यूएनजीए के 75वें सेशन से पहले भारत को बदनाम करने के लिए पाकिस्तान ने ऑनलाइन कैंपेन शुरू किया, कश्मीर पर झूठी बातें फैलाने की कोशिश करेगा

संयुक्त राष्ट्र महासभा ( यूएनजीए) के 75वें सेशन से पहले एक बार फिर पाकिस्तान की भारत विरोधी हरकतें तेज हो गई है। खुफिया सूत्रों के मुताबिक, पाकिस्तान ने शनिवार से सोशल मीडिया प्लेटफॉर्म्स पर भारत के खिलाफ प्रोपगेंडा शुरू करेगा। पूरी दुनिया में कश्मीर से जुड़ी झूठी बातों को फैलाने के लिए ट्विटर पर हैश टैग चलाने का फैसला किया है। इसके जरिए आधारहीन और मनगढ़ंत तथ्यों की मदद से भारत सरकार की आलोचना की जाएगी।

भारत के खिलाफ यह ऑनलाइन कैंपेन पाकिस्तानी आर्मी और उसकी खुफिया एजेंसी इंटर सर्विस इंटेलिजेंस (आईएसआई) चलाएगी। ट्विटर के जरिए पाकिस्तान ऑस्ट्रेलिया, न्यूजीलैंड, अमेरिका, कनाडा, ब्रिटेन, सऊदी अरब, कतर और मलेशिया जैसे देशों में रहने वाले लोगों के साथ जुड़ेगा। इसका शेड्यूल भी जारी किया गया है।

15 सितंबर से शुरू हुआ है यूनजीए सेशन

यूएनजीए का 75वां सेशन इस साल महामारी को देखते हुए ऑनलाइन हो रहा है। इसकी शुरुआत 15 सितंबर से शुरू हुई है। दुनियाभर के नेता इसमें अपना भाषण रिकॉर्ड करके भेजेंगे। इसे 22 सितंबर के बाद वहां सुनाया जाएगा।

भारत के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी का भाषण 24 सितंबर को होगा। इसके एक दिन बाद पाकिस्तान के प्रधानमंत्री इमरान खान का भाषण होगा। पाकिस्तान पहले भी कई मौके पर अंतरराष्ट्रीय मंचों पर कश्मीर का मुद्दा उठाने की कोशिश कर चुका है।

पिछले सेशन में चार देशों ने कश्मीर मुद्दा उठाया था

यूएनजीए के पिछले सेशन में चार देशों ने कश्मीर मुद्दा उठाया था। इनमें पाकिस्तान, चीन, मलेशिया और तुर्की शामिल है। इन देशों ने कश्मीर में मानवाधिकार का उल्लंघन होने की बात कही थी। हालांकि, यूनजीए के कई सदस्य देशों ने इसे भारत और पाकिस्तान का अंदरूनी मामला बताया था।

ये भी पढ़ सकते हैं...

1. पाकिस्तान सरकार ने कहा- हमारी फॉरेन पॉलिसी कामयाब, भारत हमें अलग-थलग नहीं कर पाया; अमेरिका और यूएई से रिश्ते सुधरे

2. पाकिस्तान के प्रधानमंत्री इमरान खान ने एक साल में 8 बार खुद और देश का मजाक उड़वाया, यूएन में मोदी को बताया था राष्ट्रपति



Download Dainik Bhaskar App to read Latest Hindi News Today
यह फोटो पिछले साल 27 सितंबर की है। उस समय यूनजीए के सेशन में पाकिस्तान के प्रधानमंत्री इमरान खान तय समय से ज्यादा समय तक बोलते रहे थे।- फाइल फोटो


from Dainik Bhaskar https://ift.tt/33IRrjR

Comments

Popular posts from this blog

चीन ने कहा- हमारा समुद्री अधिकार नियम के मुताबिक, जवाब में ऑस्ट्रेलिया बोला- उम्मीद है आप 2016 का फैसला मानेंगे

अफगानिस्तान सीमा को खोलने की मांग कर रहे थे प्रदर्शनकारी, पुलिस ने फायरिंग की; 3 की मौत, 30 घायल

ट्रम्प की लोकप्रियता बढ़ रही; बिडेन 43% लोगों की पसंद तो ट्रम्प को 40% लोगों का साथ, जुलाई में यह अंतर 7% से ज्यादा था