भारतीय बिजनेसमैन की बेटी की शादी बांग्लादेशी नेता के बेटे से कराई, एनआईए ने जाकिर और दो पाकिस्तानियों को आरोपी बनाया

नेशनल इंवेस्टिगेशन एजेंसी (एनआईए) ने एक हाई प्रोफाइल लव जिहाद मामले में भगोड़े विवादित इस्लामिक उपदेशक जाकिर नाइक और पाकिस्तानी मूल के और दो कट्टरपंथियों को आरोपी बनाया है। यह मामला चेन्नई के एक बिजनेसमैन की बेटी और बांग्लादेश के एक बड़े राजनेता के बेटे का है। यह नेता पूर्व पीएम खालिदा जिया की बांग्लादेश नेशनलिस्ट पार्टी का है।

एनआईए कर रही जांच
एनआईए इंडियन बिजनेसमैन की बेटी और बांग्लादेशी राजनेता के बेटे की लंदन में हुई शादी की जांच कर रही है। न्यूज एजेंसी आईएएनएस ने सूत्रों के हवाले से बताया कि इस मामले में जाकिर नाइक और अमेरिका में रहने वाले पाकिस्तानी मूल के दो कट्‌टरपंथी उपदेशकों यासिर कादी और नौमान अली खान को आरोपी बनाया गया है। कादी ने कुछ दिनों पहले जाकिर नाईक का एक वीडियो शेयर किया था। इसमें नाइक कहता है कि भारत ने उससे कहा है कि अगर वो अनुच्छेद 370 हटाए जाने का समर्थन करे तो सुरक्षित लौट सकता है।

बिजनेस मैन ने बेटी के अपहरण का आरोप लगाया
लड़की के पिता ने मई में चेन्नई सेंट्रल क्राइम ब्रांच में शिकायत दर्ज कराई थी। उन्होंने कहा था कि उनकी बेटी लंदन में पढ़ रही थी। वहां वह एक कट्टरपंथी के संपर्क में आ गई। उसे इस्लाम धर्म मानने के लिए मजबूर किया गया। इसके बाद उसका अपहरण करके जबरन बांग्लादेश ले जाया गया।

चेन्नई के पुलिस कमिश्नर महेश कुमार अग्रवाल ने न्यूज एजेंसी से कहा कि इस मामले की जांच विदेश में होनी है, इसलिए इसे एनआईए को ट्रांसफर कर दिया गया है। 28 मई को तमिलनाडु सरकार ने केंद्र सरकार से केस दर्ज करने कि लिए कहा था।

बीएनपी नेता का बेटा मुख्य आरोपी
इस मामले में मुख्य आरोपी बीएनपी के पूर्व सांसद शखावत हुसैन बुकल का बेटा नफीस है। बकुल ने 1991 और 2001 में नरसिंगडी-4 से चुनाव जीता था। उसे दिसंबर 2013 में खालिदा जिया के आवास से गिरफ्तार किया गया था। जून 2017 में उस पर एक बिजनेसमैन ने जबरन वसूली का मुकदमा किया था।

नाइक पर मनी लॉन्ड्रिंग का आरोप

भारत में जाकिर नाइक पर मनी लॉन्ड्रिंग और कट्‌टरता फैलाने के केस दर्ज है। गिरफ्तारी के डर से वह 2016 में मलेशिया भाग गया। जून 2017 में कोर्ट ने नाइक को अपराधी घोषित किया था। उस पर मलेशिया में अल्पसंख्यक हिंदुओं और चीन के लोगों की भावनाएं आहत करने का भी आरोप है। मलेशिया में नाइक ने एक भड़काऊ भाषण दिया था। उसने कहा था कि मलेशिया में हिंदुओं को भारत के मुस्लिमों के मुकाबले 100 गुना ज्यादा अधिकार मिले हैं।



Download Dainik Bhaskar App to read Latest Hindi News Today
जाकिर नाइक 2016 में भारत छोड़कर मलेशिया भाग गया था। जून 2017 में कोर्ट ने नाइक को भगोड़ा घोषित किया था। (फाइल)


from Dainik Bhaskar https://ift.tt/2F0QgE4

Comments

Popular posts from this blog

ट्रम्प की लोकप्रियता बढ़ रही; बिडेन 43% लोगों की पसंद तो ट्रम्प को 40% लोगों का साथ, जुलाई में यह अंतर 7% से ज्यादा था

अमेरिका में चुनाव के दिन बाइडेन समर्थकों ने 75% और ट्रम्प सपोर्टर्स ने 33% ज्यादा शराब खरीदी

124 साल पुरानी परंपरा तोड़ेंगे ट्रम्प; मीडिया को आशंका- राष्ट्रपति कन्सेशन स्पीच में बाइडेन को बधाई नहीं देंगे