आज मॉस्को में चीन के रक्षा मंत्री से हो सकती है राजनाथ की मुलाकात; शेड्यूल में नहीं है इस बातचीत का कार्यक्रम

लद्दाख में जारी तनाव के बीच आज मॉस्को में भारत और चीन के रक्षा मंत्रियों की मुलाकात की उम्मीद है। भारत के रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह शंघाई कोऑपरेशन ऑर्गनाइजेशन (एससीओ) की मीटिंग के सिलसिले में रूस में हैं। इसमें चीन के डिफेंस मिनिस्टर वेई फेंग्हे भी हिस्सा ले रहे हैं। मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक, चीन वेई की तरफ से राजनाथ से मुलाकात की इच्छा जताई गई है। आधिकारिक तौर पर इसकी पुष्टि फिलहाल नहीं हो पाई है।

शेड्यूल में नहीं है मीटिंग
राजनाथ तीन दिन के दौरे पर रूस में हैं। यहां एससीओ की मीटिंग से इतर भी उनके कुछ कार्यक्रम हैं। रूस और भारत के बीच रक्षा सौदों पर बातचीत का एक दौर हो चुका है। रूसी रक्षा मंत्री से भी राजनाथ मुलाकात कर चुके हैं। लेकिन, राजनाथ के मॉस्को रवाना होने के पहले ही भारतीय विदेश मंत्रालय ने साफ कर दिया था कि चीन के रक्षा मंत्री से मुलाकात का कार्यक्रम राजनाथ के शेड्यूल में नहीं है। गुरुवार को न्यूज एजेंसी ने बताया था कि चीन इस बात की कोशिश कर रहा है दोनों रक्षा मंत्रियों की मुलाकात हो। इसके लिए डिप्लोमैटिक लेवल पर कोशिश भी की जा रही है।

गंभीर प्रयास करे चीन
भारत ने चीन से कहा है कि सीमा विवाद सुलझाने और तनाव कम करने के लिए वो गंभीर प्रयास करे। गुरुवार को प्रेस कॉन्फ्रेंस के दौरान विदेश मंत्रालय के प्रवक्ता अनुराग श्रीवास्तव ने कहा- तनाव कम करने के लिए दोनों देशों के बीच कूटनीतिक और सैन्य स्तर पर बातचीत चल रही है।

भारतीय सेना ने कुछ दिनों पहले पैंगोन्ग सो लेक के दक्षिणी हिस्से पर कब्जे करने की चीन की साजिश नाकाम कर दी थी। चीनी सैनिकों को इस हिस्से से खदेड़ दिया गया था। इसके बाद चीन की तरफ से गुरुवार सुबह एक बयान में कहा गया था कि दोनों देशों के बीच तनाव बढ़ सकता है।



Download Dainik Bhaskar App to read Latest Hindi News Today
Rajnath Singh Russia Visit Update | India China Defense Minister Meeting Today In Shanghai Summit Cooperation Organization in Moscow


from Dainik Bhaskar https://ift.tt/3hZhutg

Comments

Popular posts from this blog

ट्रम्प की लोकप्रियता बढ़ रही; बिडेन 43% लोगों की पसंद तो ट्रम्प को 40% लोगों का साथ, जुलाई में यह अंतर 7% से ज्यादा था

अमेरिका में चुनाव के दिन बाइडेन समर्थकों ने 75% और ट्रम्प सपोर्टर्स ने 33% ज्यादा शराब खरीदी

124 साल पुरानी परंपरा तोड़ेंगे ट्रम्प; मीडिया को आशंका- राष्ट्रपति कन्सेशन स्पीच में बाइडेन को बधाई नहीं देंगे