एक्सपर्ट्स का दावा- नियमित एक्सरसाइज करने वालों पर कोरोना वैक्सीन का बेहतर असर हो सकता है

अगर आप एथलीट हैं तो किसी फ्लू के टीके से आपको बेहतर इम्युनिटी मिलेगी। आपकी इम्युनिटी उन लोगों की तुलना में ज्यादा बढ़ेगी जो एक्टिव नहीं रहते हैं। यह दावा दो नई स्टडी में किया गया है। इन स्टडीज में धावक, तैराक, रेसलर, साइक्लिस्ट और दूसरे एथलीट शामिल हुए थे।

यह स्टडी इसलिए भी अहम मानी जा रही है, क्योंकि कोरोना की वैक्सीन लगभग तैयार है और दुनियाभर में बड़े स्तर पर टेस्टिंग की जा रही है। यह स्टडी जर्मनी की सारलैंड यूनिवर्सिटी के रिसर्चर ने की है। स्टडी दो ग्रुप्स पर की गई है।

सारलैंड यूनिवर्सिटी की इम्युनोलॉजिस्ट और नई स्टडी की को-ऑथर मार्टिना सेस्टर कहती हैं कि इस अध्ययन में एथलीट्स के इम्यून सिस्टम ने टीके के प्रति ज्यादा बेहतर रेस्पॉन्स दिया। मार्टिना और उनके साथियों को उम्मीद है कि कोरोना की वैक्सीन भी उन लोगों पर ज्यादा बेहतर असर करेगी जो नियमित एक्सरसाइज करते हैं।

ऐसे ही निष्कर्ष वाला दूसरा अध्ययन मेडिसिन एंड साइंस इन स्पोर्ट्स एंड एक्सरसाइज जर्नल में प्रकाशित हुआ है। इसमें भी टीके के बेहतर असर के लिए एक्सरसाइज को जरूरी बताया गया है।

ज्यादा कड़ी एक्सरसाइज भी न करें

कई रिसर्च में यह भी कहा गया है कि ज्यादा कड़ी एक्सरसाइज करने से इम्यून सिस्टम कमजोर पड़ जाता है। महामारी के एक्सपर्ट के रिसर्च और एथलीट्स के पर्सनल एक्सपीरियंस से पता चला है कि कड़ी एक्सरसाइज कुछ समय के लिए इम्युनिटी को कमजोर करती है। लेकिन, ज्यादातर एक्सपर्ट्स का मानना है कि ये कम समय के लिए होता है। तीन घंटे से लेकर 72 घंटे तक इम्यून सिस्टम अस्थायी रूप से कमजोर हो सकता है, उसके बाद सामान्य हो जाता है।



Download Dainik Bhaskar App to read Latest Hindi News Today
कुछ स्टडीज में यहां तक दावा किया गया है कि यदि हाथ में टीका लगवाने से एक घंटे पहले हाथ की एक्सरसाइज कर ली जाए तो बेहतर एंटीबॉडी रेस्पॉन्स मिलता है। (फाइल फोटो)


from Dainik Bhaskar https://ift.tt/35bAQI6

Comments

Popular posts from this blog

ट्रम्प की लोकप्रियता बढ़ रही; बिडेन 43% लोगों की पसंद तो ट्रम्प को 40% लोगों का साथ, जुलाई में यह अंतर 7% से ज्यादा था

अमेरिका में चुनाव के दिन बाइडेन समर्थकों ने 75% और ट्रम्प सपोर्टर्स ने 33% ज्यादा शराब खरीदी

124 साल पुरानी परंपरा तोड़ेंगे ट्रम्प; मीडिया को आशंका- राष्ट्रपति कन्सेशन स्पीच में बाइडेन को बधाई नहीं देंगे