखे थे। आग पर काबू पाया जा रहा है। सेना के हेलिकॉप्टरों की भी मदद ली जा रही है। पोर्ट जाने वाली सड़क पर ट्रैफिक डायवर्ट कर दिया गया। अभी आग लगने की वजह नहीं पता चली है।
एक महीने पहले हुए धमाके से डरे लोग अचानक लगी इस आग से और ज्यादा डर गए। पोर्ट के आसपास रहने वाले लोगों ने खिड़कियां खोलकर एक दूसरे को आवाज देनी शुरू कर दी। लोकल मीडिया के मुताबिक, इलाके की कुछ कंपनियों ने अपने स्टाफ को तुरंत घर जाने को कह दिया।

लोगों को पोर्ट से दूर रहने की अपील की गई

बेरूत के गवर्नर मारवान अबॉड और स्थानीय अधिकारियों ने लोगों से अपील की है कि वे पोर्ट से दूर रहें। पोर्ट पर हफ्ते भर में यह दूसरी आग है। इससे पहले मंगलवार को भी यहां आग लगी थी, जिसे जल्द बुझा लिया गया था। इस घटना से जुड़ा वीडियो भी कुछ लोगों ने सोशल मीडिया पर शेयर किया जा रहा है। इसमें लोग को इधर-उधर भागते देखा जा सकता है।

4 अगस्त को बेरूत पोर्ट पर हुआ था बड़ा धमाका

बेरूत में 4 अगस्त को तट के पास विस्फोट हुआ था। अमोनियम नाइट्रेट के सात साल से रखे कंटेनर्स में धमाके हुए थे। इसकी धमक 240 किलोमीटर दूर तक सुनाई दी थी। 10 किलोमीटर के दायरे में मौजूद घरों को नुकसान पहुंचा था। 190 लोगों की जान चली गई थी और 6500 लोग घायल हुए थे। हजारों बिल्डिंगों को नुकसान पहुंचा था।



Download Dainik Bhaskar App to read Latest Hindi News Today
लेबनान की राजधानी बेरूत के पोर्ट पर गुरुवार को आग लगने के बाद पूरा इलाका धुआं से भर गया। फिलहाल इस पोर्ट का कंट्रोल लेबनान की सेना के हाथों में हैं।


from Dainik Bhaskar https://ift.tt/3bQZmPV

Comments

Popular posts from this blog

ट्रम्प की लोकप्रियता बढ़ रही; बिडेन 43% लोगों की पसंद तो ट्रम्प को 40% लोगों का साथ, जुलाई में यह अंतर 7% से ज्यादा था

अमेरिका में चुनाव के दिन बाइडेन समर्थकों ने 75% और ट्रम्प सपोर्टर्स ने 33% ज्यादा शराब खरीदी

124 साल पुरानी परंपरा तोड़ेंगे ट्रम्प; मीडिया को आशंका- राष्ट्रपति कन्सेशन स्पीच में बाइडेन को बधाई नहीं देंगे