ब्राजील में एक महीने बाद सबसे ज्यादा नए मामले सामने आए, अमेरिका के 6 राज्यों में हालात बिगड़े; दुनिया में 3.60 करोड़ केस

दुनिया में संक्रमितों का आंकड़ा 3.60 करोड़ से ज्यादा हो गया है। ठीक होने वाले मरीजों की संख्या 2 करोड़ 71 लाख 36 हजार 709 से ज्यादा हो चुकी है। मरने वालों का आंकड़ा 10.53 लाख के पार हो चुका है। ये आंकड़े https://ift.tt/2VnYLis के मुताबिक हैं। ब्राजील में एक महीने से संक्रमण के मामले कम हो रहे थे। लेकिन, अब यह फिर तेजी से बढ़ने लगे हैं। अमेरिका के छह राज्यों में अस्पतालों में भर्ती होने वाले मरीजों की संख्या बढ़ रही है।

ब्राजील : फिर बढ़ा संक्रमण
ब्राजील में मंगलवार को कुल 41 हजार 906 नए मामले सामने आए। 11 सितंबर के बाद यह एक दिन में सामने आए नए मरीजों का सबसे बड़ा आंकड़ा है। हेल्थ मिनिस्ट्री ने एक बयान में यह जानकारी दी है। इसी दौरान 819 लोगों की मौत भी हो गई। इसके साथ ही मरने वालों का आंकड़ा 1 लाख 47 हजार 494 हो गया है। ब्राजील सरकार ने कहा है कि देश में संक्रमण की दूसरी लहर मानकर कार्रवाई की तैयारी की जा रही है। सरकार का फोकस मुख्य रूप से स्लम एरिया में है। यहां संक्रमण के सबसे ज्यादा मामले सामने आए हैं। हालांकि, सख्त लॉकडाउन जैसे उपायों के इस्तेमाल से सरकार ने इनकार कर दिया है।

अमेरिका : 6 राज्यों में मरीज ज्यादा
न्यूज एजेंसी की एक रिपोर्ट के मुताबिक, अमेरिका के छह राज्यों में अस्पताल में भर्ती होने वाले मरीजों की संख्या तेजी से बढ़ रही है। इनमें विस्कॉन्सिन राज्य भी शामिल है। मंगलवार को यहां कुछ नए प्रतिबंध लगाए गए हैं। इनमें सार्वजनिक समारोहों में लोगों के जुटने पर कुछ पाबंदियां भी लगाई गई हैं। मिनेसोटा, नेब्रास्का, नॉर्थ डकोटा, साउथ डकोटा और व्योमिंग के अस्पतालों में मरीजों की संख्या बढ़ी है। विस्कॉन्सिन में मंगलवार को 782 मरीजों को अस्पताल में भर्ती किया गया। दो हफ्ते पहले यह संख्या 433 थी।

अमेरिका के मिलवाउकी में जगह-जगह कोरोना टेस्टिंग सेंटर बनाए गए हैं। लोग फोन करके मेडिकल टीम को घर भी बुला सकते हैं। देश के 6 राज्यों में अस्पतालों में भर्ती होने वाले मरीजों की संख्या बढ़ी है।

मॉस्को : यहां भी सख्ती
मॉस्को के स्थानीय प्रशासन ने छात्रों और बुजुर्गों के बाहर निकलने पर फिर पाबंदी लगा दी है। यहां 11 मई के बाद सबसे ज्यादा मामले सामने आए। मंगलवार को कुल 11 हजार नए मामले दर्ज किए गए। स्थानीय प्रशासन का कहना है कि फिलहाल छात्र और सीनियर सिटीजन पब्लिक ट्रांसपोर्ट का इस्तेमाल नहीं कर सकेंगे। गुरुवार को यहां हेल्थ मिनिस्ट्री की एक मीटिंग बुलाई गई है। इसमें केंद्र सरकार के अफसर भी हिस्सा लेंगे। हेल्थ मिनिस्ट्री ने साफ कर दिया है कि वैक्सीन के आने तक कई स्तर पर प्रतिबंध लगाए जा सकते हैं।

मॉस्को में मंगलवार को 11 हजार से ज्यादा नए मामले सामने आए। इसके बाद सरकार ने स्टूडेंट्स और सीनियर सिटीजन के पब्लिक ट्रांसपोर्ट इस्तेमाल करने पर रोक लगा दी। फोटो मॉस्को के एक मेडिकल सेंटर में एक मरीज की टेस्टिंग की है। (फाइल)

मैक्सिको : एक दिन में 28 हजार मामले
मैक्सिको में सोमवार को नए मामलों ने सबको हैरान कर दिया। यहां एक ही दिन 28 हजार 115 नए मामले सामने आए। इतना ही नहीं, इसी दौरान 2789 लोगों की मौत हो गई। सरकार का कहना है कि नए मामले इतनी तेजी से सामने आने के बाद अब यह जरूरी हो गया है कि कुछ पब्लिक प्लेसेस पर प्रतिबंध लगाया जाए। सरकार ने एक रिपोर्ट तैयार की है। यह रिपोर्ट डब्ल्यूएचओ को भी भेजी जाएगी। संगठन के एक्सपर्ट्स इस पर सरकार को सलाह देंगे। संभव हुआ तो एक टीम भी मैक्सिको भेजी जाएगी। सरकार ने कहा कि कुछ क्लस्टर्स की पहचान कर ली गई है।



Download Dainik Bhaskar App to read Latest Hindi News Today
ब्राजील के रियो डि जेनेरियो के एक अस्पताल में झपकी लेता डॉक्टर। 11 सितंबर के बाद ब्राजील में एक दिन सबसे ज्यादा मरीज सामने आए। 41 हजार से ज्यादा नए केस सामने आए जबकि 800 से ज्यादा लोगों की मौत हो गई।


from Dainik Bhaskar https://ift.tt/3lnICDg

Comments

Popular posts from this blog

ट्रम्प की लोकप्रियता बढ़ रही; बिडेन 43% लोगों की पसंद तो ट्रम्प को 40% लोगों का साथ, जुलाई में यह अंतर 7% से ज्यादा था

ट्रम्प मेक अमेरिका ग्रेट अगेन के नारे के साथ इस साल चुनाव जीतना चाहते हैं, जिनपिंग चीन की इमेज सुधारने की कोशिश में हैं

फ्रांस में फिर एक दिन में 14 हजार से ज्यादा मामले सामने आए, ब्रिटेन में प्रतिबंधों का विरोध; दुनिया में 3.30 करोड़ केस