पूर्व पीएम नवाज बोले- मुल्क में दो सरकारें चल रही हैं, इमरान के मंत्री ने कहा- आग से खेल रहा है विपक्ष

पाकिस्तान के पूर्व प्रधानमंत्री नवाज शरीफ ने एक बार फिर फौज और इमरान खान सरकार पर तीखा हमला बोला। लंदन में मीडिया से बातचीत के दौरान नवाज ने कहा- मेरे मुल्क के हालात कौन नहीं जानता। अब और किस सबूत की जरूरत है। देश में दो सरकारें चल रही हैं और ये दुनिया जानती है कि कौन ये सब कर रहा है। दूसरी तरफ, इमरान खान सरकार में मंत्री शिबली फराज ने विपक्षी नेताओं के संगठन पाकिस्तान डेमोक्रेटिक फ्रंट को सीधे तौर पर चेतावनी दी।

नवाज ने क्या कहा
नवाज शरीफ कुछ महीने पहले इलाज कराने लंदन गए थे। इसके बाद से वहीं पर हैं। ब्रिटेन सरकार एक बार उन्हें पाकिस्तान को सौंपने से इनकार कर चुकी है। अब इमरान सरकार ने दूसरी बार इसके लिए अपील की है। नवाज ने बुधवार शाम मीडिया से बातचीत की। कहा- लोगों को यह जानने का हक है कि सिंध के आईजीपी को किन लोगों ने अगवा किया था। ये जानने का हक है कि पाकिस्तान में दो सरकारें कैसे चल रही हैं। मेरे दामाद पर एफआईआर दर्ज कराने के लिए आप राज्य के सबसे बड़े पुलिस को अगवा करके दबाव बनाएंगे? यह ध्यान रखना होगा कि जनता ये सब देख रही है और इसका माकूल जवाब भी दिया जाएगा।

विपक्षी नेताओं को धमकी
इमरान सरकार में इन्फॉर्मेशन मिनिस्टर शिबली फराज ने विपक्षी संगठन पाकिस्तान डेमोक्रेटिक फ्रंट के नेताओं को सीधी धमकी दी। फराज ने बुधवार को मीडिया से बातचीत में कहा- विपक्ष दुश्मन के एजेंडे पर चल रहा है। यह इस मुल्क से गद्दारी है। मैं एक बार फिर पीडीएम के नेताओं को आगाह करना चाहता हूं कि वे आग से खेलना बंद करें, नहीं तो सरकार को सख्ती दिखानी पड़ेगी। हालांकि, फराज ने सिंध में आईजीपी को अगवा करने के सवाल को यह कहते हुए टाल दिया कि आर्मी चीफ इसकी जांच के आदेश दे चुके हैं।

देश में मार्शल लॉ
पीडीएम के नेता और बड़े धार्मिक गुरू मौलाना फजल उर रहमान ने कहा है कि पाकिस्तान में अघोषित तौर पर मार्शल लॉ लगा हुआ है और वक्त आने पर तमाम चीजें साफ हो जाएंगी। रहमान ने कहा- अब और किसी सबूत की जरूरत नहीं है। जो कुछ देश में चल रहा है, उसे दुनिया देख रही है और यह खतरे के संकेत हैं। ऐलान नहीं किया गया है, लेकिन हर कोई यह देख सकता है कि पाकिस्तान में इस वक्त मार्शल लॉ लगा हुआ है। अगर इमरान और उनके रहनुमाओं को कुछ गलतफहमी है तो वो इसे दिमाग से निकाल दें। ये सरकार चंद दिनों की मेहमान है।



Download Dainik Bhaskar App to read Latest Hindi News Today
नवाज शरीफ कुछ महीने से लंदन में हैं। इमरान खान सरकार ने बुधवार को ब्रिटेन सरकार को फिर लेटर लिखा। इसमें शरीफ को पाकिस्तान भेजने की मांग दोहराई गई है। (फाइल)


from Dainik Bhaskar https://ift.tt/2ThMlqg

Comments

Popular posts from this blog

ट्रम्प की लोकप्रियता बढ़ रही; बिडेन 43% लोगों की पसंद तो ट्रम्प को 40% लोगों का साथ, जुलाई में यह अंतर 7% से ज्यादा था

अमेरिका में चुनाव के दिन बाइडेन समर्थकों ने 75% और ट्रम्प सपोर्टर्स ने 33% ज्यादा शराब खरीदी

124 साल पुरानी परंपरा तोड़ेंगे ट्रम्प; मीडिया को आशंका- राष्ट्रपति कन्सेशन स्पीच में बाइडेन को बधाई नहीं देंगे