ट्रम्प ने 4 साल में 72 पर्यावरण कानून बदले, 27 और कतार में, विशेषज्ञों ने कहा- ट्रम्प ने जलवायु नीतियों को कमजोर कर दिया

अमेरिका में राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रम्प ने अपने चार साल के कार्यकाल में प्रमुख जलवायु नीतियों को नष्ट कर दिया है। न्यूयॉर्क टाइम्स ने एक स्टडी के आधार पर यह दावा किया है। इसके मुताबिक ट्रम्प ने 72 पर्यावरण कानून बदल दिए। जबकि 27 और कानूनों को बदलने की कोशिश कर रहे हैं। इस काम के लिए ट्रम्प ने इंवायरमेंनटल प्रोटेक्शन एजेंसी का इस्तेमाल किया है। लिहाजा ओबामा काल में पावर प्लांट, गाड़ियों और ट्रकों पर कार्बन डाइ ऑक्साइड उत्सर्जन के नियमों को ट्रम्प काल में कमजोर किया गया।

देशभर के आधे से ज्यादा वेटलैंड की सुरक्षा रद्द कर दी गई। यही नहीं, पावर प्लांट पर लगी पारा के उत्सर्जन नियमों को भी हटा लिया गया। गृह विभाग ने वन्य जीव सुरक्षा कानून को भी कमजोर किया, ताकि तेल और गैस उद्योग को ज्यादा जमीन लीज पर दी जा सके।

पर्यावरण सुरक्षा संस्थान की प्रवक्ता ने कहा कि ट्रम्प ने राज्यों से किए वादे पूरे किए। जबकि हार्वर्ड लॉ स्कूल की पर्यावरण और ऊर्जा कानून की विशेषज्ञ हेना विजकारा ने कहा कि ट्रम्प प्रशासन ने जलवायु परिवर्तन की नीतियां कमजोर कर दीं। कोलंबिया यूनिवर्सिटी की विशेषज्ञ हिलेरी एडन कहती हैं कि ट्रम्प के नियम तर्क संगत नहीं है। इसलिए वे कानून कार्रवाई से घिर जाएंगे।



Download Dainik Bhaskar App to read Latest Hindi News Today
नॉर्थ कैरोलिना की रैली में ट्रम्प ने कहा कि हमेशा मास्क लगाने वाले लोग ज्यादा संक्रमित होते हैं। जबकि ट्रम्प खुद असहज दिखे।


from Dainik Bhaskar https://ift.tt/2GXD44b

Comments

Popular posts from this blog

ट्रम्प की लोकप्रियता बढ़ रही; बिडेन 43% लोगों की पसंद तो ट्रम्प को 40% लोगों का साथ, जुलाई में यह अंतर 7% से ज्यादा था

ट्रम्प मेक अमेरिका ग्रेट अगेन के नारे के साथ इस साल चुनाव जीतना चाहते हैं, जिनपिंग चीन की इमेज सुधारने की कोशिश में हैं

फ्रांस में फिर एक दिन में 14 हजार से ज्यादा मामले सामने आए, ब्रिटेन में प्रतिबंधों का विरोध; दुनिया में 3.30 करोड़ केस