जर्मनी में 20 दिसंबर तक लॉकडाउन बढ़ाया गया, UK में 5 मई के बाद एक दिन में सबसे ज्यादा मौतें

दुनिया में बढ़ते कोरोना के कहर के बीच जर्मनी ने 20 दिसंबर तक के लिए आंशिक लॉकडाउन बढ़ा दिया है। वहीं, सोशल कॉन्टैक्ट को लेकर जारी पाबंदियों को जनवरी तक के लिए बढ़ाया जा सकता है। फेडरल स्टेट के मिनिस्टर-प्रेसिडेंट के साथ मीटिंग के बाद वर्चुअल प्रेस कॉन्फ्रेंस में चांसलर एंजेला मर्केल ने यह जानकारी दी।

उन्होंने कहा कि इस बात पर चर्चा हुई कि अगर कोरोना के नए मामलों में कमी नहीं आई, तो हम पाबंदियों को जनवरी की शुरुआत तक बढ़ा सकते हैं। जर्मनी में अब कुल 9.83 लाख कोरोना के मामले में सामने आ चुके हैं, जबकि करीब 15 हजार लोगों की इस वजह से मौत भी हो चुकी है। वहीं, यूनाइटेड किंगडम (UK) में 5 मई के बाद एक दिन में सबसे ज्यादा 696 मौतें दर्ज की गईं।

6 करोड़ से लोग आ चुके चपेट में
दुनियाभर में अब तक 6.07 करोड़ से ज्यादा लोग संक्रमण की चपेट में आ चुके हैं। इनमें 4.20 करोड़ लोग ठीक हो चुके हैं, जबकि 14.26 लाख लोगों की जान जा चुकी है। अब 1.72 करोड़ मरीज ऐसे हैं जिनका इलाज चल रहा है, यानी एक्टिव केस। ये आंकड़े https://ift.tt/2VnYLis के मुताबिक हैं।

कोरोना प्रभावित टॉप-10 देशों में हालात

देश

संक्रमित मौतें ठीक हुए
अमेरिका 11,31,37,962 2,68,219 78,05,280
भारत 92,66,697 1,35,261 86,77,986
ब्राजील 61,66,898 1,70,799 55,12,847
फ्रांस 21,70,097 50,618 1,56,552
रूस 21,62,503 37,538 16,60,419
स्पेन 16,22,632 44,037 उपलब्ध नहीं
यूके 15,57,007 56,533 उपलब्ध नहीं
इटली 14,80,874 52,028 637,149
अर्जेंटीना 13,90,388 37,714 1,217,284
कोलंबिया 12,70,991 35,860 1,174,959

आंकड़े https://ift.tt/2VnYLis के मुताबिक हैं।

UK में अब तक 56 हजार से ज्यादा मौतें
वहीं, ब्रिटेन में कोरोना की वजह से पिछले 24 घंटे में 696 मौतें दर्ज की गईं और 18 हजार 213 लोगों में संक्रमण की पुष्टि हुई। एक दिन में सबसे ज्यादा मौतों की बात करें, तो 5 मई के बाद से बुधवार को सबसे ज्यादा मौतें रिकॉर्ड की गईं। आधिकारिक आंकड़ों में इसकी जानकारी दी गई। हाल ही में कुछ वैज्ञानिकों ने चेतावनी दी थी कि क्रिसमस से पहले पाबंदियों में राहत की सरकार की प्लानिंग कोरोना की आग पर ईंधन छिड़कने का काम कर सकती है।

लंदन में कोरोना के बढ़ते मामलों के बीच लगी पाबंदियों की वजह से बंद शॉप।

ब्रिटेन में 2 लाख करोड़ रु. का टेस्ट एंड ट्रेस प्रोग्राम फेल
उधर, ब्रिटेन में 22 बिलियन डॉलर (करीब 2 लाख करोड़ रुपए) का टेस्ट एंड ट्रेस प्रोग्राम फेल होने की कगार पर है। इसमें सरकार के नुमाइंदों को 1 लाख 10 हजार लोगों तक पहुंचना था। आधिकारिक डेटा के मुताबिक, 10 में से 4 लोगों ने सेल्फ आइसोलेशन से इनकार किया। ब्रिटेन में महामारी की दूसरी लहर शुरू हो चुकी है। गार्जियन के मुताबिक, टेस्ट एंड ट्रेस प्रोग्राम ब्रिटेन के महज 58% संक्रमितों तक ही पहुंच सका।

फ्रांस चौथा सबसे प्रभावित देश
रूस को पीछे छोड़ फ्रांस कोरोना के मामले से सबसे ज्यादा प्रभावित चौथा देश बन गया है। फ्रांस में अब तक 21.70 लाख मामले सामने आ चुके हैं। 50,618 लोगों की इस महामारी की वजह से मौत हो चुकी है, जबकि 1.56 लाख लोग पूरी तरह ठीक हो चुके हैं।



Download Dainik Bhaskar App to read Latest Hindi News Today
फेडरेशन के मिनिस्टर-प्रेसिडेंट के साथ मीटिंग के बाद वर्चुअल प्रेस कॉन्फ्रेंस में फेस मास्क में नजर आईं जर्मन चांसलर एंजेला मर्केल।


from Dainik Bhaskar https://ift.tt/3pZJi53

Comments

Popular posts from this blog

चीन ने कहा- हमारा समुद्री अधिकार नियम के मुताबिक, जवाब में ऑस्ट्रेलिया बोला- उम्मीद है आप 2016 का फैसला मानेंगे

अफगानिस्तान सीमा को खोलने की मांग कर रहे थे प्रदर्शनकारी, पुलिस ने फायरिंग की; 3 की मौत, 30 घायल

रूलिंग पार्टी की बैठक में नहीं पहुंचे ओली, भारत से बिगड़ते रिश्ते के बीच इस्तीफे से बचने की कोशिश