ट्रम्प बोले- बाइडेन जीते लेकिन फेक मीडिया की नजर में, चुनाव में धांधली हुई है

जो बाइडेन भले अमेरिका की सत्ता संभालने की तैयारियां कर रहे हों, लेकिन डोनाल्ड ट्रम्प अब तक हार मानने को तैयार नहीं हैं। उन्होंने रविवार को कई ट्वीट कर चुनाव में धांधली होने की बात दोहराई। बाइडेन के लिए ट्रम्प ने कहा कि वह जीते, क्योंकि चुनाव में हेराफेरी हुई है।

ट्रम्प ने अगले ट्वी​​​​​​​ट में कहा- उन्हें जीत मिली है, लेकिन सिर्फ फेक मीडिया की नजर में। हमारी लड़ाई लंबी है। आखिर में हम जीतेंगे। हालांकि, ट्विटर ने ट्रम्प के ट्वीट्स को विवादित कैटेगरी में रखा है।

##

ट्रम्प कैम्पेन को कोर्ट का सहारा

ट्रम्प कैम्पेन ने मिशिगन और पेनसिल्वेनिया जैसे कई अहम राज्यों में चुनाव नतीजों को रद्द कराने के लिए केस दायर किए हैं। ज्यादातर जगह उन्हें नाकामी ही मिली है। एरिजोना में तो उन्होंने केस ही वापस ले लिया। इस राज्य में 24 साल बाद डेमोक्रेटिक पार्टी को जीत मिली है।

बाइडेन के पास 306 इलेक्टोरल वोट

न्यू यॉर्क टाइम्स के मुताबिक, डेमोक्रेटिक उम्मीदवार जो बाइडेन ने 538 इलेक्टोरल कॉलेज वोट में से 306 जीते हैं। ट्रम्प को 232 वोट मिले हैं। बाइडेन ने 7 करोड़ 86 लाख से ज्यादा वोट हासिल किए हैं। यह ट्रम्प के मुकाबले करीब 3 फीसदी ज्यादा हैं।

इसके साथ ही बाइडेन तीसरी कोशिश में अमेरिका के राष्ट्रपति चुने गए हैं। व्हाइट हाउस की दौड़ में उन्होंने ट्रम्प को बड़े अंतर से हराया है। कई दिन चली काउंटिंग के बाद पेनसिल्वेनिया की जीत ने उन्हें बहुमत के आंकड़े के पार पहुंचा दिया था। हालांकि, ट्रम्प ने अपनी हार स्वीकार करने से इनकार कर दिया। उन्होंने कहा कि यह कहते हुए कि चुनाव अभी खत्म नहीं हुआ है। वे इसे कोर्ट में चुनौती देंगे।



Download Dainik Bhaskar App to read Latest Hindi News Today
न्यूयॉर्क टाइम्स के मुताबिक, डेमोक्रेट जो बाइडेन ने 538 इलेक्टोरल कॉलेज वोट में से 306 जीते हैं। ट्रम्प को 232 वोट मिले हैं।


from Dainik Bhaskar https://ift.tt/32LeEm1

Comments

Popular posts from this blog

चीन ने कहा- हमारा समुद्री अधिकार नियम के मुताबिक, जवाब में ऑस्ट्रेलिया बोला- उम्मीद है आप 2016 का फैसला मानेंगे

अफगानिस्तान सीमा को खोलने की मांग कर रहे थे प्रदर्शनकारी, पुलिस ने फायरिंग की; 3 की मौत, 30 घायल

ट्रम्प की लोकप्रियता बढ़ रही; बिडेन 43% लोगों की पसंद तो ट्रम्प को 40% लोगों का साथ, जुलाई में यह अंतर 7% से ज्यादा था